शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक उत्थान एवं आत्मिक शांति हेतु निकाली जा रहीं यात्रा | Shaaririk mansik adhyatmik utthan evam aatmiy shanti hetu nikali ja rhi yatra

शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक उत्थान एवं आत्मिक शांति हेतु निकाली जा रहीं यात्रा 

शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक उत्थान एवं आत्मिक शांति हेतु निकाली जा रहीं यात्रा

झाबुआ (अली असगर बोहरा) - सहज योग के स्वर्ण जयंती वर्ष के उपलक्ष में ‘सहज योग आज का महायोग’ का संदेष देते हुए मानव मात्र के कल्याणर्थ हेतु प्रत्येक व्यक्ति को आत्म साक्षात्कार प्रदान करने के लक्ष्य के साथ भारत के विभिन्न प्रांतों से होते हुए ‘‘चैतन्य रथ यात्रा’’ का 20 जनवरी को झाबुआ की धरा पर आगमन होगा। इस दौरान यह यात्रा शहर के प्रमुख मार्गों से होते हुए पैलेस गार्डन पर देर शाम को कार्यक्रम का आयोजन होगा। 

जानकारी देते हुए सहज योग ध्यान केंद्र झाबुआ के संचालक पं. हिमांषु शुक्ल एवं योगेन्द्र बैरागी ने बताया कि ध्यान, आनंद, प्रेम और शांति से परिपूर्ण इस रथ यात्रा के माध्यम से आप शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक उत्थान एवं आत्मिक शांति की प्राप्ति कर सकते है। यह यात्रा परम् पूज्य माताजी निर्मला देवी की असीम की कृपा से निकाली जा रहीं है। जिसमें सजे रथ पर सहज योग महायोग से संबंधित पोस्टर, बेनर आदि भी लगे हुए है। यह रथ यात्रा 20 जनवरी, सोमवार को शाम 5 बजे दिलीप गेट पर प्रवेष करेगी, जहां यात्रा की आगवानी एवं स्वागत-सत्कार बाद रथ यात्रा शहर में प्रवेष करते हुए चेतन्य मार्ग, विजय स्तंभ तिराहा, बस स्टेंड गांधी चैराहा से यात्रा मेन बाजार, थांदला गेट, बाबेल चैराहा, आजाद चैक, श्री गोवर्धननाथ मंदिर तिराहा, श्री चारभुजानाथ मंदिर से राजवाड़ा, पैलेस गार्डन पहुंचेगी। जहां शाम 7.30 बजे सहज योग ध्यान द्वारा आत्म साक्षात्कारएवं संगीत निषा का आयोजन होगा। इस संपूर्ण आयोजन में प्रवेष पूर्णतः निःषुल्क रखा गया है। सहज ध्यान केंद्र झाबुआ द्वारा इस यात्रा का स्वागत करने एवं पैलेस गार्डन पर आयोजित कार्यक्रम में शहर के अधिक से अधिक लोगों से पधारकर लाभ लेने की अपील की गई है।

Post a Comment

0 Comments