WHO ने दी चेतावनी, इस साल भी खत्म नहीं होगी कोरोना महामारी | WHO ne di chetavni is saal bhi khatm nhi hogi corona mahamari

WHO ने दी चेतावनी, इस साल भी खत्म नहीं होगी कोरोना महामारी

WHO ने दी चेतावनी, इस साल भी खत्म नहीं होगी कोरोना महामारी

कोरोना वैक्सीन आने के बाद अगर आप सोच रहे हैं कि दुनिया से इस साल कोरोना महामारी खत्म हो जाएगी तो बिल्कुल भी संभव नहीं है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने हाल ही चेतावनी जारी की है कि भले ही दुनियाभर में अलग-अलग देशों ने कोरोना महामारी के खिलाफ वैक्सीन तैयार कर ली है लेकिन वैश्विक महामारी इस साल भी दुनिया से विदा नहीं लेने वाली है। WHO ने साफ कहा है कि कोरोना अभी खत्म नहीं हो रहा है और यह कहना अभी बहुत जल्दबाजी होगी कि साल 2021 के अंत दुनिया से महामारी पूरी तरह से खत्म हो जाएगी।

मरने वालों की संख्या में आएगी कमी

WHO के हेल्थ इमरजेंसी प्रोग्राम के कार्यकारी निदेशक डॉ. माइकल रेयान ने कहा कि महामारी के संबंध में फिलहाल यह राहत की बात है कि वैक्सीन के आने से अस्पताल जाने और मरने वालों की संख्या में कमी आएगी। साथ ही विश्व स्वास्थ्य संगठन ने ईरान ने अपने यहां कोरोना महामारी की चौथी लहर आने की चेतावनी जारी की है। ईरान में बीते 24 घंटों के दौरान 100 लोगों की मौत के बाद सावधान किया है। जनवरी के बाद पहली बार ईरान में मौतों की संख्या 100 के पार गई है। वहीं फिनलैंड में भी महामारी को लेकर इमरजेंसी घोषित कर दी गई है। फिनलैंड में हालात इतने ज्यादा खराब है कि संसद को इमरजेंसी का फैसला लेना पड़ा है। यहां 8 मार्च से तीन सप्ताह के लिए सभी रेस्टोरेंट बंद कर दिए गए हैं और साथ ही अन्य सख्तियां भी की जा रही है।

दुनियाभर में वैक्सीनेशन के हाल

विश्व स्वास्थ्य संगठन के वैक्सीन वितरण कार्यक्रम कोवैक्स के तहत 142 देशों में दो करोड़ 37 लाख वैक्सीन के डोज वितरित किए हैं। WHO के प्रमुख टेड्रोस अदनोन घेबरेसस ने कहा कि कौवेक्स कार्यक्रम के तहत अंगोला, कंबोडिया, कांगो, नाइजीरिया और घाना में वैक्सीन का वितरण किया गया है। WHO की प्रमुख वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने कोरोना महामारी के दौरान अदभुत क्षमता के साथ काम करने के लिए भारत की प्रशंसा की है। सौम्या ने कहा कि भारत ने नई खोजों और वैश्विक स्तर पर कोरोना वैक्सीन के निर्माण में बेहतरीन काम किया है। भारत में 30 से ज्यादा वैक्सीन विकसित की जा रही हैं। इनमें से दो कोवैक्सीन और कोविशील्ड का प्रयोग तो शुरू हो गया है। भारत ने इन दोनों वैक्सीन को विश्वभर के देशों में वितरित करना भी शुरू कर दिया है।

Post a Comment

0 Comments