चीन के उत्पादों का जताया विरोध विज्ञापन बोर्ड पर पोती कालिख | Chin ke utpado ka jataya virodh vigyapan board pr poti kalikh

चीन के उत्पादों का जताया विरोध विज्ञापन  बोर्ड  पर पोती कालिख

 *कामगारों को मिलेगा लोन पंजीयन के लिए सामान्य भी कर रहे हैं मारामारी*


जबलपुर (संतोष जैन) - मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना मध्य प्रदेश द्वारा शनिवार को चीन में बने उत्पादों के मोबाइल व अन्य उत्पादों का विरोध किया गया साथ ही इन उत्पादों के खिलाफ  विज्ञापन पर कालिख पोत कर व्यापारियों से अपील की गई कि वे मानवीय दृष्टिकोण के आधार पर इन उत्पादों को बेचना बंद करें नौद् ब्रिज पर किए गए इस प्रदर्शन के दौरान योजना के प्रदेश उपाध्यक्ष सोनू बछवानी ने कहा कि चीन अपने उत्पाद भारत में हर रोज बेचकर  करोड़ों रुपए कमा कर एक तरफ अपनी अर्थव्यवस्था मजबूत कर रहा वहीं दूसरी ओर विश्वासघात करके वह हमारे ही सैनिकों पर हमला कर रहा है चीन की इस कायराना हरकत से पूरे देश को क्षति पहुंची है योजना के मनीष जैन कल्लू और अखिलेश तिवारी ने बताया कि चीनी सैनिकों के हमले में शहीद हुए रीवा में रहने वाले सैनिक की अंत्येष्टि को देखकर उन्होंने प्रण लिया है कि किसी भी कीमत पर अब चीन में बने उत्पादों का विक्रय शहर में नहीं होने देंगे प्रदर्शन के दौरान अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे 

*कामगारों को मिलेगा लोन पंजीयन के लिए  सामान्य भी कर रहे हैं मारामारी*

 शहरी कामगारों को प्रोत्साहित करने और उनके रोजगार को बढ़ाने के लिए शहरी पत्र व्यवसाई उत्थान योजना संचालित की जा रही है इसके प्रथम चरण में सभी स्ट्रीट वेंडरों का रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है और उसके बाद सही पाए जाने पर पात्र व्यवसायियों को 10हजार का लोन दिया जाएगा ताकि वे अपने व्यापार को और बेहतर तरीके से संचालित कर सकें योजना के रजिस्ट्रेशन का कार्य तेजी से चल रहा है और अब तक करीब 32हजार लोगों ने पंजीयन करा लिया है इस योजना के संबंध में एक भ्रम फैलाया जा रहा है कि कोई भी नागरिक से पंजीयन कराने सरकार उसे 10हजार देगी यही कारण है कि पिछले 3 दिनों में से पंजीयन कराने वालों की ऐसी भीड़ जुट रही है कि सरवर या तो बंद हो रहा है या फिर कनेक्ट नहीं हो रहा है इस मामले में अधिकारियों का कहना है कि कोई भी गलत फहमी में ना रहे लोन केवल उन्हीं को मिलेगा जो सच में व्यापार करते हैं और रुपयों की कमी के कारण उसे ठीक से संचालित नहीं कर पा रहे हैं

Post a Comment

0 Comments