आँगनवाड़ीकेंद्र में बच्चों के साथ मनाएँ जन्म-दिन: मुख्यमंत्री श्री चौहान | Anganwadi kendr main bachcho ke sath manae janm din

आँगनवाड़ीकेंद्र में बच्चों के साथ मनाएँ जन्म-दिन: मुख्यमंत्री श्री चौहान

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में चौथी बार मध्यप्रदेश देश में प्रथम

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कुपोषण समाप्ति के प्रयासों में सफलता के लिए दी बधाई

महिला एवं बाल विकास विभाग की योजनाओं की हुई समीक्षा

आँगनवाड़ीकेंद्र में बच्चों के साथ मनाएँ जन्म-दिन: मुख्यमंत्री श्री चौहान

दमोह (अरविंद जैन) - मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अमल में मध्यप्रदेश 30 लाख से अधिक हितग्राहियों के पंजीयन, 1294 करोड़ की राशि वितरण और वर्तमान वित्त वर्ष में अगस्त माह तक 2 लाख 26 हजार 306 हितग्राहियों को लाभान्वित कर देश में अव्वल है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए महिला बाल विकास विभाग को बधाई दी है। मध्यप्रदेश लगातार चौथे वर्ष इस योजना में वर्ष 2021-22 के लिए राष्ट्रीय स्थान पर प्रथम स्थान पर है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि महिला एवं बाल विकास विभाग किए गए नवाचारों और उपलब्धियों की ब्रांडिंग कर जनता तक इन कार्यों का संदेश पहुँचाएँ।

            मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिस तरह जन्म-दिवस और विवाह वर्षगाँठ पर पौधा लगाने का आव्हान किया गया है, उसी तरह आँगनवाड़ी केंद्र में जा कर बच्चों के साथ मिष्ठान वितरण और भोजन ग्रहण करने का कार्य नागरिक बंधु कर सकते हैं। इसके लिए विभाग द्वारा भी प्रयास किए जाएँ। बैठक में 'एडॉप्ट एन आँगनवाड़ी' की समीक्षा के दौरान बताया गया कि मुख्यमंत्री श्री चौहान की पहल पर आँगनवाड़ी केंद्रों के लिए प्रदेश में खिलौने, अन्य सामग्री सहित 25 करोड़ का जन-सहयोग मिला है। अधो-संरचना के कार्यों की पहल हुई है। आँगनवाड़ी केंद्रों के लिए आउटडोर खेल सामग्री झूला और फिसलपट्टी आदि का प्रदाय हुआ है। डेढ़ हजार से अधिक केंद्र का आदर्श आँगनवाड़ी केंद्र के रूप में उन्नयन किया गया है। बच्चों के लिए जूते-चप्पल और स्वच्छता किट का भी प्रदाय हुआ है।

            मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में प्रथम प्रसव की पात्र गर्भवती महिला और धात्री माता को 5 हजार रूपए की राशि और द्वितीय प्रसव में बालिका के जन्म पर शिशुवती माता को 6 हजार रूपए की राशि दिलवाने का कार्य प्राथमिकता से किया गया है। योजना में लगभग 80 लाख आवेदनों की मंजूरी एक उपलब्धि है। इसी प्रकार कम वजन वाले बच्चों का कुपोषण कम करने के प्रयासों में भी मध्यप्रदेश देश में सबसे आगे है।

*80 लाख से अधिक विजिटर्स के साथ बनी सर्वाधिक लोकप्रिय*

*आपके जिले व ग्राम में दैनिक आजतक 24 की एजेंसी के लिए सम्पर्क करे - 8827404755*

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

कुल देवी देवताओं के प्रताप से होती है गांव की समृद्धि smradhi Aajtak24 News