जबलपुर में सेना के 3 जवान सहित 15 नए पॉजिटिव एक संक्रमित की मौत | Jabalpur main sena ke 3 javan sahit 15 naye positive

जबलपुर में सेना के 3 जवान सहित 15 नए पॉजिटिव एक संक्रमित की मौत

*कोरोना काल में किसी के यहां पड़ोसियों ने दूध वाले को जाने से रोका तो कहीं रिश्तेदारों और मोहल्ले वालों ने बेरुखी दिखाई लोगों ने आपस में बातचीत भी की बंद*


जबलपुर (संतोष जैन) - शनिवार को शहर में 15 नए संक्रमित मिलने के साथ ही अधारताल निवासी महिला की मेडिकल में उपचार के दौरान मौत के बाद उसके कोरोना संक्रमण होने का पता चला है मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब से शाम को 5:00 बजे positive मिले थे वहीं रात में आई रिपोर्ट में इलाज कराने दमोह से आए मरीज सहित शहर के 6 नए मामले पर जिनमें में एक मौत भी शामिल है नए मरीजों में कुछ पूर्व संक्रमित के संपर्क वाले हैं जबकि दो संक्रमित फेरी लगाकर व्यापार करने वाले हैं संक्रमित ओं में पाटन के पूर्व पाजू टू आए परिवार का 3 साल का बच्चा भी शामिल है देर रात तक आई जांच रिपोर्ट में सेना के 3 जवान पाजी टू मिले हैं उल्लेखनीय है कि बीते दिन सेना का एक जवान होना संक्रमित मिला था


 *कुरौना काल में किसी के यहां पड़ोसियों ने दूध वाले को जाने से रोका तो कई रिश्तेदारों और मोहल्ले वालों ने बेरुखी दिखाई लोगों में की आपसी बातचीत भी हुई बंद*

 कोरोना संक्रमण से ठीक हुए कई मरीजों के लिए सामाजिक नजरिया अभी भी पीड़ित जैसा है शहर में कोरोना संक्रमण का पहला मामला आने के बाद 3 महीने बीतने के बाद 335  केस  हो चुके हैं इनमें मुकम्मल इलाज कराकर 263 लोग स्वस्थ हुए ठीक हुए कोरोना मरीजों में से कई को अभी भी कथित तौर पर सामाजिक बहिष्कार जैसी स्थिति का सामना करना पड़ रहा है वहीं ज्यादातर स्वस्थ हुए लोग पहले जैसे ही जीवन जी रहे हैं और उनके स्वस्थ हुए मरीजों में कई परिवार ऐसे हैं जो पहले पड़ोसियों के साथ घुल मिलकर रहते थे अब संक्रमित होने और स्वस्थ होने के बाद भी वे मिलना तो दूर बात करने से कतरा रहे हैं इस प्रकार का व्यवहार बीमारी से ज्यादा आहत करने वाला है जिससे पीड़ित परिवार गहरी मानसिक वेदना से गुजर रहे हैं शुरुआत में दिक्कत बाद में मिला सहयोग परेशान करने कोई कसर नहीं छोड़ रहे पड़ोसी कुछ पड़ोसियों का व्यवहार ठीक नहीं बेटी तो स्वस्थ हुई पड़ोसियों की मानसिकता नहीं बदली जबकि सरकार का कहना है हमें बीमारी से लड़ना है बीमार से नहीं

Post a Comment

0 Comments