मानवता रूपी जज्बा कोरोना संकट पर पड रहा भारी, वेल्डींग वर्कषाॅप दुकानदार जीवन दूत बनकर सामने आए | Manavta roopi jajba corona sankat pr pad rha bhari

मानवता रूपी जज्बा कोरोना संकट पर पड रहा भारी, वेल्डींग वर्कषाॅप दुकानदार जीवन दूत बनकर सामने आए

मानवता रूपी जज्बा कोरोना संकट पर पड रहा भारी, वेल्डींग वर्कषाॅप दुकानदार जीवन दूत बनकर सामने आए

अलीराजपुर (रफीक क़ुरैशी) - कोरोना से लडाई में जहां स्वास्थ्य विभाग के फ्रंट लाइन वर्कर एवं प्रषासन दिन-रात एक किए हुए है। ऐसे में आमजन भी कंधे से कंधा मिलाकर मानवता की रक्षा के लिए तत्पर है। कोरोना के कहर के बीच आक्सीजन की किल्लत की हर कही से खबर मिल रही है। अलीराजपुर जिला अस्पताल में आॅक्सीजन की आवष्यकता संबंधित जानकारी मिलने पर अलीराजपुर शहर के 9 इंजीनियरिंग वर्कषाॅप से जुडे दुकानदारों ने जिला चिकित्सालय में कोरोना मरीजों के लिए तत्काल अपने-अपने वर्क शाॅप में रखे 12 आॅक्सीजन सिलेन्डर एक पल का संकोच किए बगैर तत्काल निकालकर दे दिए। मानवता के इस पुनित कार्य के लिए इन दुकान संचालको की जितनी प्रषंसा की जाए कम है। इसमें उक्त दुकान संचालक अजय चैहान ने 4 आॅक्सीजन सिलेन्डर,  याहया खान, जगदीष कमेडिया, साउद भाई, राकेष गौराना, लच्छू गौराना, राजेन्द्र गौराना,  नरेन्द्र गोराना एवं  पप्पू कमेडिया सभी ने एक-एक आॅक्सीजन सिलेन्डर अपनी-अपनी वर्कषाॅप से बगैर एक पल गवाएं जिला प्रषासन को सौप दिये। तहसीलदार  केएल तिलवारे ने बताया जिला चिकित्सालय अलीराजपुर के लिए आॅक्सीजन की आवष्यकता महसूस होने की सूचना पर हमारे द्वारा उक्त वर्कषाॅप संचालकों से संपर्क किया गया। उक्त सभी वर्कषाॅप संचालकों ने बगैर वक्त गवाए तत्काल 12 आॅक्सीजन सिलेन्डर की उपलब्धता सुनिष्चित कराई। वर्तमान में कोरोना से गंभीर रूप से ग्रहित एक-एक मरीज के लिए आॅक्सीजन की एक-एक बूंद अनमोल है। इन 12 आॅक्सीजन सिलेन्डर से कई मरीजों को प्राणवायु मिलने से उनके जीवन की रक्षा हुई। कलेक्टर सुरभि गुप्ता ने उक्त समस्त वर्कषाॅप संचालकों का आभार व्यक्त करते हुए उक्त सभी के इस कार्य की मुक्त कंठ से प्रषंसा की। 

Post a Comment

0 Comments