रिपेरिंग के बाद पानी छोड़ा गया | Repairing ke bad pani chhoda gaya

रिपेरिंग के बाद पानी छोड़ा गया

रिपेरिंग के बाद पानी छोड़ा गया

मनावर (पवन प्रजापत) - ओमकारेश्वर चतुर्थ चरण नहर परियोजना पानी छोड़ा गया है। समाचार पत्र में  खबर प्रकाशित होने के बाद नहर का रिपेयरिंग कार्य रालामंडल गांव 84 किलोमीटर पर रिपेयरिंग कार्य पूर्ण किया गया है।अब  किसानों को इंतजार है इस बार भी पानी टेल 【धुलसर】 तक पहुंचता है कि नहीं किसान कमल   चोयल निगरनी,बदरी लाल वास्केल, बोरली, नहार सिह बुंदेला ,सोडुल,राजु चोयल लोहारी, राधेश्याम पाटीदार धुलसर,भुरालाल राठौर दसवीं  इन किसानों ने बताया है। यह परियोजना 2013-14 से चालू होना थी। लेकिन आज तक चालू नहीं हो पाई इस वजह से हमारी आर्थिक स्थिति दयनीय हो चुकी है।वह अनेक ऐसे गांव है जहां पर पीने का पानी नहीं है। इस क्षेत्र में पानी का बहुत संकट है इस परियोजना से 1 वर्ष में 600 करोड़ की फसल का उत्पादन होना है तो आज से 7 साल पहले यह परियोजना चालू होना थी। तो हम किसानों का बहुत ज्यादा नुकसान हो चुका है अब देखना यह है कि इस बार भी सद्भाव कंस्ट्रक्शन कंपनी व NVDA विभाग के अधिकारी इस परियोजना का पानी टेल 【धुलसर】तक पहुंचा  पाते हैं कि नहीं  यह पूरी परियोजना सिसलिया तालाब  बड़वाह से धुलसर 【कुक्षी】123 किलोमीटर तक बनी है।

रिपेरिंग के बाद पानी छोड़ा गया

इस परियोजना में ग्रुप 1 और ग्रुप 2 है ग्रुप 1 कारम नदी 52 किलोमीटर तक है व गुरुप 2 , 51 किलोमीटर से 123 किलोमीटर  धुलसर 【कुक्षी】 तक है गुरुप 2  यह नहर परियोजना 68 किलोमीटर छितरी गांव से सिमेन्ट पाईप लाईन 【अंडरग्राउंड】है  सद्भाव कंट्रक्शन कंपनी गुजरात ने इसका कार्य ठेका 400 करोड़ रुपये मे लिया है और उसे 2013-14 में किसानों के प्रत्येक खेत में पानी पहुंचाना था प्रत्येक खेत में तो छोड़ो आज तक पानी टेल तक भी मेन लाइन में बाहर नहीं कर पाये अब देखना है इस बार भी पानी अन्नदाता को मिलता है ।या नहीं

Post a Comment

0 Comments