गौशाला की महिलाएं बना रही गणेश की प्रतिमा | Goshala ki mahilaye bana rhi ganesh ki pratima

गौशाला की महिलाएं बना रही गणेश की प्रतिमा

सागर - जिले में शाहगढ़ विकासखंड की ग्राम बरायठा में गौशाला संचालक समूह रामराजा सहायता समूह की महिलाओं ने प्रधानमंत्री के वक्तव्य को साकार करते हुए की आपदा में हमें अवसर तलाशना है पहले रक्षाबंधन के समय मेहंदी कोन बनाकर भेजें और अब आने वाले गणेश उत्सव की तैयारी मे आने वाले गणेश उत्सव के लिए इन महिलाओं ने गोबर और मिट्टी से मिलाकर सांचे में डालते हुए गणेश प्रतिमाओं का निर्माण प्रारंभ कर दिया है । इनके द्वारा निर्मित की जाने वाली यह प्रतिमाएं इको फ्रेंडली है इसमें किसी भी प्रकार के नुकसान के रंगो मैं यह केमिकल का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है । श्रीमती रजनी पटेल जो इस समूह के अध्यक्ष हैं ने बताया कि हम समूह की आठ नौ महिलाएं गणेश प्रतिमाएं तैयार कर रहे हैं यह प्रतिमाएं गणेश जी के उत्सव प्रारंभ होते ही बिक्री के लिए रख दी जावेगी । कलेक्टर श्री सिंह ने मंशा व्यक्त की थी कि गौशालाओं को अतिरिक्त आमदनी कमाने के लिए अन्य व्यवसाय से भी जोड़ा जाना है उनकी इस मंशा को साकार करते हुए इन महिलाओं ने यह नया कदम उठाया है । जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉक्टर इच्छित गढ़पाले का कहना है कि गौशाला समूह निष्ठा पूर्वक तत्परता से अपने काम को गौ सेवा के दायित्व का निर्वहन कर रहे हैं मुझे खुशी है कि इन समूहों ने यह नया काम शुरू कर समूह की अन्य बहनों को भी रोजगार दिया है । कलेक्टर श्री दीपक सिंह का कहना है कि महिलाओं ने इस आयाम में काम शुरू कर अवसर को पहचानने की क्षमता का का परिचय दिया है मुझे उम्मीद है कि यह महिलाएं जो कल तक मजदूर कहलाती हैं अब मालिकाना हक की दिशा में आगे बढ़ना प्रारंभ कर चुकी है ।

Post a Comment

0 Comments