चौवियार दो उपवास के साथ तन्नू बाफना ने की पूर्ण की सात यात्रा | Chouviyar do upvas ke sath tannu bafna ne ki purn ki sat yatra

चौवियार दो उपवास के साथ तन्नू बाफना ने की पूर्ण की सात यात्रा

चौवियार दो उपवास के साथ तन्नू बाफना ने की पूर्ण की सात यात्रा

बामनिया (प्रितेश जैन) - श्रद्धा संस्कार परिवार अहमदाबाद द्वारा आयोजित सात यात्रा में तन्नू विनोद बाफना ने चौवियार बेला (दो उपवास- दो दिन बिना अन्न्,जल ग्रहण किए) की तपस्या के साथ शत्रुंजय गिरिराज महातीर्थ पालीताणा की सात यात्रा पूर्ण की है। उल्लेखनीय है कि पूर्व में तन्नू पालीताण तीर्थ की नवांणु यात्रा भी कर चुकी है। मंगलवार को पारणे के पश्चात् तन्नू सहित सभी सात यात्रा आराधकों का बहुमान श्रद्धा संस्कार परिवार द्वारा पालीताणा तलेटी पर किया गया।

पालीताणा शत्रुंजय गिरिराज में 4 किमी के पहाड़ में लगभग 3 हजार 900 पंक्तियां है। दो दिनों में इन पंक्तियों को चढ़ते और उतरते हुए तीर्थ की 7 बार यात्रा करना होती है। जिसमें दो दिनों तक बिना अन्न्, जल ग्रहण किए 7 बार मंदिर में विराजित दादा आदिनाथ के दर्शन करना होता है। जिसके बाद यह कठिन सात यात्रा पूर्ण होती है। इस यात्रा को छठ यात्रा भी कहा जाता है।

Post a Comment

0 Comments