राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग की शिकायत पर ट्रेचिंग ग्राउंड पर पहुँची चाइल्ड केयर टीम - बच्चों की गम्भीर स्थिति देख जताई चिंता | Rashtriya manavadhikar evam mahila baal vikas ayog ki shikayat

राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग की शिकायत पर ट्रेचिंग ग्राउंड पर पहुँची चाइल्ड केयर टीम - बच्चों की गम्भीर स्थिति देख जताई चिंता

नाबालिग बच्चों से काम करवाना दण्डनीय अपराध - चाइल्ड केयर

राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग की शिकायत पर ट्रेचिंग ग्राउंड पर पहुँची चाइल्ड केयर टीम - बच्चों की गम्भीर स्थिति देख जताई चिंता

थांदला (हैदर भाई कल्याणपुरावाला) - अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस पर थान्दला में सार्वजनिक हितों के लिये काम कर रही राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग टीम के कार्यवाहक प्रदेशाध्यक्ष पवन नाहर ने प्रदेश चाइल्ड केयर के उच्चाधिकारियों को शिकायत दर्ज करवाते हुए नगर में बच्चों के आर्थिक शोषण पर उनका ध्यानाकर्षण करवाया गया। उन्होंने सबसे पहले बताया कि नगर में सैकड़ों बच्चे आज शिक्षा से दूर बदहाली व आर्थिक आभाव के कारण शोषण का शिकार हो रहे है। नगर के सबसे गंदे व बदबूदार स्थान ट्रेचिंग ग्राउंड जहाँ पूरे नगर की गन्दगी से केंद्रीय विद्यालय के बच्चों के स्वास्थ्य के साथ तो खिलवाड़ हो रहा है वही इसी कचरे के ढेर पर दर्जनों बच्चें कूड़ा करकट उठाते हुए मिल जाएंगे। उनकी दयनीय स्थिति देखकर मानवीय संवेदना वाले व्यक्ति की आँखे भर आएगी फिर भी आजतक उनकी ओर किसी ने भी ध्यान नही दिया। प्रदेश चाइल्ड केयर के निर्देश पर जिला मुख्यालय की टीम कॉर्डिनेटर सुशील  सिंगाड़िया के मार्गदर्शन में दीपक भूरिया, मुकेश रावत, खुशबू मोर्य, अनिता डामोर आदि सदस्य थान्दला टेर्चिंग ग्राउंड पर आए तो उन्होंने मासूम बचपन को नन्गे पैर कचरों के ढेर में पन्नी आदि बीनते पाया। पूरी टीम ने सराहनीय कार्य करते हुए बच्चों व उनके माता-पिता के पास जाकर उन्हें समझाइश देते हुए उन्हें शिक्षित करने की प्रेरणा दी। उन्होंने जब बच्चों की स्थिति देखी तो कुछ बच्चों के पैर में गन्दगी से इंफेक्शन आ गया था जिसका उन्होंने स्थानीय शासकीय अस्पताल व निजी क्लिनिक पर जाकर उपचार करवाया।

राष्ट्रीय मानवाधिकार एवं महिला बाल विकास आयोग की शिकायत पर ट्रेचिंग ग्राउंड पर पहुँची चाइल्ड केयर टीम - बच्चों की गम्भीर स्थिति देख जताई चिंता

बच्चों से कार्य करवाना दण्डनीय अपराध - ऐसे व्यक्ति जाएंगे सीधा जेल लगेगा आर्थिक जुर्माना

उक्त कार्यवाही के दौरान पवन नाहर व इस प्रतिनिधि ने चाइल्ड केयर को बताया कि नगर में अनेक घरों, होटल पर भी नाबालिग बच्चों का भविष्य खराब हो रहा है वही आसपास के अनेक बच्चें भीख मांगने का कार्य भी कर रहे है, उनपर भी कार्यवाही होना चाहिये। चाइल्ड केयर ने स्पष्ट किया कि देश व प्रदेश में कही भी बच्चों का किसी भी प्रकार से शोषण किया जा रहा है तो ऐसा करने वालों के खिलाफ बाल संरक्षण अधिनियम के तहत सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्हें जेल व आर्थिक दण्ड से दण्डित किये जाने का प्रावधान है।

चाइल्ड केयर के हेल्पलाइन नम्बर 1098 पर करें शिकायत तत्काल आएगी टीम

चाइल्ड केयर की सदस्या अनिता डामोर ने सभी से आग्रह करते हुए कहा कि बच्चों के प्रति सकारात्मक बनकर दया करुणा भाव से उन्हें संस्कारित कीजिये। यदि कोई भी बच्चों का शारीरिक, मानसिक या आर्थिक शोषण करता दिखाई दे तो उसकी सूचना तत्काल चाइल्ड केयर के हेल्पलाइन नम्बर 1098 पर करें। वे निकट चाइल्ड केयर को सूचित कर आपकी नाम आदि की गोपनियता के साथ न्याय संगत वैधानिक कार्यवाही करेंगे।

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News