सेना के वीर सपूतों के सम्मान में इंदौर का युवा निकला 45 किलो वजनी कावड़ लेकर

सेना के वीर सपूतों के सम्मान में इंदौर का युवा निकला 45 किलो वजनी कावड़ लेकर


बडवाह (गोविंद शर्मा) - मध्यप्रदेश के खरगोन में देश की रक्षा में तैनात सैनिकों और शहीद जवानों के सम्मान में अनोखी राष्ट्रीय कावड़ यात्रा। राष्ट्रहित का जज्बा लिए एक युवा करीब 45 किलो वजनी कावड़ कांधे पर लेकर सड़क पर निकला। लोग देख रहे हैं आश्चर्य से। राष्ट्रीय कावड़ के एक छोर पर सेना का हेलीकॉप्टर बीच में भोलेनाथ की प्रतिमा उस पर लगा राष्ट्रीय ध्वज दूसरे छोर पर शिवलिंग आकर्षण का केंद्र। 

अब तक हमने सावन माह में अलग-अलग तरह की कावड़ यात्रा है देखी, लेकिन पहली बार कोई युवा अकेले ही राष्ट्रीय कावड़ यात्रा लेकर निकला है। बडवाह में इंदौर इच्छापुर स्टेट हाईवे पर एक युवा 45 किलो वजनी राष्ट्रीय कावड़ लेकर निकला तो हाईवे पर लोग आश्चर्य से देखने लगे। दरअसल इंदौर के द्वारकापुरी निवासी 40 वर्षीय विजय जाधव कांधे पर 45 किलो वजनी कांवड़ लेकर निकले हैं। राष्ट्रीय कावड़ यात्रा निकालने का उनका उद्देश्य देश की रक्षा कर रहे वीर जवानों के सम्मान में और पुलवामा में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए नर्मदा जल भरकर उज्जैन में महाकाल का अभिषेक करना है। कावड़ यात्री युवा ने दो घडों में बड़वाह के खेड़ी घाट से नर्मदा का 30 लीटर जल भरा और पैदल यात्रा करते हुए उज्जैन में महाकाल का अभिषेक करेंगे। एक कलश देश की सीमा और अमरनाथ यात्रा में खड़े वीर जवानों को समर्पित है तो दूसरा पुलवामा में शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि के रूप में भगवान महाकालेश्वर का अभिषेक किया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments