कोरोना महामारी दौरान सामाजिक जागरूकता एवं हितग्राहियोें को शासन की योजना से जोड़ने के लिए कार्यषाला समपन्न हुई | Corona mahamari douran samajik jagrukta evam hitgrahiyo ko shasan ki yojna

कोरोना महामारी दौरान सामाजिक जागरूकता एवं हितग्राहियोें को शासन की योजना से जोड़ने के लिए कार्यषाला समपन्न हुई

कोरोना महामारी दौरान सामाजिक जागरूकता एवं हितग्राहियोें को शासन की योजना से जोड़ने के लिए कार्यषाला समपन्न हुई

आलीराजपुर (रफीक क़ुरैशी) - आदिवासी चेतना षिक्षण सेवा समिति द्वारा यूएनडीपी एवं पार्टनरिंग होप इनटू एक्शन (फिया) फाउंडेषन के सहयोग से जिले के 05 विकासखंडो के 100 गांवो  में कोरोना महामारी के दौरान चलाए जा रहे जागरूकता कार्यक्रम एवं शासन की योजनाओ से हितग्राहियो को जोडने के कार्यो पर अनुभव साझाकरण कार्यषाला का आयोजन किया गया। जिसमे संस्था द्वारा चलाए गए विगत पांच माह के अभियान के दौरान 19 हजार 452 लोगो को कोरोना महामारी के बारे में जागरूक करते हुए 6001 हितग्राहियो को षासन की योजनाओ के साथ जोडा के अनुभवों को साझा किया गया। कार्यषाला में आदिवासी चेतना षिक्षण सेवा समिति की ओर से साकिर खाॅन द्वारा कार्यक्रमों के उद्वेश्यो को बताते हुए कोविड 19 के दौरान अप्रवासी मजदूरो को गांव में ही रोजगार दिलाना। साथ ही षासन की बहुउपयोगी योजनाआंे से जोडने के कार्य के बारे में बताए। कार्यषाला का आयोजन जिला पंचायत सीईओ के सहयोग से जिपं सभाकक्ष मंे आयोजित किया गया। कार्यषाला में जिला एपिडिमोलाॅजिस्ट डाॅ. रविन्द्र रायकवाड कोरोना महामारी के दौरान संस्था द्वारा किये गये कार्यो की सराहना की एवं जिले में कोरोना के स्थिति एवं उनके अनुभवों को साझा किया। संस्था को कुष्ठ निवारण कार्यक्रम में भी इसी प्रकार का सहयोग देने के लिए कहा। कार्यषाला के दौरान फिया फाउंडेषन के सहयोग से तैयार की गई, षासन की योजनाओं पर मार्गदर्षिका का विमोचन किया गया। ग्राम सूचना केन्द्रों के निर्माण एवं पलायन रजिस्टर पर अजहर उल्ला खाॅन के द्वारा चर्चा हुई। कार्यक्रम में उपस्थित प्रतिभागियो द्वारा संस्था द्वारा कोरोना काल में किए गए संस्था के कार्यो सहयोग देने के साथ-साथ अपने अपने सुझाव रखे। कार्यक्रम में जिले में कार्यरत स्वयंसेवी संस्थाओ की मधुकर षर्मा, मनीषा भागोले एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं, संस्था के कार्यकर्ता भी उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments