न्यायधीश प्लेट लगे बुलेरो वाहन मे अवैध शराब की पेटियों को पुलिस ने किया जप्त | Nyaydhish platr lage bolero vahan main awaidh sharab petiyo ko police

न्यायधीश प्लेट लगे बुलेरो वाहन मे अवैध शराब की पेटियों को पुलिस ने किया जप्त

न्यायधीश प्लेट लगे बुलेरो वाहन मे अवैध शराब की पेटियों को पुलिस ने किया जप्त

अलीराजपुर। (रफीक क़ुरैशी) - जिले में इन दिनों अवैध शराब  परिवहन का कारोबार आबकारी विभाग और शराब माफियाओं की मिलीभगत से तेजी से फल-फूल रहा है। जिसके चलते शराब माफियाओ द्वारा सवैधानिक पद वाले  न्यायाधीश की भी नेम प्लेट लगाकर अवैध शराब की तस्करी करने से बाज नही आ रहे है। पुलिस ने जिले के ग्राम नानपुर में एक ऐसे ही मामले का पर्दाफाश किया है। जिसमे उन्होंने शराब माफियाओं द्वारा बोलोरो वाहन में न्यायाधीश की नम्बर प्लेट लगाकर ले जा रही 20 पेटी माउन्ट बियर कीमती तक़रीबन 48 हजार रुपये की शराब को जप्त कर आरोपी को गिरफ्तार किया है। 

न्यायधीश प्लेट लगे बुलेरो वाहन मे अवैध शराब की पेटियों को पुलिस ने किया जप्त

नानपुर थाना प्रभारी मोहन डावर ने  जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस अधीक्षक  विपुल श्रीवास्तव के दिशा निर्देश, अतिरिक्त एसपी  बिट्टु सहगल के मार्गदर्शन मे एक टीम गठित कर मुखबिर की सूचना पर थाना प्रभारी मोहन डावर के नेतृत्व मे सघन जांच अभियान चलाया गया। जिसमे कुक्षी की और से न्यायधीश लगी प्लेट वाहन को जांच के लिए रोकने का प्रयास किया गया। मगर गाड़ी के ड्राइवर द्वारा तेज गति से चलाकर टोल प्लाजा के बेरीकेट तोड़ कर ले जाने पर पुलिस द्वारा पीछा किया गया व चारो और से नाकाबंदी करने पर ग्राम सोलीया मे वाहन को पकड़ा गया। बोलेरो वाहन क्रमांक MP09, WB0672 जिसमे 20 पेटी माउन्ट बियर कीमती तक़रीबन 48000/- रुपये की होना पाया गया है। तलाशी की दौरान एक न्यायाधीश लिखी नेम प्लेट व GJ06 l k 8269 की भी प्लेट मिली, बोलोरो के ड्राइवर से नाम पता पूछने पर उसने अपना नाम व पता रामबिहारी पिता मेघसिँह भदौरिया उम्र 52  निवासी बाग होना कबूल किया। शराब के सम्बन्ध मे किसी प्रकार का लाइसेंस नहीं होना पाया गया। बहरहाल माफियाओं द्वारा इस प्रकार की अवैध कार्यवाही को अंजाम दिया जाना निश्चित ही पुलिस प्रशासन के लिए चिंता और चुनोती का विषय बन गया है..? वही शंका भी है कि जिले में अवैध कारोबारी इस तरह की अवैध काम काज को  अंजाम देने वाले माफिया किस हद तक जा सकते है। 

Post a Comment

0 Comments