मुख्यमंत्री की जनदर्शन यात्रा का भव्य स्वागत | Cm ki jandarshan yatra ka bhavya swagat

मुख्यमंत्री की जनदर्शन यात्रा का भव्य स्वागत

मुख्यमंत्री की जनदर्शन यात्रा का भव्य स्वागत

सतना - मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान रविवार को शिवराजपुर की आम सभा के बाद शिवराजपुर से सिंहपुर रोड की 9 ग्राम पंचायतों के जनदर्शन कार्यक्रम में शामिल हुए। मुख्यमंत्री श्री चौहान खुली जीप में प्रभारी मंत्री डॉ कुंवर विजय शाह, खनिज साधन मंत्री बृजेंद्र प्रताप सिंह, पंचायत एवं ग्रामीण विकास राज्यमंत्री रामखेलावन पटेल, सांसद गणेश सिंह, जिलाध्यक्ष नरेंद्र त्रिपाठी के साथ सड़क मार्ग के ग्रामों में ग्रामीण जनों से आत्मीय बातचीत की और योजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में जानकारी ली। शिवराजपुर से प्रारंभ होकर जनदर्शन यात्रा पहले पड़ाव पर ग्राम दुआरी पहुंची। जहां ग्रामीण जनों ने पुष्पाहार, दीप-कलश से मुख्यमंत्री का स्वागत किया। जनदर्शन यात्रा बिलौंधा, पिपरी, देवरी ग्राम के पश्चात ग्राम आमा पहुंची। जहां मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जन-संवाद किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि चकदही बांध का परीक्षण कराया जाएगा और सिंचाई क्षमता अनुकूल होने पर स्वीकृत किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने आमा गांव में महिलाओं से पूछा कि पीने का पानी कहां से आता है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार वर्ष 2024 तक घर-घर नल का जल पहुंचाने के लिए संकल्पबद्व है। ग्राम नोनगरा के जनदर्शन में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आगामी प्रदेश व्यापी टीकाकरण अभियान में 17 सितंबर को नोनगरा में भी वैक्सीनेशन सेंटर बनाकर सब का टीकाकरण कराएं। ग्राम पनगरा के जनदर्शन में स्व-सहायता समूह की महिलाओं से बातचीत की और स्व-सहायता समूहों को स्कूल ड्रेस का कार्य दिलाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। पनगरा में पानी की टंकी और लाइन कार्य में विलंब पर मुख्यमंत्री ने कहा कि एक सप्ताह के भीतर पानी की टंकी का काम पूरा हो जाना चाहिए। ग्राम में खाद्यान्न वितरण, राशन आदि की समस्या नहीं पाई गई। मुख्यमंत्री ने ग्राम में शौचालय निर्माण की शिकायतों पर जांच कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ग्राम की आबादी 3500 है, इसलिए यहां हायर सेकेंडरी स्कूल खोलने पर गंभीरता से विचार करेंगे।

खाबर गांव के पास जनदर्शन में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आदिवासी बस्ती से मुख्य मार्ग तक एक किलोमीटर सड़क सुदूर संपर्क योजना से स्वीकृत करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि खाबर गांव के आदिवासी भाई-बहनों को प्रधानमंत्री आवास प्लस योजना के तहत सर्वे कर लाभान्वित करें। मुख्यमंत्री ने 16 सितंबर को तहसीलदार की उपस्थिति में राजस्व शिविर लगाकर काबिज जमीन का अधिकार पत्र और पात्रता पर्ची तथा बीपीएल सूची में आदिवासी ग्रामीणों के नाम जोड़ने के निर्देश दिए।  जनदर्शन के ग्राम रौंड़ के पड़ाव में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि 17 सितंबर को रौंड़ में वैक्सीनेशन सेंटर बनाकर सभी पात्र ग्रामीणों का शत-प्रतिशत टीकाकरण कराएं। उन्होंने जल संसाधन के अधिकारियों को रौंड़ नाले पर सर्वे कर बांध बनाने का प्रस्ताव तैयार करने और गोंडा बांध की मरम्मत कराने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि रौंड़ बाबा का स्थान है। इसका जीर्णोद्धार किया जाएगा और रौंड़ बाबा के धार्मिक स्थल को नया स्वरूप दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि रौंड़ में पेयजल स्रोत का पता लगाने टीम भेजी जाएगी और 2 किलोमीटर में स्रोत मिलने पर पेयजल की आपूर्ति कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि शिविर लगाकर रौंड़ ग्राम में आयुष्मान कार्ड भी बनाएं। रौंड़ की गौशाला को आदर्श गौशाला बनाने की दिशा में भी कार्य होंगे। जनदर्शन यात्रा के नारायणपुर ग्राम में पड़ाव के दौरान मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रौंड़ पंचायत में शामिल नारायणपुर ग्राम को नया राजस्व ग्राम बनाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि पुरुषोत्तमपुर की 800 मीटर सड़क भी बनाई जाएगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान की जनदर्शन यात्रा का भैहाई और अंतिम पड़ाव सिंहपुर के प्रवेश द्वार पर ग्रामीण जनों द्वारा भव्य स्वागत किया गया।

Post a Comment

0 Comments