चिमनगंज पुलिस को मिली बड़ी सफलता, अंधे कत्ल का खुलासा मात्र 24 घंटे के अंदर | Chimanganj police ko mili badi safalta

चिमनगंज पुलिस को मिली बड़ी सफलता, अंधे कत्ल का खुलासा मात्र 24 घंटे के अंदर

चिमनगंज पुलिस को मिली बड़ी सफलता, अंधे कत्ल का खुलासा मात्र 24 घंटे के अंदर

उज्जैन (रोशन पंकज) - उज्जैन में 6 सितंबर 2020 को अज्ञात व्यक्ति से सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम उंडासा का तालाब के पास रोड किनारे एक व्यक्ति घायल अवस्था में पड़ा है जिसकी सूचना पर कोतवाली सीएसपी पल्लवी शुक्ला मौके पर पहुंची वरिष्ठ अधिकारियों को तुरंत सूचना दी तत्काल मौके पर उज्जैन सिटी एडिशनल एसपी सूचना मिलते ही घटनास्थल पर पहुंचे जाकर देखा एक व्यक्ति मृत अवस्था में पड़ा जिसकी जानकारी प्राप्त करने सचिन से मरे पिता हीरालाल सेमरे उम्र 35 वर्ष निवासी बजरंग नगर जोकि ऑटो चालक है।


और ऑटो लेकर घर से गया था जिसकी लास घटनास्थल पर मिली किंतु मृतक का ऑटो नहीं मिला बाद में अपराध   अज्ञात आरोपी के विरुद्ध पंजीबद्ध कर पुलिस ने तलाश प्रारंभ की।

उज्जैन पुलिस कप्तान सुश्री सविता सुहाने द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल सिटी एडिशनल एसपी रूपेश द्विवेदी के मार्गदर्शन में सीएसपी पल्लवी शुक्ला के निर्देशन में एक टीम गठित की गई आरोपी गणों को गिरफ्तार किया गया बाद आरोपी गणों से हिकमत अमली वाह मनोवैज्ञानिक तरीके पूछताछ करते दोनों आरोपी गणों ने लूट के उद्देश्य से हत्या करना कबूल किया लूटा गया ऑटो क्रमांक एमपी 13 आर 2139 को जप्त किया गया तथा घटना में प्रयुक्त एक धारदार खंजर जप्त कर लिया गया है।

इनकी रही महत्व भूमिका।

कोतवाली सीएसपी पल्लवी शुक्ला एफएसएल अधिकारी प्रीति गायकवाड सब इस्पेक्टर आर सी सोलंकी रविंद्र कटारे यादवेंद्र सिंह परिहार एसपीएस सेंधव आरक्षक दिनेश सिंह बेस आशुतोष नागर शैलेश योगी श्याम वरुण गुर्जर राजपाल यादव अनिल सिसोदिया सुनील सिंह सैनिक चंदन सिंह की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

गिरफ्तार आरोपी समीर उर्फ भैया कहां पिता रफीक शाह अहमदनगर चिमनगंज क्षेत्र।

दूसरा आरोपी मुख्तियार उर्फ इमरान पिता आजाद मौलाना उम्र 22 साल निवासी यादव नगर आगरा रोड थाना चिमनगंज क्षेत्र इन दोनों आरोपियों से एक लोहे का तेज धारदार खंजर वा लूटा गया ऑटो कीमत करीब 3 लाख।

पुलिस ने जप्त कर लिया है।

Post a Comment

0 Comments