धुंदरमास मे उमापति को पंच प्रसादी का अर्पण किया गया | Dhurmas main umatpati ko panch prasadi ka arpan kiya gaya

धुंदरमास मे उमापति को पंच प्रसादी का अर्पण किया गया

महा आरती में बडी संख्या में श्रद्धाल्रुओ ने भाग लिया

धुंदरमास मे उमापति को पंच प्रसादी का अर्पण किया गया

झाबुआ (अली असगर बोहरा) - भारतीय संस्कृति में पर्व एवं त्यौहारों का बडा ही आध्यात्मिक महत्व होता है।  इस समय धुंदर माह के चलते बुधवार को नववर्ष के शुभ अवसर पर प्रातः 7-30 बजे से  उमापति महादेव महिला मंडल विवेकानंद कालोनी झाबुआ द्वारा  भगवान उमापति महादेव के मदिर में महिला मंडल की सदस्याओं एवं श्रद्धालुजनों द्वारा पूरी श्रद्धा एवं भक्ति के साथ भगवान भोलेनाथ के
दरबार में पंच प्रसादी जिसमें खीर, फल, हलुआ, पंजेरी, एवं  पंचामृत का नैवेद्य अर्पण किया गया । उमापति महिला मंडल की श्रीमती विद्या व्यास ने जानकारी देते हुए बताया कि पण्डित प्रदीप भट्ट द्वारा प्रातः 7 बजे भगवान
उमापति महादेव का विधि विधान से पंचाभिषेक मंत्रोच्चार से करवाया गया तथा भोलेनाथ का आकर्षक श्रृंगार किया गया । ओम नमः शिवाय के महामंत्र से पूरा
मंदिर गुंजायमान हो उठा । धुदरमाह के अवसर पर 11 किलो खीर प्रसादी, सवा
पंाच किलो फल, ढाई किलो हलुवे का भोग अर्पित किया गया । इस अवसर पर मंदिर
मे बिराजित शिरडी साई बाबा, मारूति नंदन हनुमानजी की आरती भी उतारी गई तथा महिलाओं ने भगवान भोलेनाथ की पूजा अर्चना की । 

धुंदरमास मे उमापति को पंच प्रसादी का अर्पण किया गया

मंदिर में महिला मण्डल की श्रीमती विद्या व्यास, बंसतीबेन बेरागी, कांता माहेश्वरी, गीता शाह,
शिवकुमारी सोनी, किरण , प्रेमलता, सुनीता जैेन, शारदा शर्मा, गायत्री,उषा पंवार, हिमलेश शाहज, सुनिता शाह, भावना बहिन, किरण शाह, नीता व्यास,राधा बाई, प्रेमलता माहेश्वरी, बाला, निर्मला पण्ड्या, प्रेमलता, संगीता,दिव्या माहेश्वरी, रानीबाई, संगीता, स्नेहलता, रंजिता, बंसतीबाई,
कुंवरबेन, मधुशर्मा सहित मंडल की सभी महिलाओं ने भजन कीर्तन किये । भगवान
भोलेनाथ की महामंगल आरती की गई तथा शिव स्त्रोत का पाठ किया । इस अवसर पर पण्डित प्रदीप भट्ट, ओम प्रकाश शर्मा, जितेन्द्र शर्मा, प्रदीप सोलंकी,
संजय मोहनलाल सोनी, जयप्रकाशसिंह पंवार, राजेन्द्र सोनी सहित बडी संख्या
में महिलाओं एवं श्रद्धालुजनों ने भी महामंगल आरती में भाग लिया । सभी श्रद्धालुओं ने आरती एवं महाप्रसादी का लाभ लिया।

Post a Comment

0 Comments