वेध दस्तावेज यदि किसान प्रस्तुत करेंगे तो मंडी भुगतान के लिए प्रतिबद्ध | Vaidh dastavej yadi kisan prastut karenge to mandi bhugtan ke liye pratibaddh

वेध दस्तावेज यदि किसान प्रस्तुत करेंगे तो मंडी भुगतान के लिए प्रतिबद्ध

मामला 108 किसानों से हुई करोडों की ठगी का

वेध दस्तावेज यदि किसान प्रस्तुत करेंगे तो मंडी भुगतान के लिए प्रतिबद्ध

धामनोद (मुकेश सोडानी) - विगत दिवस नगर के एकलव्य ट्रेडिंग कंपनी के मंडी में प्रतिनिधित्व करने वाले सतीश,कांसल एंव उसके दो पुत्र गोविंदा एवं गोपाला कांसल मंडी प्रांगण से  नीलामी में भाग  लेकर खरीदी करते थे । इसी खरीदी के आधार को उन्होंने अपनी साख बनाया और वह कृषि उपज मंडी के बाहर से भी किसानों को भ्रमित कर उनकी उपज खरीद कर करोड़ों रुपए का माल लेकर रफूचक्कर हो गए । अब पुलिस तो उन्हें तलाश कर रही है लेकिन उनका कोई भी सुराग अभी तक नहीं लग पाया है । इधर प्रतिदिन किसानों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है । किसान चाहते हैं कि मंडी प्रांगण में नीलामी बोली में भाग लेने वाले यह तीनों बाप बेटे नगर की एकलव्य ट्रेडिंग कंपनी से खरीदी करते थे । जिससे की अब भुगतान एकलव्य ट्रेडिंग कंपनी के द्वारा किया जाए । इसी को लेकर किसान लगातार एकलव्य ट्रेडिंग कंपनी के मालिक के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज कराना चाहते थे । लेकिन अभी मामला जांच में उलझा हुआ है ।

कृषि उपज मंडी ने जारी किया प्रेस नोट

आगामी दिनों में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू होने वाली है ऐसे में मंडी में नीलामी बोली का कार्य शुरू होगा । लेकिन यह मामला प्रतिदिन उलझता जा रहा है । इसी को लेकर कृषि उपज मंडी समिति धामनोद द्वारा बुधवार एक प्रेस नोट जारी किया गया जिसमें बताया गया कि किसानों के भुगतान का मामला मंडी प्रांगण के बाहर से हुआ है । यदि किसानों द्वारा मंडी से खरीदी संबंधित दस्तावेज उपलब्ध होते है तो ट्रेडिंग कंपनी से भुगतान करवाने के लिए मंडी प्रशासन बाध्य होगा । हालांकि रिपोर्ट में यह भी बताया गया कि जिन किसानों द्वारा अनुबंधित भुगतान पत्र मंडी में प्रस्तुत किए गए है उन्हें करीब नौ लाख से अधिक की राशि का भुगतान समिति द्वारा करवा दिया गया है । जिसके बाद भी तकरीबन 108 किसानों का मामला उलझा हुआ है। किसान संबंधित फर्म पर कार्रवाई चाहते हैं ।

Post a Comment

0 Comments