डोनाल्ड ट्रंप ने पहली बार जो बाइडेन को दी शुभकामनाएं, आज शपथ लेंगे नए अमेरिकी राष्ट्रपति | Donald trump ne pehli bar joe biden ko di shubhkamnaye

डोनाल्ड ट्रंप ने पहली बार जो बाइडेन को दी शुभकामनाएं, आज शपथ लेंगे नए अमेरिकी राष्ट्रपति

अमेरिका के इतिहास में सबसे अधिक उम्र के राष्ट्रपति बनने जा रहे बाइडन शपथ ग्रहण के तुरंत बाद राष्ट्रपति के तौर पर देश के नाम अपना पहला संबोधन देंगे. ऐतिहासिक भाषण भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक विनय रेड्डी तैयार कर रहे हैं, जो एकता और सौहार्द पर आधारित होगा.

डोनाल्ड ट्रंप ने पहली बार जो बाइडेन को दी शुभकामनाएं, आज शपथ लेंगे नए अमेरिकी राष्ट्रपति

वाशिंगटन - अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने अपने कार्यकाल के आखिरी दिन नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) को शुभकामनाएं दी. इससे पहले जो बाइडेन ने भावुक अंदाज में वॉशिंगटन की उड़ान भरी. बुधवार (20 जनवरी) को नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन और उप राष्ट्रपति कमला हैरिस पदभार संभालेंगे.

अपने गृहनगर  विलमिंगटन, डेलावेयर से वाशिंगटन के लिए उड़ान भरने से पहले एक विदाई समारोह में जो बाइडेन बेहद भावुक नजर आए. उनके गालों पर आंसू टपकते नजर आए, जहां उन्होंने अपने दिवंगत पुत्र और उभरते राजनीतिज्ञ बियू को श्रद्धांजलि दी.

78 वर्षीय  जो बाइडेन ने कहा, "मेरी भावनाओं को माफ कीजिएगा लेकिन जब मैं मर जाऊंगा, तो मेरे दिल पर डेलावेयर लिखा होगा. मुझे सिर्फ एक पछतावा रह जाएगा कि वो यहां नहीं है क्योंकि वो मुझे राष्ट्रपति के रूप में देखना और परिचय कराना चाहता था."

ट्रम्प, जो एक सप्ताह से सार्वजनिक तौर पर प्रकट नहीं हुए थे, ने एक विदाई संबोधन के साथ अपना  मौन तोड़ा, जिसे व्हाइट हाउस ने कहा था कि दिन में बाद में जारी किया जाएगा. ट्रंप के विदाई संबोधन के अंश के अनुसार, उन्होंने पहली बार अमेरिकियों से आने वाले बाइडेन प्रशासन की सफलता के लिए "प्रार्थना" करने को कहा है.

अमेरिका के इतिहास में सबसे अधिक उम्र के राष्ट्रपति बनने जा रहे बाइडन शपथ ग्रहण के तुरंत बाद राष्ट्रपति के तौर पर देश के नाम अपना पहला संबोधन देंगे. ऐतिहासिक भाषण भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक विनय रेड्डी तैयार कर रहे हैं, जो एकता और सौहार्द पर आधारित होगा.

जो बाइडन बुधवार को अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति जबकि कमला हैरिस उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेंगी. ट्रम्प समर्थकों द्वारा कैपिटल हिल (संसद भवन परिसर) पर हाल ही में हुए हमले के बाद ऐतिहासिक शपथ ग्रहण समारोह के मौके पर सुरक्षा की बढ़ती चिंताओं के बीच बुधवार को बाइडन और हैरिस शपथ ग्रहण करेंगे.

मुख्य न्यायाधीश जॉन रॉबर्ट्स 12 बजते ही (स्थानीय समयानुसार) कैपिटल के वेस्ट फ्रंट में बाइडन को पद की शपथ दिलाएंगे. शपथ ग्रहण का यह पारंपरिक स्थान है जहां नेशनल गार्ड्स के 25 हजार से अधिक जवान सुरक्षा में तैनात रहेंगे. निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समर्थकों के हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए इस स्थान को किले में तब्दील कर दिया गया है.

Post a Comment

0 Comments