अतिक्रमण मे दुकानें तो हटा ली लेकिन अब परिवार को कैसे पालेंगे | Atikraman main dukane to hatali

अतिक्रमण मे दुकानें तो हटा ली लेकिन अब परिवार को कैसे पालेंगे

अतिक्रमण मे दुकानें तो हटा ली लेकिन अब परिवार को कैसे पालेंगे

धामनोद (मुकेश सोडानी) - नगर में समाज कंटको के खिलाफ मंगलवार के दिन कार्रवाई शुरू होने का फरमान जारी हो गया शासकीय अस्पताल परी क्षेत्र में स्थित रोड पर करीब 40 से अधिक लगी दुकानें दुकानदार हटाने लगे बताया गया कि उपरोक्त दुकाने शासकीय जमीन पर  थी जिन्हें हटाने के लिए तहसीलदार के द्वारा नोटिस भेजे गए स्वेच्छा से लोगों ने अतिक्रमण हटाना शुरू कर दिया करीब 20 वर्षों से रोड पर चाय और पोहे का धंधा करने वाले आसाराम यादव के सामने अब परिवार पालने की मुसीबत खड़ी हो गई है परिवार में करीब 8 सदस्य है जिनका भरण-पोषण इसी दुकान से होता था लेकिन अब भूखे मरने की नोबत आ  सकती है  उन्होंने बताया कि अब मजदूरी करना पड सकती है वहीं अशोक केवट संजय यादव अनीस जिनकी भी टायर चाय नाश्ते की दुकानें थी  सब अपनी दुकानें एंव  रखा सामान हटा रहे थे

बड़े लोगों पर कार्रवाई क्यों नहीं समझ से परे

 ऐसा नहीं है कि क्षेत्र में रोजी रोटी के लिए रोड पर दुकानें लगाने वाले ही सिर्फ समाजकंटको को की श्रेणी में आते हैं नगर में ऐसे कई भूमाफिया है और ऐसे कई लोग हैं जिन्होंने शासकीय भूमि को अतिक्रमण कर अपने अधिनस्थ कर लिया लेकिन उन पर प्रशासन की नजर नहीं पड़ रही जिससे इन छोटे लोगों में शासन के खिलाफ जमकर आक्रोश है लोगों ने बताया कि नगर के आसपास कई लोगों ने शासकीय भूमि पर बड़े-बड़े भवन बना रखे हैं और कुछ ने शासकीय भूमि पर कब्जे कर रखे हैं लेकिन समाज कंटक  सिर्फ हमें ही बनाए जा रहा है वह बड़े लोग हैं इसलिए प्रशासन उन पर कार्रवाई  करने से कतराते है खुले आम करोड़ों रुपए की जमीने अपने कब्जे में कर बैठने वालों पर कार्यवाही नहीं हो ना कहीं न कहीं प्रशासन की कार्यप्रणाली को एक पक्षीय दर्शा रही है 

शासकीय अस्पताल में मरीजों को सुविधा मिलती थी

जिस जगह अतिक्रमण हटाने की मुहिम शुरू की गई है वहां पर शासकीय अस्पताल है शासकीय अस्पताल में मरीज एवं उनके परिजन वहां पर चाय नाश्ता करते थे ऐसे में अब मरीजों के लिए भी  अस्पताल में चाय नाश्ते  के लिए भटकना पड़ सकता है

कुछ कॉलोनी अभी जांच के घेरे में

गुप्त रूप से जानकारी सामने आई है कि कुछ कॉलोनीया भी जांच के घेरे में है हालांकि उनकी रिपोर्ट बंद कर जा चुकी है लेकिन अभी तक किसी भी प्रकार की कार्यवाही होना सामने नहीं आ पाई है इस संबंध में तहसीलदार अजमेर सिंह गौड़ ने बताया कि सभी पर समान रूप से कार्यवाही जारी है आपके पास यदि कोई अतिक्रमण कारी की सूचना हो तो हमें बताएं जानकारी गुप्त रखी जाएगी सभी पर कार्रवाई होगी

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News