कलेक्टोेरेट बगीचे में भाजयुमो जिलाध्यक्ष ने मीडिया से मुखातिब होते हुए जताया विरोध | Collectred bagiche main bhajyumo jiladhyaksh ne media se mukhatib hote hue

कलेक्टोेरेट बगीचे में भाजयुमो जिलाध्यक्ष ने मीडिया से मुखातिब होते हुए जताया विरोध

कलेक्टोेरेट बगीचे में भाजयुमो जिलाध्यक्ष ने मीडिया से मुखातिब होते हुए जताया विरोध

झाबुआ (मनीष कुमट) - भारतीय जनता युवा मोर्चा का 19 दिसंबर, गुरूवार को संगठन के प्रदेष स्तरीय आव्हान पर जिला मुख्यालय झाबुआ पर उत्कृष्ट विद्यालय मैदान से मप्र सरकार की एक साल की विफलताओ की लेकर विरोध रैली निकालना एवं ज्ञापन कार्यक्रम तय था, लेकिन ताबड़तोब लेटर जारी कर एवं भाजयुमो जिलाध्यक्ष को कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा मोबाईल पर सूचना देकर उक्त कार्यक्रम निरस्त करवाया गया। कारण जिले में धारा 144 लागू होना बताया। यहां तक भी भाजयुमो पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उत्कृष्ट मैदान से रैली ना निकाले, इस हेतु पूरे मैदान पर पुलिस छावनी कर दी गई। बाद कलेक्टोरेट स्थित बगीचे में सभी ने एकत्रित होकर मीडिया के समक्ष अपना विरोध प्रकट किया।

भाजयुमो जिलाध्यक्ष भानू भूरिया एवं जिला उपाध्यक्ष मांगीलाल भूरिया ने बताया कि उनके द्वारा भायजुमो के प्रदेष स्तरीय निर्धारित कार्यक्रम के तहत रैली एवं ज्ञापन कार्यक्रम हेतु एसडीएम झाबुआ अभय खराड़ी से 17 दिसंबर, मंगलवार लिखित में अनुमति मांगी गई थी, जिस पर एसडीएम द्वारा अनुमति भी दी गई थी, जिसके आधार पर भाजयुमो की जिला इकाई ने 19 दिसंबर, गुरूवार को दोपहर जब रैली निकालने के लिए सभी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उत्कृष्ट विद्यालय मैदान पर एकत्रित हुए और यहां से रैली आरंभ करना चाही गई, तो उन्हें नोटिस प्राप्त होता है कि आपको उक्त कार्यक्रम की अनुमति दी जाती है। साथ ही जिलाध्यक्ष भानू भूरिया ने बताया कि रैली एवं ज्ञापन कार्यक्रम निरस्त करने हेतु उन्हें कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा मोबाईल पर सूचना देते हुए कहा कि धारा 144 लागू होने से आप उक्त आंदोलन नहीं कर सकते है।

मप्र की कांग्रेस सरकार काले दिनों की कर रहीं शुरूआत 

बाद कलेक्टोरेट स्थित बगीचे में भाजयुमो जिलाध्यक्ष भानू भूरिया एवं जिला उपाध्यक्ष मांगीलाल भूरिया के नेतृत्व में सभी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं ने कलेक्टोरेट बगीचे में एकत्रित होकर मप्र की कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाया कि सरकार के दबाव में जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रषासन पूरी तरह से कार्य कर रहा है। कांग्रेस सरकार और उसके मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मप्र में काले दिनों की शुरूआत कर दी है और इससे झाबुआ जिला भी अछूता नहीं रहा है। दोनो भूरियाद्वय ने आरोप लगाया कि झाबुआ जिले में कांग्रेसी जनप्रतिनिधियों की कठपुतली बनाकर प्रशासन काम कर रहा है, लेकिन विपक्ष भी चुपचाप नहीं बैठेगा, हम समय-समय पर सरकार की नाकामी और जनता की आवाज को बुलंद करते रहेंगे। इस अवसर पर भाजयुमो के जिला मंत्री संजय भाबर के साथ अन्य पदाधिकारियों में प्रषांत, विपुल, भगतसिंह डामोर, भावेष आदि सहित अनेक पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News