देश में "समय बैंक" बनायें या "मातृ-पितृ पूजन दिवस" जैसे आयोजन को राष्ट्रीय पर्व घोषित करने की मांग | Desh main samay bank banaye ya matr pitr poojan divas

देश में "समय बैंक" बनायें या "मातृ-पितृ पूजन दिवस" जैसे आयोजन को राष्ट्रीय पर्व घोषित करने की मांग

देश में "समय बैंक" बनायें या "मातृ-पितृ पूजन दिवस" जैसे आयोजन को राष्ट्रीय पर्व घोषित करने की मांग

छिन्दवाड़ा (शुभम सहारे) - सामाजिक कार्यकर्ता भागवानदीन साहू के नेतृत्व में अन्य सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों ने महामहिम राष्ट्रपति , प्रधानमंत्री के नाम जिला कलेक्टर छिन्दवाड़ा को ज्ञापन सौंपकर देश में समय बैंक बनाये या मातृ - पितृ पूजन दिवस को राष्ट्रीय पर्व घोषित करने की मांग करते हुये बताया कि , स्विट्जरलैंड जैसे अन्य देशों में वहाँ की सरकार ने " समय बैंक ” योजना लागु की हैं । जिसमें एकाकी रहने वाले सिनियर सिटीजनों की सेवा करने के उद्देश्य से पश्चिमी संस्कृति के कुप्रभाव के कारण इन देशों के युवा विलासितापूर्ण , अमार्यादित , भोगवादी जीवन जीते हैं । परिणाम बुढ़ापे में शरीर को कई बिमारियों घेर लेती हैं ।

अंत में  कई बार ये चल फिर भी नहीं सकते ! ऐसी स्थिति में 24 घंटे मलमुत्र के बीच जीवन यापन होता है। इसी को देखते हुए अपने देश में भी इस योजना का शुभारंभ ज्ञापन देते समय मौजूद थे आई.टी.सेल के प्रभारी भूपेश पहाड़े , अखिल भारतीय नारी रक्षामंच से दर्शना खट्टर , छाया सूर्यवंशी , करूणेश पाल , डॉ . मीरा पराड़कर , शंकुतला कराड़े , वनीता सनोड़िया , योगिता पराड़कर , शोभा भोजवानी आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments