ज्योतिराज सिंधिया के गढ़ में छुपा कांग्रेस का भविष्य | Jyotiraditya scindia ke gad main chhupa congress ka bhavishy

ज्योतिराज सिंधिया के गढ़ में छुपा कांग्रेस का भविष्य

ताज मिलेगा या बनवास दिग्गज नेताओं का जमावड़ा साख भी लगी है दाव पर

ज्योतिराज सिंधिया के गढ़ में छुपा कांग्रेस का भविष्य

भोपाल (संतोष जैन) - इस बार का उपचुनाव पिछले चुनावों से हटकर होगा एक तो कोरोना काल में चुनाव हो रहे हैं इसलिए ढेरों बंदसे हैं साथ ही सरकार का भविष्य भी तय होगा इसमें सिंधिया के गढ़ की महत्वपूर्ण भूमिका होगी बात हो रही है ग्वालियर चंबल संभाग की वैसे तो राज्य की 28 सीटों पर उपचुनाव को रहे हैं लेकिन ग्वालियर चंबल में उपचुनाव की सबसे ज्यादा सीटें हैं इस संभाग पर दलों का ज्यादा फोकस है यहीं से  तय होगा कि कांग्रेस को सत्ता मिलेगी या फिर उसे वनवास पर ही रहना होगा

पुराने साथियों से मुकाबला

ग्वलियर चंबल संभाग सिंधिया के प्रभाव वाला क्षेत्र माना जाता है 2018 के विधानसभा चुनाव में यहां कांग्रेस को बड़ी सफलता मिली थी अब स्थितियां बदली हैं सिंधिया भाजपा के पाले में हैं उनके समर्थक विधायक भाजपा के साथ हैं ऐसे में माना जा रहा है कि यह पूर्व विधायक यहां दोबारा मैदान में होंगे उनका मुकाबला अपने ही पुराने साथियों से होगा जो इनके लिए काम करते थे अब वे प्रतिद्वंदी होंगे ऐसे में मुकाबला रोचक होने के आसार हैं 

बदलता रहा है मतदाताओं का मिजाज 

ग्वालियर चंबल संभाग में मतदाताओं का मिजाज बदलता रहा है पिछले एक दशक के चुनावों में भाजपा कांग्रेस के अलावा बसपा पर भी मतदाताओं ने भरोसा जताया 16 सीटों की ज्यादातर मतदाताओं ने कभी एक दल पर भरोसा नहीं किया यानी किसी भी दल को लगातार चुनाव जिता कर विधानसभा तक नहीं पहुंचाया

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News