आनंद विभाग द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय वृद्ध दिवस पर 99 वर्षीय श्री अमृतलाल 'अमृत' का अभिनंदन | Anand vibhag dvara antarrashtriya vradh divas pr 99 varshiy shri amritlal

आनंद विभाग द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय वृद्ध दिवस पर 99 वर्षीय श्री अमृतलाल 'अमृत' का अभिनंदन

आनंद विभाग द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय वृद्ध दिवस पर 99 वर्षीय श्री अमृतलाल 'अमृत' का अभिनंदन

उज्जैन (रोशन पंकज) - गांधी जीवन व आदर्श देश की हर पीढ़ी को कर्तव्य पथ पर चलने के लिए प्रेरित करता रहेगा। उनका जीवन सर्वकल्याण का संदेश देता है साथ ही विश्व के प्रत्येक मानव की बेहतरी के लिए कार्य करने की प्रेरणा है। गांधी जी के आदर्श आत्मसात कर ही आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना को साकार किया जा सकता है। उनके विचार सदैव हमारा मार्गदर्शन करते रहेंगे। यह उदगार वयोवृद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानी श्री अमृतलाल अमृत ने बुलंद आवाज़ में कहे। उन्होंने कहा युवाओं का जोश आज भी आज़ादी चाहने वाले युवाओं जैसा ही है, इसको बनाएं रखने के लिए पूरे जीवन के लिए होसलों की उड़ान को, परिवार के महत्त्व को और सादगी पूर्ण जीवन शैली को बनाए रखने की जरूरत है।

राज्य आनंद संस्थान, उज्जैन जिला इकाई द्वारा आज़ादी के अमृत महोत्सव और अंतर्राष्ट्रीय वृद्ध दिवस 1 अक्टूबर पर आयोजित कार्यक्रमों की श्रंखला में  99 वर्षीय स्वतंत्रता संग्राम सेनानी श्री अमृतलाल अमृत को प्रशस्ति पत्र भेंट कर जीवन भर उनके समर्पण के लिए  सम्मानित किया गया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि उज्जैन आनंद विभाग की नोडल अधिकारी एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सुश्री अंकिता धाकरे थी। कार्यक्रम के सूत्रधार आनंद विभाग के जिला समन्वयक डॉ. प्रवीण जोशी थे, उन्होने बताया कि, कार्यकम में 50 से अधिक आनंदक उपस्थित थे जिनमें प्रमुख रूप से आनंदक श्री सी.पी.जोशी, डॉ. स्वामीनाथ पाण्डेय, श्रीमती संध्या ठाकरे, श्रीमती ममता कटारिया, डॉ. सुमन जैन, श्रीमती प्रभा बैरागी, श्री प्रवीण पंडया, श्री राजेश शर्मा, श्री विजयेन्द्र सिंह आरोण्या, श्री भूषण गर्गे, श्री ललित नागर, श्री भरत कुमावत, श्री अंकित शर्मा, श्री तूफान सिंह, उपस्थित थे। आभार जिला पंचायत आनंद विभाग प्रभारी श्री विजय खांडेकर ने माना।

Post a Comment

0 Comments