प्रत्येक माह की पहली तारीख तक गरीबों को राशन वितरण सुनिश्चित किया जाये - संभागायुक्त | Pratyek mah ki pehli tarikh tak garibo ko rashan vitran sunishchit kiya jaye

प्रत्येक माह की पहली तारीख तक गरीबों को राशन वितरण सुनिश्चित किया जाये - संभागायुक्त

संभाग में युरिया की पर्याप्त आपूर्ति है

प्रत्येक माह की पहली तारीख तक गरीबों को राशन वितरण सुनिश्चित किया जाये - संभागायुक्त

उज्जैन (रोशन पंकज) - उज्जैन संभागायुक्त श्री आनन्द कुमार शर्मा ने आज सहकारिता, मार्कफेड, खाद्य विभाग, नागरिक आपूर्ति निगम, मंडी बोर्ड एवं एमपी एग्रो की संभागीय समीक्षा बैठक ली। उन्होंने संभागीय खाद्य अधिकारी श्री मोहन मारू को निर्देश दिये कि वे प्रत्येक माह की पहली तारीख तक गरीब हितग्राहियों को राशन का वितरण कराना सुनिश्चित करें। इसके लिये स्टोरेज में उपलब्ध खाद्यान्न का उठाव समय से पूर्व कर माह की पहली तारीख से पहले उचित मूल्य की दुकान तक खाद्यान्न का पहुंचाना सुनिश्चित किया जाये। इसके लिये यदि अतिरिक्त वाहनों की आवश्यकता हो तो अतिरिक्त वाहन भी लगाये जायें। बताया गया कि अक्टूबर माह में 90 प्रतिशत खाद्यान्न का वितरण पात्र हितग्राहियों को कर दिया गया है। खाद्यान्न का वितरण पोस मशीन से ही किया जा रहा है। बताया गया कि आधार सीडिंग में अतिरिक्त समय लग रहा है क्योंकि पलायन करने वाले एवं मृतकों के नाम पूरी छानबीन करने के बाद ही काटे जा रहे हैं। यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि किसी भी पात्र व्यक्ति का नाम आधार सीडिंग से न काटा जाये।

प्रत्येक माह की पहली तारीख तक गरीबों को राशन वितरण सुनिश्चित किया जाये - संभागायुक्त

संभागायुक्त ने बताया कि संभाग में युरिया की पर्याप्त आपूर्ति हो रही है। युरिया का पर्याप्त स्टॉक है। आवश्यकता पड़ने पर युरिया की आपूर्ति तत्काल सुनिश्चित की जायेगी। उज्जैन एवं आगर मालवा में 1800 मैट्रिक टन युरिया की रैक लगने वाली है। साथ ही रतलाम में 400 मैट्रिक टन, उज्जैन के बड़नगर में 200 मैट्रिक टन की युरिया की रैक लगने वाली है। इससे संभाग में युरिया का पर्याप्त भण्डारण हो जायेगा। मंडी बोर्ड के अधिकारी ने बताया कि मंडियों में अभी भी गेहूं के बोरे रखे हैं। इससे मंडी के सामान्य कामकाज में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। संभागायुक्त ने निर्देश दिये कि मंडी से बोरों का उठाव किया जाये, ताकि मंडी का सामान्य कार्य सुचारू रूप से संचालित हो सके। उन्होंने हम्माल एवं तुलावटियों के बच्चों को छात्रवृत्ति एवं पढ़ाई में शासन द्वारा दी जा रही सुविधाओं की जानकारी ली और कहा कि सभी हम्माल एवं तुलावटियों के बच्चों को छात्रवृत्ति देना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने प्याज का स्टाक करने वाले व्यापारियों का नाम खाद्य विभाग, मंडी बोर्ड एवं उद्यानिकी के अधिकारियों को देने के निर्देश दिये, ताकि उक्त तीनों विभाग तय सीमा से अधिक का प्याज स्टाक करने वाले व्यापारियों का निरीक्षण कर सकें एवं आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित कर सकें।

बैठक में उपायुक्त विकास श्री एसएस भंडारी, संयुक्त उपायुक्त विकास श्री सीएल डोडियार सहित सम्बन्धित विभाग के अधिकारीगण उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments