जनसुनवाई में सुनी गई आवेदकों की समस्यायें, कुल 30 आवेदन आये | Jansunvai main suni gai avedako ki samsyae

जनसुनवाई में सुनी गई आवेदकों की समस्यायें, कुल 30 आवेदन आये

जनसुनवाई में सुनी गई आवेदकों की समस्यायें, कुल 30 आवेदन आये

बालाघाट (देवेंद्र खरे) - प्रत्येक मंगलवार को होने वाली जनसुनवाई की कड़ी में आज 16 मार्च को कलेक्ट्रेट में जनसुनवाई का आयोजन किया गया। डिप्टी कलेक्टर श्री अशोक कुमार मांझी, सहायक संचालक आदिम जाति कल्याण श्री विनय रहांगडाले एवं अन्य विभागों के अधिकारियों ने आवेदकों की समस्याओं को सुना और आवेदनों को संबंधित विभाग के अधिकारियों के पास कार्यवाही के लिए भिजवा दिया गया है। 

जनसुनवाई में वार्ड नंबर-11 सरेखा बालाघाट की मैना मानेश्वर शिकायत लेकर आयी थी कि उसके पुत्र आशीष मानेश्वर का जन्म 22 दिसंबर 2005 को हुआ है। उसके पुत्र के आधार कार्ड में जन्म का सन 2007 एवं लिंग में महिला दर्ज हो गया है। उसके द्वारा आधार कार्ड में जन्मतिथि एवं लिंग को सही कराने के लिए आनलाईन सेंटर में कई बार आवेदन किया गया है और हर बार उससे 100-100 रुपये लिये गये है। हर बार बताया जाता है कि उसका आवेदन रिजेक्ट हो गया है। उसके पुत्र के आधार कार्ड में संशोधन नहीं होने पर भविष्य में उसे कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। अत: उसके पुत्र के आधार कार्ड में शीघ्र सुधार कराया जाये। 

जनसुनवाई में बालाघाट का निवासी 50 वर्षीय रमेश उपाध्याय शिकायत लेकर आया था कि उसकी पढ़ाई डाईट स्कूल में हुई है। शिक्षक की गलती के कारण कक्षा दूसरी की अंकसूची में उसका सरनेम उपाध्याय के स्थान पर शर्मा लिखा गया है। उसके बाद की सभी अंकसूची में उसका सरनेम शर्मा ही लिखा गया है। जबकि उसके व पिताजी के समस्त दस्तावेज में उनका सरनेम उपाध्याय ही अंकित है। अत: उसका सरनेम बदलकर शर्मा से उपाध्याय किया जाये। 

जनसुनवाई में लांजी तहसील के ग्राम कुम्हारीकला के ग्रामीण गांव में पेयजल की समस्या होने के कारण गांव में नल-जल योजना शीघ्र स्वीकृत कराने की मांग लेकर आये थे। लालबर्रा विकासखंड के ग्राम गर्रा का मीतु कुमार बोपचे प्रधानमंत्री आवास योजना में आवास निर्माण के लिए सहायता दिलाने की मांग लेकर आया था। लालबर्रा तहसील के ग्राम अमोली की निवासी इशरत खान मकान गिरने पर मुआवजा दिलाने की मांग लेकर आयी थी। बालाघाट तहसील के ग्राम टिटवा रविन्द्र गढ़पांडे शिकायत लेकर आया था कि उसकी जमीन की खसरा नंबर-163/2 की पावती है और उसके द्वारा बैंक से किसी भी प्रकार का ऋण नहीं लिया गया है। लेकिन जब भी खसरा की कापी निकालो तो पंजाब नेशनल बैंक में बंधक बताता है। जिससे उसे सोसायटी से ऋण एवं खाद आदि नहीं मिल रहा है और खेती करने में बहुत परेशानी हो रही है। अत: इसकी जांच कर उसकी पावती को ऋण मुक्त कराया जाये। 

जनसुनवाई में बिरसा तहसील के ग्राम डाबरी की चमेली बाई उईके पति रमेश की 22 सितम्बर 2019 को दुर्घटना में मृत्यु होने के कारण उसे संबल योजना का लाभ दिलाने की मांग लेकर आयी थी। चमेली बाई का कहना था उसका संबल कार्ड बना हुआ है, लेकिन उसे अब तक क्षतिपूर्ति राशि नहीं मिली है। शासकीय माध्यमिक शाला सारद सिवनी के प्राथमिक शिक्षक दुर्गाप्रसाद शेंडे पदोन्नति आदेश एवं उसका रूका हुआ वेतन दिलाने की मांग लेकर आये थे।

Post a Comment

0 Comments