अग्रवाल समाज धामनोद द्वारा अग्रसेन जयंती धूमधाम से संपन्न | Agrawal samaj dhamnod dwaraagrasen jayanti dhoom dham se sampann

अग्रवाल समाज धामनोद द्वारा अग्रसेन जयंती धूमधाम से संपन्न

अग्रवाल समाज धामनोद द्वारा अग्रसेन जयंती धूमधाम से संपन्न

युवा फेसबुक व्हाट्सएप सोशल मीडिया का उपयोग करें दुरुपयोग नहीं - रितु अग्रवाल आरटीओ बड़वानी

धामनोद (मुकेश सोडानी) - अग्रवाल समाज जनों के कुल प्रवर्तक महाराजा अग्रसेनजी की 5143 वीं जयंती महोत्सव का तीन दिवसीय आयोजन रविवार को पारंपरिक हर्षोल्लास उत्साह एवं श्रद्धा के साथ एक जीनिंग फैक्ट्री में संपन्न हुआ । उसके पहले समाज जनों द्वारा बालाजी मंदिर परिसर से लेकर आयोजन स्थल तक के लिए भव्य विशाल चल समारोह निकाला गया । जिसमें समस्त अग्र बंधु पुरुष महिलाएं एवं बच्चे शामिल हुए ।

कार्यक्रम के  मुख्य अतिथि सुधीर गोयल सेवा धाम उज्जैन , रितु अग्रवाल आरटीओ बड़वानी, अमोल सांघी महू , अन्य कई समाज जन थे  सर्वप्रथम अग्रसेन महाराज की पूजा अर्चना कर आरती की गई । वही अतिथि द्वारा समाज के प्रतिभावान  बच्चों का सम्मान किया गया । समाज सचिव  द्वारा वार्षिक प्रतिवेदन  प्रस्तुत कर आगामी वर्ष में  समाज की धर्मशाला बनाने का लक्ष्य रखा कार्यक्रम के अतिथि अमोल सांघी वरिष्ठ एडवोकेट महू ने अपने उद्बोधन में बताया कि आज के समय में अधिकतम मामलों में न्यायालय में डिवोर्स के मामले आ रहे हैं । एवं आश्चर्य की बात यह है कि आज की युवा पीढ़ी एवं मेरे सहपाठी जब ऐसे केस लेकर आते हैं । तो मन को बहुत पीड़ा होती है । एवं उन्हें समझाया जाता है की पारिवारिक जीवन में उतार-चढ़ाव आता है । जिसका समाधान पति पत्नी को बैठकर ही करना होता है । वही अधिकतम मामलों में सुलह करना ही श्रेष्ठ है । सुधीर गोयल उज्जैन में सेवाधाम आश्रम संचालित करते हैं । उक्त सेवाधाम आश्रम में 700 से अधिक सभी धर्म समाज हर आयु के लोगों के रहने की एवं उनके विश्राम एवं भोजन की निशुल्क व्यवस्था रहती है । साथ ही समाजजनों को संदेश दिया कि आप अपने पूर्वजों की याद में प्रतिमाह 2 से 3 हजार की राशि बचाकर किसी निर्धन परिवार को गोद लेकर परोपकार के कार्य करें । जिससे कि आपके पूर्वजों को शांति मिल सके । तथा कहा कि समाज के अंतिम पीड़ित व्यक्ति की सेवा कार्य करना ही सच्ची मानवता है । 
कभी आपको किसी का सम्मान करना पड़े तो सफाई कर्मी और नर्सों का सम्मान जरूर करना क्योंकि सफाई कर्मी हमारे घर गलियां नगर को स्वच्छ रख कर हमें बीमारियों से बचाते हैं । वहीं नर्स ही वह पहली महिला होती है जो हमारे जन्म के बाद हमें अपने हाथों में लेती है ।इसी प्रकार जब  वृद्धा वस्था में हमारी मृत्यु होती है तब भी अस्पताल में नर्सों के हाथ हमारे शरीर को अंत तक संभालते हैं ।

 रितु अग्रवाल आरटीओ  बड़वानी ने बताया कि दृढ़ इच्छा से ही अपने लक्ष्य को पाया जाता है । मैं पूर्व में  इनकम टैक्स इंस्पेक्टर थी । वही मेरी शादी  होने के उपरांत भी मेरे पति एवं परिजनों ने सहयोग प्रदान किया । जिसकी बदौलत आज मैं आरटीओ के पद पर कार्य कर रही हूं । उन्होंने युवाओं से आह्वान किया है कि आप लोग सोशल मीडिया फेसबुक व्हाट्सएप का उपयोग करें ना कि दुरुपयोग करें । मैं सोशल मीडिया की वजह से ही आजकल कई अपराध विवाद दंगे फसाद और अनावश्यक घटनाएं घट रही है जिन्हें रोकना अत्यावश्यक है । बच्चों के माता-पिता को भी समझाईश दी गई है, कि कृपया अपने बच्चों को बुराइयों से बचा कर रखें । जो उच्च शिक्षा प्राप्त कर परिवार एवं समाज का नाम रोशन करें ।
अंत में अतिथियों का आभार  व्यक्त किया गया तत्पश्चात सभी समाजजनों का सहभोज रखा गया  समाज के मनोज सिंघल सोनू गर्ग अरुण बंसल आदि ने बताया कि उक्त कार्यक्रम में धामनोद, गुजरी, खलघाट, बैंकपूरा, निमरानी, अहीर की धामनोद, धरमपुरी, भवानिया ओझरा आदि स्थानों से भी भारी संख्या में समाज जनों ने सहभागिता की । एवं तीन दिवसीय कार्यक्रम का  धूमधाम से  समापन हुआ 

उक्त जानकारी अग्रवाल समाज धामनोद के मीडिया प्रभारी श्याम अग्रवाल ने दी ।

Post a Comment

0 Comments