पुलिस एवं राजस्व विभाग के सहयोग से शिविर लगाकर जागरूक करें | Police evam rajasv vibhag se sahyog se shivir lagakar jagruk kare

पुलिस एवं राजस्व विभाग के सहयोग से शिविर लगाकर जागरूक करें

पुलिस एवं राजस्व विभाग के सहयोग से शिविर लगाकर जागरूक करें

शाजापुर (मनोज हांडे) - जिन ग्रामों में जाति को लेकर आपसी विवाद ज्यादा हो रहे हैं, ऐसे ग्रामों पर फोकस कर पुलिस एवं राजस्व विभाग के सहयोग से शिविर लगाकर सामाजिक समरसता का वातावरण निर्मित करने के लिए जागरूक करें। उक्त निर्देश कलेक्टर श्री दिनेश जैन ने अनुसूचित जाति- जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत गठित जिला स्तरीय समिति की बैठक में जिला संयोजक श्रीमती निशा मेहरा को दिये।

इस अवसर पर जिला संयोजक श्रीमती मेहरा ने बताया कि जिले में अनुसूचित जाति के राहत के कुल 96 प्रकरण हैं, जिसमें से 82 को राशि स्वीकृत की गई है। इसी तरह अनुसूचित जनजाति के कुल 14 मामले हैं, जिनका शतप्रतिशत प्रकरणों का निराकरण हो गया है। कलेक्टर ने अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत दर्ज प्रकरणों में पीड़ितों को दी जाने वाली राहत राशि के वितरण के मामले में सावधानी बरतने तथा वास्तविक हितग्राहियों को ही राशि प्रदान करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने अजाक थाना निरीक्षक को निर्देश दिये कि अत्याचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत पीड़ितों को यात्रा भत्ता, मजदूरी, भोजन, फीस आदि की प्रतिपूर्ति समय पर करवाएं।

बैठक में अजाक निरीक्षक श्री एम.एल. पंवार एवं अशासकीय सदस्य श्री बद्रीलाल मालवीय, श्री विक्रम मालवीय एवं श्री मुकेश चौहान भी उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments