पत्रकार के साथ मारपीट करने वालो को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग, पुलिस अधीक्षक के नाम ज्ञापन दिया gyapan Aajtak24 News

 

पत्रकार के साथ मारपीट करने वालो को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग, पुलिस अधीक्षक के नाम ज्ञापन दिया gyapan Aajtak24 News 

मण्डलेश्वर - मध्यप्रदेश वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन की तहसील इकाई द्वारा मण्डलेश्वर के पत्रकार विनोद भार्गव के साथ  मारपीट के एक हफ्ता से अधिक समय बीत जाने के बाद भी पुलिस द्वारा कोई कार्यवाही नही किये जाने से नाराज होकर गुरुवार एस डी एम मण्डलेश्वर अनिल जैन को पुलिस अधीक्षक के नाम ज्ञापन देकर आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की है ।ज्ञापन तहसील अध्यक्ष भरत राठौड़ के नेतृत्व में दिया गया इस अवसर पर वरिष्ठ पत्रकार महेन्द्र कुमार जैन डॉ रमेश राठौड़ राजेश पवार नीलेश जैन रामेश्वर कर्मा सुनील गाडगे अक्षय सिंह कुशवाह ताहिर कुरैशी समीर जैन  हाजी जोहर अली हाजी समीर अली जितेन्द्र तंवर जन्मेजय कुशवाह वसीम खान विनोद ढाले रविशंकर खेड़े गणेश चक्रवर्ती  जय पालनपुरे अतिश बिछवे लोकेश केवट राकेश चौहान  एवं सूरज खेड़े सहित बड़ी संख्या में मीडिया कर्मी उपस्थित थे। मध्यप्रदेश वर्किंग जर्नलिस् यूनियन के तहसील अध्यक्ष भरत राठौड ने बताया कि घटना 26 मई की रात 11 बजे की है । आज 09 दिन बीत चुके है लेकिन पुलिस ने कोई कार्यवाही नही की है इस बात को लेकर सम्पूर्ण मीडिया जगत में भय का माहौल हैं । शराब माफिया क्षेत्र में सक्रिय होकर महेश्वर और मण्डलेश्वर दोनों पवित्र नगरों में बेरोकटोक शराब बेच रहे है विरोध करने वाले   लोगो के साथ भी मारपीट की घटनाएं हो रही हैं । पत्रकार के साथ भी उस दिन जो घटना हुई उस समय पत्रकार विनोद भार्गव कवरेज के लिये ही पहुंचे थे ।मण्डलेश्वर के वार्ड नं 10 में  जिस स्थान  में अवैध शराब बिक रही थी वहाँ के निवासियों ने उस शराब दुकान का विरोध किया था । शराब माफियाओं ने वहां निवासियों को भी धमकाया था जिसकी भी दूसरे दिन रिपोर्ट हुई थी ।

अवैध शराब बेचने वालों को सप्लाई करता है आरोपी

मण्डलेश्वर में पत्रकार के साथ मारपीट करने वाला आरोपी दशरथ झाला और आकाश चौहान मूल रूप से चोली और नान्द्रा के सरकारी ठेके की शराब दुकानों से  पवित्र नगरी मण्डलेश्वर एवं महेश्वर में अवैध शराब दुकानों को शराब सप्लाई करते है ।सरकारी ठेकों से दोनों नगरों में अवैध शराब बेचने वालों की डायरी बनती है  डायरी धारक को आबकारी और पुलिस से सुरक्षा की गारंटी भी ठेकेदार की होती हैं इस व्यवस्था से ही दोनों नगरों में खुले आम शराब बिकती हैं । जिसकी शिकायत होने पर आबकारी या पुलिस अमला उस दुकान पर  पहुंचकर प्रकरण बनाता हैं लेकिन ऐसा प्रकरण जिसमे तुरन्त जमानत दे दी जाती है । पुलिस या आबकारी अमले के पहुंचने से पहले ही दुकानदार को खबर पहुंच जाती हैं और शराब की दो चार क्वाटर छोड़ कर माल हटा दिया जाता है ।

मुख्य आरोपी की दुकान का हुआ विरोध

पत्रकार के साथ मारपीट करने वाले आकाश चौहान दशरथ झाला का राइट हैंड हैं जो अवैध शराब की सरकारी दुकान से सप्लाई लाइन को कवर करता है कही भी मारपीट करने में आगे रहने वाला आकाश खुद भी एक दुकान मंडलेश्वर के वार्ड 10 में संचालित कर रहा था जिसके विरोध में नागरिकों ने थाने में शिकायत भी की थी ।इस दुकान के बन्द होने से आग बबूला होकर ही आकाश ने पत्रकार पर हमला किया था ।

पत्रकार पहुंचे थाने

एस डी एम को ज्ञापन देने के बाद मीडिया कर्मियों ने पुलिस थाने पहुंचकर प्रभारी थाना प्रभारी दीपक यादव से आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की । एस डी एम अनिल जैन ने थाना प्रभारी को आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार करने के निर्देश दिये है।


Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News