सुंदरेल की एक दुकान से डेढ़ लाख रुपए नगद उड़ाए, पुलिस हर बार कम उम्र का है कहकर छोड़ देती है | Sundrel ki ek dukan se ded lakh rupye udaye

सुंदरेल की एक दुकान से डेढ़ लाख रुपए नगद उड़ाए, पुलिस हर बार कम उम्र का है कहकर छोड़ देती है

सुंदरेल की एक दुकान से डेढ़ लाख रुपए नगद उड़ाए, पुलिस हर बार कम उम्र का है कहकर छोड़ देती है

धामनोद (मुकेश सोडानी) - नगर में एक बच्चा चोर इन दिनों सबके लिए मुसीबत बना हुआ है यह पहली बार नहीं जब इस अवयस्क बच्चा चोर ने कोई दुकान पर हाथ साफ किया करीब पांच से छह बार धामनोद में चोरी कर रंगे हाथ पकड़ जाने वाला यह चोर अब आम जनता ओर व्यपारियो के लिए मुसीबत बन चुका है आए दिन यह किसी ने किसी दुकान में घुसकर शातिर तरीके से वारदात को अंजाम देता है बाद जब  रंगे हाथ पकड़ा    जाता है तो   इसे पुलिस के सुपुर्द किया जाता है तो पुलिस कम उम्र का है कह कर छोड़ देती है इसी से अब इस चोर के तो हौसले बुलंद हो ही गए साथ-साथ आमजन का पुलिस और कानून व्यवस्था के खिलाफ आक्रोश सामने आ रहा है प्राप्त जानकारी के अनुसार इसी बच्चे चोर ने ग्राम सुंद्रेल में राधेश्याम कसरावदिया की एकता कृषि फार्म को 5 नवंबर को निशाना बनाया कृषि फार्म के संचालक  लोकेश कसरावदिया ने बताया कि 5 नवम्बर को डेढ़ लाख की शिल्लक बैंक से लाकर दुकान में  रखी थी और पास ही की दुकान में गए जब वापस दुकान में आए तो गल्ले में पैसे नहीं थे  बाद थाने पर  रिपोर्ट दर्ज की गयी



 आसपास के कैमरे को खंगाला तब यह चोर दिखाई दिया सोशल मीडिया पर फोटो वायरल की 


 एकता कृषि फार्म के संचालक लोकेश   ने बताया कि चोरी होने के बाद आसपास के कैमरों को खंगाला तब पता चला कि एक कम उम्र का चोर दुकान में हाथ साफ करके निकलते हुए देखा गया बाद सोशल मीडिया पर उसकी फोटो वायरल की तो धामनोद से अन्य प्रतिष्ठान से उनके पास फोन पहुंचे और बताया कि यह बच्चा चोर पहले धामनोद में भी चोरी कर चुका है बस यही घटनाक्रम चल रहा था कि दूसरे गुरुवार 12 तारीख को यह चोर फिर सुंदरेल पहुंच गया होलिया मिलान करने पर दुकानदार एवं अन्य ग्रामीण लोगों ने इसे पकड़ कर पुलिस के सुपुर्द कर दिया बाद फिर पुलिस ने इसे छोड़ दिया अब फरियादी के डेढ़ लाख रुपए कहां है ना तो इसका पता चल पा रहा है नहीं इस  इस चोर पर कोई बड़ी कार्रवाई की जा रही है




 चोर के घर तक पहुंचे तो कहने लगा सट्टे से राशि जीती है दुकान में सामान भर लिया



 उस बच्चा चोर के घर तक जब फरियादी पक्ष के लोग पहुंचे तो बच्चा चोर के पिता ने अपनी दुकान में  बड़ी मात्रा में किराना का सामान भर रखा था जब उसे पूछा गया कि आप इतनी राशि कहां से लाए तो कहने लगा मेरी क्षेत्र में एक बड़ी जगह सट्टे की रकम लगाई गई थी उसी में मैंने बड़ी मात्रा में पैसे जीते खेर जो भी कारण हो चोर पर तो किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं हो पाई लेकिन ग्रामीणों और व्यापारियों में अब व्यवस्था के प्रति जमकर आक्रोश है  साथ साथ यदि चोर ने पैसे को रफा-दफा कर कही और लगा दिया होगा और  यदि वाकई सट्टे से अपनी दुकान में माल भर लिया तो क्षेत्र में चल रहे सट्टे की पोल भी खुल रही है कि कितनी बड़ी मात्रा में  धामनोद थाना छेत्र में सट्टा चलाया जाता होगा  आदतन अपराधी हो चुका है यह चोर जब भी पकड़ा जाता है पुलिस के सामने मिर्गी मानसिक रोगी के नाटक करता है जब कम उम्र के होने के कारण दबाव में पुलिस भी इसे कई बार छोड़ चुकी है अब यह चोर लोगों के लिए मुसीबत बन चुका है

Post a Comment

0 Comments