निगम प्रशासन न्यू ट्रांसपोर्ट नगर क्षेत्र के सैंकड़ों परिवारों के स्वास्थ्य से कर रहा है खिलवाड़ khilwad Aajtak24 News

 

निगम प्रशासन न्यू ट्रांसपोर्ट नगर क्षेत्र के सैंकड़ों परिवारों के स्वास्थ्य से कर रहा है खिलवाड़ khilwad Aajtak24 News 

रायगढ़ -  डेंगू रायगढ़ का केंद्र बना हुआ है पिछले कुछ वर्षो से रायगढ़ डेंगू के बढ़ते मामले के लिए पूरे प्रदेश में शुमार हो गया है। प्रतिवर्ष नगर में डेंगू की समस्या लगातार गहराती ही जा रही है। पिछले वर्षों में लगातार बढ़ रहे डेंगू के आंकड़ों से लोग भयभित हैं। चूंकि डेंगू ने शहर के कई युवा और नामचीन लोगों को अपने चपेट में लेकर उनका हँसता खेलता जीवन समाप्त कर दिया था। जिसके बाद से डेंगू का खौफ पैदा हो गया है। आमतौर पर बारिश के मौसम में सामने आने वाले डेंगू के मामले अब गर्मी के मौसम में भी आने लगे है  यही हाल  हाल रहा तो आने वाले बरसात में डेंगू की समस्या बढ़ने का अंदाजा लगाया जा सकता है विदित हो हाल ही में न्यू ट्रांसपोर्ट नगर और ग्राम पंचायत सांगीतराई के डीपापारा में कई लोगों को डेंगू पॉजिटिव पाया गया जिसमें कई लोगों का इलाज शासकीय मेडिकल कॉलेज और कई लोगों का अलग- अलग निजी अस्पतालों में इलाज चल रहा है। अन्य वर्षो की तरह समय रहते डेंगू के बढ़ते मामले को रोका नहीं गया तो जिला प्रशासन सहित आमजन के लिए यह सर दर्द बन सकता है डेंगू से पीड़ित कुछ लोगों को स्वास्थ्य लाभ होने पर अस्पताल से छुट्टी भी हो गई है लेकिन अभी भी डेंगू के कई मरीज अस्पतालों में भर्ती है नगर ही नहीं बल्कि अब तो शहर के सीमावर्ती ग्रामीण क्षेत्रों में भी डेंगू अपने पैर पसार रहा है नगर में हर वर्ष डेंगू के मामले बढ़ते जा रहे हैं शहर के न्यू ट्रांसपोर्ट नगर और सांगीतराई के मध्य कई लोगों को डेंगू होने के मामले सामने आने के बाद क्षेत्र में हड़कंप मचा हुआ है।  डेंगू मरीजों ने बताया कि स्वास्थ्य में परिवर्तन होने के साथ डेंगू का लक्षण दिखने के बाद जांच किया गया जिसमें डेंगू पॉजिटिव की जानकारी प्राप्त हुई क्षेत्र में कई लोगों को हुए डेंगू जिसपर कुछ लोग प्राइवेट हॉस्पिटल में अपना - उपचार करवा रहे हैं। डेंगू पीड़ितो का कहना है कि न्यू ट्रांसपोर्ट नगर में निगम द्वारा शहर का पूरा कचरा यहां फेकवाया जा रहा है जिससे वहां की स्थिति दयनीय हो गई है हर दिन बदबूदार कचरा सड़ रहा है जिसे शाम होते ही जलाया जाता है जिस कारण पूरे क्षेत्र में जहरीला धूआ उड़ रहा है कहा जा रहा है कि इसी कचरे के ढेर से डेंगू पनप रहा है बड़ी संख्या में डेंगू के बढ़ते मामले का मुख्य कारण भी न्यू ट्रांसपोर्ट नगर क्षेत्र के कचरे को ही माना जा रहा है। इसपर लोगों ने कहा कि कई मर्तबा निगम प्रशासन को इसकी जानकारी दी गई है लेकिन निगम प्रशासन अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहा है। शहर से कचरा इकट्ठा कर यहां लाकर डाला जा रहा है। बता दें ग्राम पंचायत सांगीतराई शहर से बिल्कुल लगा हुआ है इस भरे गर्मी के बीच यहां पिछले दो महीनों में हर हफ्ते दो चार डेंगू के मामले सामने आए हैं इसका मतलब यह है कि बरसात में इसका भयंकर रूप देखा जा सकता है।  विदित हो कि बस स्टेंड चौक पर टायर की कई दुकानें हैं इन दुकानों के पीछे पुराने टायर रखे गए हैं भविष्य में यहां भी डेंगू पनप सकते हैं इनकी लापरवाही पर अंकुश लगाने की आवश्यकता है। लोगों का मानना है कि न्यू ट्रांसपोर्ट नगर में फेके जा रहे कचरे से ही डेंगू पनप रहा है इसपर निगम प्रशासन को जल्द ही विचार कर कचरा डंप के इस स्थान को परिवर्तन करना चाहिए। डेंगू पीड़ित लोगों ने बताया कि बड़े मुश्किल से स्वास्थ्य में सुधार हुआ है उन्होंने कहा कि अच्छा हुआ उचित समय पर डेंगू होने की पुष्टि हो गई जिस कारण समय रहते इलाज करवा लिया गया।  निगम क्षेत्र के सीमावर्ती में डेंगू के चपेट में आए लोगों में  सारणती भारती , प्रवीण कुमार, कमल किशोर ,  भुनंदन , मिनकेतन साहू , दुर्गेश साहू, नंदन कुमार , सुकबार , नितेश साहू , नूतन,  विराज , कृष्णा सिदार , रानी सिदार, अमन सिदार डेंगू से पीड़ित हुए हैं यहां डेंगू ने पांच वर्ष के बच्चों से लेकर 37 वर्ष तक के लोगों को अपने चपेट में लिया है।  इस मामले पर निगम प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की खुले तौर पर लापरवाही झलक रही है अगर इसी तरह प्रशासन सुस्त रहा तो आने वाले समय में डेंगू के मामले और भी बढ़ सकते हैं। 

(ग्राम पंचायत की सफाई व्यवस्था पर भी कई सवाल) 

चूंकि न्यू ट्रांसपोर्ट नगर क्षेत्र ग्राम पंचायत सांगीतराई से जुड़ा हुआ है ऐसे में निगम के साथ - साथ पंचायत पर भी  सवाल खड़े हो रहे हैं। बताया जा रहा है क्षेत्र में डेंगू पॉजिटिव केस की जानकारी स्वास्थ्य विभाग को दी गई थी  लेकिन उन्होंने यहां पहुंचने में काफी लेट कर दिया जिस कारण डेंगू के केस बढ़ते ही चले गए एक दो केस निकलने पर ही यहां स्वास्थ्य विभाग सक्रिय हो जाता तो शायद डेंगू के केस में कमी आ सकती थी।  प्राप्त जानकारी अनुसार अभी भी कुछ लोगों को इलाज मेडिकल कॉलेज में जारी है। इस क्षेत्र के आम जनता और पार्षदों ने निगम प्रशासन से क्षेत्र में कचरा ना फेकने की विनती कई बार की गई है लेकिन इसके बावजूद निगम अपनी ऐठ में मस्त हैं।  ना जाने निगम प्रशासन को यहां कचरा फेकने से क्या लाभ हो रहा है यह तो निगम ही समझ पाएगा।  शाम होते ही उक्त कचरे को जलाया जाता है जिससे क्षेत्र में जहरीले धुआं के रूप में फैल रहा है। इससे लोगों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है। इसका ताजा उदाहरण यही है कि न्यू ट्रांसपोर्ट नगर क्षेत्र में अचानक डेंगू का प्रकोप बढ़ गया है।  पर्यावरण क्षेत्रीय अधिकारी से पूछे जाने पर उनका साफ- साफ कहना है कि निगम प्रशासन और ठेकेदारों ने न्यू ट्रांसपोर्ट नगर में कचरा डंप करने की किसी प्रकार से कोई अनुमति नहीं ली गई है।  उक्त समाचार जारी करने से  पहले  दैनिक "आज तक 24"  अखबार के पत्रकार ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से मोबाईल पर संपर्क करने का प्रयास किया गया लेकिन उन्होंने फोन नही उठाया।



nigam prashaasan nyoo traansaport nagar kshetr ke sainkadon parivaaron ke svaasthy se kar raha hai khilavaad
raayagadh - dengoo raayagadh ka kendr bana hua hai pichhale kuchh varsho se raayagadh dengoo ke badhate maamale ke lie poore pradesh mein shumaar ho gaya hai. prativarsh nagar mein dengoo kee samasya lagaataar gaharaatee hee ja rahee hai. pichhale varshon mein lagaataar badh rahe dengoo ke aankadon se log bhayabhit hain. choonki dengoo ne shahar ke kaee yuva aur naamacheen logon ko apane chapet mein lekar unaka hansata khelata jeevan samaapt kar diya tha. jisake baad se dengoo ka khauph paida ho gaya hai. aamataur par baarish ke mausam mein saamane aane vaale dengoo ke maamale ab garmee ke mausam mein bhee aane lage hai yahee haal haal raha to aane vaale barasaat mein dengoo kee samasya badhane ka andaaja lagaaya ja sakata hai vidit ho haal hee mein nyoo traansaport nagar aur graam panchaayat saangeetaraee ke deepaapaara mein kaee logon ko dengoo pojitiv paaya gaya jisamen kaee logon ka ilaaj shaasakeey medikal kolej aur kaee logon ka alag- alag nijee aspataalon mein ilaaj chal raha hai. any varsho kee tarah samay rahate dengoo ke badhate maamale ko roka nahin gaya to jila prashaasan sahit aamajan ke lie yah sar dard ban sakata hai dengoo se peedit kuchh logon ko svaasthy laabh hone par aspataal se chhuttee bhee ho gaee hai lekin abhee bhee dengoo ke kaee mareej aspataalon mein bhartee hai nagar hee nahin balki ab to shahar ke seemaavartee graameen kshetron mein bhee dengoo apane pair pasaar raha hai nagar mein har varsh dengoo ke maamale badhate ja rahe hain shahar ke nyoo traansaport nagar aur saangeetaraee ke madhy kaee logon ko dengoo hone ke maamale saamane aane ke baad kshetr mein hadakamp macha hua hai. dengoo mareejon ne bataaya ki svaasthy mein parivartan hone ke saath dengoo ka lakshan dikhane ke baad jaanch kiya gaya jisamen dengoo pojitiv kee jaanakaaree praapt huee kshetr mein kaee logon ko hue dengoo jisapar kuchh log praivet hospital mein apana - upachaar karava rahe hain. dengoo peedito ka kahana hai ki nyoo traansaport nagar mein nigam dvaara shahar ka poora kachara yahaan phekavaaya ja raha hai jisase vahaan kee sthiti dayaneey ho gaee hai har din badaboodaar kachara sad raha hai jise shaam hote hee jalaaya jaata hai jis kaaran poore kshetr mein jahareela dhooa ud raha hai kaha ja raha hai ki isee kachare ke dher se dengoo panap raha hai badee sankhya mein dengoo ke badhate maamale ka mukhy kaaran bhee nyoo traansaport nagar kshetr ke kachare ko hee maana ja raha hai. isapar logon ne kaha ki kaee martaba nigam prashaasan ko isakee jaanakaaree dee gaee hai lekin nigam prashaasan apanee aadaton se baaj nahin aa raha hai. shahar se kachara ikattha kar yahaan laakar daala ja raha hai. bata den graam panchaayat saangeetaraee shahar se bilkul laga hua hai is bhare garmee ke beech yahaan pichhale do maheenon mein har haphte do chaar dengoo ke maamale saamane aae hain isaka matalab yah hai ki barasaat mein isaka bhayankar roop dekha ja sakata hai. vidit ho ki bas stend chauk par taayar kee kaee dukaanen hain in dukaanon ke peechhe puraane taayar rakhe gae hain bhavishy mein yahaan bhee dengoo panap sakate hain inakee laaparavaahee par ankush lagaane kee aavashyakata hai. logon ka maanana hai ki nyoo traansaport nagar mein pheke ja rahe kachare se hee dengoo panap raha hai isapar nigam prashaasan ko jald hee vichaar kar kachara damp ke is sthaan ko parivartan karana chaahie. dengoo peedit logon ne bataaya ki bade mushkil se svaasthy mein sudhaar hua hai unhonne kaha ki achchha hua uchit samay par dengoo hone kee pushti ho gaee jis kaaran samay rahate ilaaj karava liya gaya. nigam kshetr ke seemaavartee mein dengoo ke chapet mein aae logon mein saaranatee bhaaratee , praveen kumaar, kamal kishor , bhunandan , minaketan saahoo , durgesh saahoo, nandan kumaar , sukabaar , nitesh saahoo , nootan, viraaj , krshna sidaar , raanee sidaar, aman sidaar dengoo se peedit hue hain yahaan dengoo ne paanch varsh ke bachchon se lekar 37 varsh tak ke logon ko apane chapet mein liya hai. is maamale par nigam prashaasan aur svaasthy vibhaag kee khule taur par laaparavaahee jhalak rahee hai agar isee tarah prashaasan sust raha to aane vaale samay mein dengoo ke maamale aur bhee badh sakate hain. (graam panchaayat kee saphaee vyavastha par bhee kaee savaal) choonki nyoo traansaport nagar kshetr graam panchaayat saangeetaraee se juda hua hai aise mein nigam ke saath - saath panchaayat par bhee savaal khade ho rahe hain. bataaya ja raha hai kshetr mein dengoo pojitiv kes kee jaanakaaree svaasthy vibhaag ko dee gaee thee lekin unhonne yahaan pahunchane mein kaaphee let kar diya jis kaaran dengoo ke kes badhate hee chale gae ek do kes nikalane par hee yahaan svaasthy vibhaag sakriy ho jaata to shaayad dengoo ke kes mein kamee aa sakatee thee. praapt jaanakaaree anusaar abhee bhee kuchh logon ko ilaaj medikal kolej mein jaaree hai. is kshetr ke aam janata aur paarshadon ne nigam prashaasan se kshetr mein kachara na phekane kee vinatee kaee baar kee gaee hai lekin isake baavajood nigam apanee aith mein mast hain. na jaane nigam prashaasan ko yahaan kachara phekane se kya laabh ho raha hai yah to nigam hee samajh paega. shaam hote hee ukt kachare ko jalaaya jaata hai jisase kshetr mein jahareele dhuaan ke roop mein phail raha hai. isase logon ke svaasthy par bura asar pad raha hai. isaka taaja udaaharan yahee hai ki nyoo traansaport nagar kshetr mein achaanak dengoo ka prakop badh gaya hai. paryaavaran kshetreey adhikaaree se poochhe jaane par unaka saaph- saaph kahana hai ki nigam prashaasan aur thekedaaron ne nyoo traansaport nagar mein kachara damp karane kee kisee prakaar se koee anumati nahin lee gaee hai. ukt samaachaar jaaree karane se pahale dainik "aaj tak 24" akhabaar ke patrakaar ne mukhy chikitsa evan svaasthy adhikaaree se mobaeel par sampark karane ka prayaas kiya gaya lekin unhonne phon nahee uthaaya.

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News