रंगदारी दिखाकर हफ्ता वसूली, लूट व डकैती करने वाले आरोपी की हुई जमानत खारिज | Rangdari dikhakar hafta wasuli loot daketi karne wale aropi ki hui zamanat

रंगदारी दिखाकर हफ्ता वसूली, लूट व डकैती करने वाले आरोपी की हुई जमानत खारिज


इंदौर । (अली असगर बोहरा) - जिला अभियोजन अधिकारी मो. अकरम शेख द्वारा बताया गया कि, न्‍यायालय श्री कमलेश कुमार सोनी न्‍यायिक मजिस्‍ट्रेट प्रथम श्रेणी इंदौर के समक्ष थाना राजेन्‍द्र नगर के अप.क्र.757/2019 धारा 327, 294, 506, 427, 34, 392, 395 भादवि में गिरफ्तारशुदा आरोपी लक्‍की उर्फ गजेन्‍द्र निवासी गडबडी राजेन्‍द्र नगर इंदौर द्वारा जमानत आवेदन प्रस्‍तुत किया गया एवं जमानत पर छोडे जाने का निवेदन किया गया। अभियोजन की ओर से एडीपीओ अमिता जायसवाल द्वारा द्वारा जमानत आवेदन का विरोध करते हुए कहां गया कि आरोपी का पूर्व आपराधिक रिकॉर्ड है यदि आरोपी को जमानत का लाभ दिया गया तो वह फरियादी एवं साक्षियों को डराएगा, धमकाएगा, फरार होने की संभावना है और राजीनामे के लिए दबाव बनाएगा। अत: अपराधी का जमानत आवेदन निरस्‍त किया जाएं। अभियोजन के तर्को से सहमत होते हुए न्‍यायालय द्वारा आरोपी जमानत आवेदन निरस्‍त किया गया। अभियोजन की कहानी संक्षेप में इस प्रकार है कि दिनांक 19.11.2019 को करीब 09.45 बजे रात्रि में मेरी दुकान विनायक स्‍वीटस एंड नमकीन पर गडबडी कॉलोनी में रहने वाले चार लडके लक्की, सोनू काला, गिरीश उर्फ पंडित तथा सोनू गाव वाला आएं, जिसमे से 3 आरोपियों के हाथ मे चाकू थे ये चारों अड़ी बाजी करते हुए बोले कि दुकान चलानी है मेरे द्वारा पैसे देने से मना करने पर चारो मुझे नंगी-नंगी गालियां देने लगे। मेरा भाई कमलेश समझाने आया तो गिरीश उर्फ पंडित ने उसे थप्पड़ से मारा तथा मेरी दुकान के बाहर पपड़ी के थामो पर लात मारकर गिरा दिया, ये चारो बोले कि अगर पैसे नहीं दिए तो जान से खत्म कर देगे और धमकी देते हुए राकेश जोशी की दुकान पर गए और चाकू दिखाकर अश्‍लील गालियाँ देते हुए पैसे मांगने लगे तथा दुकान में रखे फ्रीज में तोडफोड की। फिर गौरव खिलवानी की किराना दुकान पर गए तथा लक्‍की चाकू दिखाकर बोला की उसके लड़के तेरी दुकान से सामान लेगे हमसे पैसे मत लेना, नहीं तो तेरी दुकान नहीं चलने देगें। फिर उसके बाद बंटी अंजाने के मेडिकल स्टोर पर गए तथा उसे गालियां दी तथा बोले कि पैसे दे नहीं तो अपनी दुकान बंद कर दे। तेरी दुकान यहां नही चलने देंगें। बाद में ये चारो पास में सचिन सेन की स्टाइलिश सेलून की दुकान पर गए और जाते ही उसकी दुकान का दरवाजा तोड दिया तथा चाकू दिखाकर गालियां देते हुए दुकान बंद करने को कहा और अडीबाजी करते हुए बोले कि तुम सभी को अगर यहां दुकान चलानी है तो हमे पैसे देने पडेगें, नही तो तुम सभी दुकान वालों को जान से खत्‍म कर देंगें। बाद ये चारो साजिद खान लहसुन वाले की दुकान पर भी गए और वहां भी गालियां देते हुए तोड़फोड की। बाद में उनके दो –तीन साथी और आ गए जिनके साथ ये सभी लोग भाग गए, बाद में हम सभी दुकानदार उक्‍त घटना की रिपोर्ट करने थाने आएं। उक्‍त सूचना पर से अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

Post a Comment

0 Comments