60 साल के बुजूर्ग व्यक्ति की हत्या कर सबूत मिटाने की कोशीश करने वाले आरोपीगणों को भेजा गया जेल | 60 saal ke bujurg vyakti ki hatya ka saboot mitane ki koshish karne wale

60 साल के बुजूर्ग व्यक्ति की हत्या कर सबूत मिटाने की कोशीश करने वाले आरोपीगणों को भेजा गया जेल

60 साल के बुजूर्ग व्यक्ति की हत्या कर सबूत मिटाने की कोशीश करने वाले आरोपीगणों को भेजा गया जेल

झाबुआ  (अली असगर बोहरा) - दिनांक 06.08.2020 को मध्य रात्रि के दौरान मृतक पिदिया मचार की हत्या कर उसकी लाश को पेड पर रस्सी से लटका दिया गया जिससे लोगों को ऐसा लगे कि उस व्यक्ति ने खुद फॉसी पर लटकर आत्महत्या कर ली हो। दिनांक 07.08.2020 को प्रातः चौकी कुंदनपुर के चौकी प्रभारी को सूचना मिली की एक व्यक्ति पेड पर रस्सी से लटका हुआ है। चौकी प्रभारी द्वारा पुलिस अधिक्षक को सूचना दी गई तथा मौके पर फॉरंसिक अधिकारी तथा स्वयं पुलिस अधीक्षक द्वारा मौके पर पहुॅच कर देखा तो मृतक जो कि पेड पर रस्सी से लटका हुआ था जिसे ऐसा लग रहा था कि अंधा कत्ल हुआ है। उसके सिर के पीछे से खून निकल रहा था ओर मृतक के दोनो पैर जमीन पर टीक रहे थे उससे ऐसा प्रतित हो रहा था कि मृतक की हत्या कर किसी ने उसकी हत्या कर अपराध से बचने के लिए ओर साक्ष्य मिटाने के लिए उसे पेड पर लटका दिया गया था। 
पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता ने देखा कि मृतक बुजूर्ग पिदिया की बहु रागुबाई की कच्ची झोपडी में एक बटन भी पडा था जो किसी शर्ट का था तभी घटना स्थल की परिस्थिति से ही एसपी आशुतोष गुप्ता को या एहसास हो गया था कि किसी व्यक्ति ने कत्ल किया है। उक्त जॉच के दौरान पता लगा कि उक्त बटन नाड गॉव के ही युवक हरीष की शर्ट का है ओर उसका उसकी मुह बोली मौसी रागुबाई के यहा आना जाना ओर उठना बैठना होता है। इसी बात को लेकर पुलिस ने हरिष ओर रागुबाई को अपनी हिरासत में लेकर पूछताछ कि तो आरोपीगण ने अपना गुनाह कबूल किया ओर दोनो ने बताया कि घटना वाली रात जब हरीष अपनी मुह मौसी उर्फ मासूका की झोपडी में पहुॅचा तो पिदिया जाग गया था। ओर पिदिया ने दोनो के अवैध संबंध से आपत्ति जताई ओर पिदिया का्रेधित भी हुआ। इसी बात को लेकर उसी समय नाराज प्रेमी हरीश ने पिदिय को धक्का देकर गिरा दिया ओर पत्थर और लाठी से मारमीट की तथा रागुबाई ने भी पत्थर से पिदिया को मारा, जब पिदिया बेहोष हो गया तो दोनो ने समझा की पिदिया मर चुका है तो दोनो ने उसे वही पडी रस्सी से बांधा ओर बैर के पेड पर रात के अंधेरे मे टांग दिया ताकि मौत हत्या नही आत्महत्या लगे। पुलिस ने अपनी सुझबुझ से दोनो हत्यारों द्वारा अपना गुनाह कबुल किया गया। पुलिस थाना रानापुर द्वारा दिनांक 10.08.2020 को आरोपी हरीष तथा रागुबाई को गिरफ्तार कर न्यायलय दंडाधिकारी श्री राजकुमार चौहान की न्यायालय में पेष किया गया जहॉ से न्यायालय द्वारा उक्त दोनो आरोपीगण का जेल वारंट बनाकर उन्हें जेल पहुॅचा दिया गया। अपराध में शासन की ओर से पैरवी सहा0 जिला लोक अभियोजन अधिकारी जिला झाबुआ श्रीमति सिमी रत्नम, द्वारा की गई। उक्त जानकारी जिला मीडिया सेल प्रभारी सुश्री सूरज वैरागी सहायक जिला अभियोजन अधिकारी झाबुआ द्वारा दी गई।

Post a Comment

0 Comments