10 मामलों में महिलाओं, वृद्धों एवं दिव्यांगों को दिलाई गई पेंशन | 10 mamlo main mahilao vraddho evam divyango ko dilai gai pention

10 मामलों में महिलाओं, वृद्धों एवं दिव्यांगों को दिलाई गई पेंशन

*विधिक सेवा दिवस पर जागरूकता एवं साक्षरता शिविर आयोजित* 

10 मामलों में महिलाओं, वृद्धों एवं दिव्यांगों को दिलाई गई पेंशन

झाबुआ (संदीप बरबेटा):- जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ द्वारा न्यायालय परिसर में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए विधिक सेवा दिवस के अवसर पर साक्षरता शिविर एवं जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें सभी न्यायाधीश एवं अधिवक्तागण तथा पक्षकारगण उपस्थित थे। जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष श्री राजेश कुमार गुप्ता ने अपने संबोधन में विधिक सेवा दिवस के महत्व पर प्रकाश डालते हुए पक्षकारों को निःशुल्क विधिक सहायता एवं लोक अदालत के माध्यम से सहायता पहुँचाने पर बल दिया। प्राधिकरण के सचिव एवं अपर जिला जज श्री  देवलिया ने अपने संबोधन में बताया कि विधिक सेवा प्राधिकरण गरीबों एवं पीडि़तों का सहारा है। जिसके दरवाजे सदैव पीडि़तो वंचितों के लिये खुले हुए है। 

    राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम 1987 जिसके माध्यम से विधिक सेवा प्रदान की जाती है यह अधिनियम  9 नवम्बर 1995 से प्रभावशील हुआ। उसी उपलक्ष्य में विधिक सेवा दिवस 9 नवम्बर के दिन मनाया जाता है कार्यक्रम में विधिक सेवा संबंधी कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई न्यायालयों में पैरवी के लिए अनुसूचित जनजाति, महिला, बालक, जेल बंदी आदि को निःशुल्क विधिक सहायता, लोक अदालत, मध्यस्थता, विवाद विहीन ग्राम योजना 2000 एवं वरिष्ठ नागरिकों, बच्चों, नशा पीडि़तों, आदिवासियों के संरक्षण, गरीबी उन्मूलन, आपदा प्रबंधन आदि महत्वपूर्ण कल्याणकारी जन योजनाओं के बारे में विस्तार से समझाया गया। शिविर के माध्यम से मौके पर ही समाज कल्याण एवं जनपद पंचायत मध्यप्रदेश शासन के माध्यम से सामाजिक सुरक्षा वृद्धावस्था पेंशन, विधवा पेंशन, दिव्यांग पेंशन, के 10 मामले स्वीकृत कराकर पेंशन हितग्राहियों श्रीमती वाली बाई चौहान, कु. अतिका शेख, श्रीमती सुमत्रा बसोड, श्रीमती रेखा भूरिया, श्रीमति कसमा, श्रीमती राजू, श्रीमती बदली, बाबू एवं मानसिंह को प्रमाण-पत्र वितरित किये गये एवं पेंशनधारियों को शॉल एवं श्रीफल देकर सम्मानित किया गया। आयोजन में विशेष न्यायाधीश श्री महेश शर्मा, अपर जिला जज श्री संजय चौहान, मुख्य न्यायिक मजिस्टेट श्री गौरव प्रज्ञानन, अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष श्री बी.एल. सोनी एवं अन्य अधिवक्तागण, गणमान्य नागरिक एवं बड़ी संख्या में महिलाऐं एवं पक्षकारगण उपस्थित थें।

Post a Comment

0 Comments