127 वां युवा दिवस विद्यार्थियों ने मनाया | 127 va yuva divas vidhyarthiyo ne manaya

127 वां युवा दिवस विद्यार्थियों ने मनाया

127 वां युवा दिवस विद्यार्थियों ने मनाया

थांदला (कादर शेख) - शा.महाविद्यालय थांदला में छात्र छात्राओं ने मिलकर युवा दिवस में सहभागिता की विवेकानंद जी का जन्म सन् 1863 में कोलकाता में हुआ था और मात्र 39 वर्ष की आयु में विवेकानंद बन गए थे उनका नाम नरेंद्र था कहते हैं कि विवेकानंद जी अध्ययन करते थे वो पेंज के हर पन्ने की व्याख्या कर देते थे मुह जुबान याद रहता था इसलिए उनका नाम अपने आध्यात्मिक मानसिकता विवेक के कारण विवेकानंद हो गए ऐसे  महापुरुष स्वामी विवेकानंद जी हिंदू सनातन धर्म संस्कृति के थे विवेकानंद ने विश्व युवा दिवस सन् 1893 मैं अमेरिका के शिकागो में आयोजित सभा को सम्बोधित करते हुए कहा था प्रिय अमेरिका भाईयों और बहनों के साथ विश्व वसुदेव कुटुबं के भाव को दुनिया के सामने रखा था। एबीवीपी प्रांत कार्यकारिणी सदस्य प्रताप कटारा, मुकेश बामनिया,मुख्य वक्ता मांगु डामोर,कैलाश निनामा निलम बारिया कार्यक्रम में उपस्थित कालेज ईकाई अध्यक्ष अनिल वसुनिया,राजुरावत,कांतु मईडा,अविनाश अमलियार,दिलीप भुरिया,विजेश मावी, राधा राठौड़ सारिका मुणिया, हेमलता गवली, राधा पवार, कार्यक्रम का संचालन अकलेश रावत ने किया आभार व्यक्त शंकर बामनिया ने माना है।

Post a Comment

0 Comments