मंत्री श्री कावरे मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के समनापुर एवं चरेगांव शिविर में हुए शामिल | mantri shree kavre mukhyamantri

 मंत्री श्री कावरे मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के समनापुर एवं चरेगांव शिविर में हुए शामिल !

मंत्री श्री कावरे मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के समनापुर एवं चरेगांव शिविर में हुए शामिल | mantri shree kavre mukhyamantri


बालाघाट (देवेंद्र खरे )ग्रामीणों को योजनाओं की जानकारी देने के साथ ही हितग्राहियों से किया संवाद

मध्यप्रदेश शासन के आयुष मंत्री श्री रामकिशोर “नानो” कावरे आज 13 अक्टूबर को बालाघाट तहसील के ग्राम समनापुर एवं चरेगांव में मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान के अंतर्गत आयोजित शिविरों में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने ग्रामीणों को शासन की योजनाओं की जानकारी भी दी और हितग्राहियों से सीधा संवाद किया। इन शिविरों में सभी विभागों के खंड स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे। शिविर में योजनाओं का लाभ लेने के लिए आवेदकों द्वारा आवेदन भी प्रस्तुत किये गये। इन शिविरों में कलेक्टर डॉ गिरीश कुमार मिश्रा, जनपद पंचायत अध्यक्ष श्री फूलचंद सहारे, उपाध्यक्ष डॉ शंकरलाल बिसेन,एसडीएम श्री संदीप सिंह, जनपद पंचायत के सीईओ श्री गायत्री कुमार सारथी, नायब तहसीलदार, सहायक आपूर्ति अधिकारी श्री सुनील किरार एवं अन्य विभागों के खंड स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।



आयुष मंत्री श्री कावरे ने मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान में उपस्थित ग्रामीणों से दो टूक शब्दों में कहा कि मैं इन शिविरों में भाषण देने नहीं आया हूं, बल्कि ग्रामीणों से सीधा संवाद कर यह पता करने आया हूं कि शासन की योजनाओं का लाभ पात्र लोगों को मिल रहा है या नहीं। मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान कोई योजना नहीं है, बल्कि यह एक अभियान है, जो 17 सितम्बर से प्रारंभ हुआ है और 31 अक्टूबर 2022 तक चलेगा। सरकार आम जन के कल्याण के लिए योजनाओं बनाती है। इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए पात्र लोगों को सरकारी दफ्तारों के चक्कर न लगाना पड़े, बल्कि सरकारी अमला पात्र हितग्राही को उसके घर पहुंच कर योजना का लाभ दे, यही इस अभियान का मकसद है। इस अभियान में 38 योजनाओं को शामिल किया गया है। मंत्री श्री कावरे ने शिविर में कहा कि इस अभियान के अंतर्गत घर-घर जाकर सर्वे का कार्य किया गया है और योजनाओं के लाभ से वंचित लोगों का पता लगाया गया है। ऐसे लोगों की पात्रता होने पर उन्हें योजना का लाभ दिलाया जायेगा और कोई दस्तावेज नहीं होगा तो वह भी बनाकर दिया जायेगा। सभी ग्राम पंचायतों में पंचायत सचिव एक रजिस्टर बनाये और उसमें गांव के सभी लोगों के नाम लिखे कि उन्हें किन-किन योजनाओं का लाभ मिल रहा है। यदि किसी व्यक्ति को योजना का लाभ नहीं मिल रहा है तो रजिस्टर में उसके अपात्र होने के कारण भी लिखा जाये। इस अभियान के बाद वे जब भी गांव में आयेंगें तो उन्हें किसी भी व्यक्ति का आवेदन नहीं मिलना चाहिए कि उसे अमुक योजना का लाभ नहीं मिला। ऐसी स्थिति आने पर जिम्मेदार व्यक्ति पर सख्त कार्यवाही की जायेगी। शिविरों में प्राप्त आवेदनों को पोर्टल पर अनिवार्य रूप से दर्ज करें। जिससे सभी को पता चल सके कि इस अभियान में प्राप्त आवेदनों पर क्या कार्यवाही हुई।

आयुष मंत्री श्री कावरे ने शिविर में मुख्यमंत्री कल्याणी विवाह सहायता योजना की जानकारी देते हुए बताया कि कम आयु की युवती के विधवा होने पर यदि वह पुन: विवाह करती है तो ऐसी विधवा युवती का घर बसाने के लिए शासन की ओर से 02 लाख रुपये की सहायता राशि प्रदान की जाती है। उन्होंने शिविर में अधिकारियों को मंच बुलाकर उनसे दिव्यांग छात्रवृत्ति, नि:शक्त पेंशन, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन, नि:शक्त विवाह सहायता योजना, उज्जवला योजना, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना, लाड़ली लक्ष्मी योजना, खाद्यान्न पर्ची, प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, अटल पेंशन यारेजना की जानकारी ग्रामीणों को दिलवायी और कहा कि यदि किसी पात्र व्यक्ति को इसका लाभ नहीं मिल रहा है तो अभी शिविर में आवेदन कर दें।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

कुल देवी देवताओं के प्रताप से होती है गांव की समृद्धि smradhi Aajtak24 News