प्याज ने फिर जनता को रुलाया, भाव पहुंचा 65 से 70 रुपए | Pyaj ne fir janta ko rulaya bhav pahucha 65 se 70 rupye

प्याज ने फिर जनता को रुलाया, भाव पहुंचा 65 से 70 रुपए

प्याज ने फिर जनता को रुलाया, भाव पहुंचा 65 से 70 रुपए

प्याज के दाम ने एक बार फिर जनता के आंखों मे आंसू लाना शुरू कर दिया। दिल्ली एनसीआर में प्याज का रिटेल भाव पिछले तीन हफ्तों से 50 से 60 रुपए था। लेकिन अब दाम 65 रुपए के पार हो गए हैं। पिछले डेढ़ माह में प्याज के भाव करीब दोगुना तेजी से बढ़े है। इधर सबसे बड़ी मंडी लासलगांव में प्याज का भाव दो दिन में एक हजार रुपए प्रति क्विंटल बढ़ा है।

न्यूज एजेंसी आईएनएस की एक खबर के अनुसार प्याज के दम अभी कम नहीं होंगे। व्यापारियों का कहना है कि कम से कम 20 दिन और कीमत कम नहीं होने वाली है। इसका कारण रबी फसल है, जो मार्च में मार्केट में आएगी। एशिया में फल और सब्जियों की सबसे बड़ी मंडी के लिए प्रसिद्ध दिल्ली की आजादपुर मंडी में शनिवार को प्याज थोक के भाव 12.50 रुपए से 45 रुपए किलो रहा। वहीं मॉडल रेट 31.25 रुपए प्रति किग्री था।

खबर के अनुसार महाराष्ट्र राज्य के प्याज उत्पादक क्षेत्रों की मंडियों में भाव 20 रुपए से 43 रुपए प्रति किलो रहा। नासिक में भाव ज्यादा है, क्योंकि उम्मीद के अपेक्षा यहां आवक कम हो रही है। देश में प्याज का उत्पादन लगभग सभी क्षेत्रों में होता है। नासिक महाराष्ट्र का प्रमुख प्याज उत्पादक क्षेत्र कहा जाता है। कारोबारियों के मुताबिक प्याज के प्याज की क्वालिटी सबसे अच्छी होती है। यहां के प्याज ज्यादा दिनों तक चलते हैं और आसानी से खराब नहीं होते।

हॉर्टिकल्चर प्रोड्यूस एक्सपोटर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अजित शाह ने कहा कि प्याज की आवक 30 प्रतिशत कम हो गई है। जिसके कारण भाव तेजी से बढ़ गए। उन्होंने कहा, अगले हफ्ते प्याज की नई फसल बाजार में आएगी। जिसके बाद दाम कम होंगे। वहीं दिल्ली की आजादपुर मंडी के व्यापारी व आलू और प्याज मर्चेट एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी राजेंद्र शर्मा ने कहा कि रबी फसल की आवक बढ़ते की प्याज के दाम में कटौती होना शुरू हो जाएगा। फिलहाल इसके लिए कम से कम 15 से 20 दिन का वक्त लगेगा।

Post a Comment

0 Comments