कांग्रेसजनों ने मुख्य निर्वाचन आयुक्त के नाम पत्र लिखकर की कथावाचक द्वारा आचार संहिता उल्लंघन की शिकायत shikayat Aajtak24 News

 

कांग्रेसजनों ने मुख्य निर्वाचन आयुक्त के नाम पत्र लिखकर की कथावाचक द्वारा आचार संहिता उल्लंघन की शिकायत shikayat Aajtak24 News 

सीहोर - जिला कांग्रेस के पूर्व महासचिव पंकज शर्मा ने भारत के मुख्य निर्वाचन आयुक्त के नाम संबोधित एक पत्र कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर सौंपा । पत्र के माध्यम से पंकज शर्मा ने बताया कि कथावाचक प्रदीप मिश्रा द्वारा अपनी धार्मिक कथाओं में पार्टी विशेष और एक नेता का नाम लेकर वोट देने की अपील करने तथा पार्टी विशेष के नेताओं को बुलाकर धर्म का राजनीतिकरण करने का मामला सामने आया है, जिसमें प्रदीप मिश्रा खुलेआम कानून का उल्लंघन करते हुए आचार संहिता की धज्जियां उड़ाते हुए नजर आ रहे हैं। मामले की अधिक जानकारी देते हुए पंकज शर्मा ने कहा कि पिछले दिनों सीहोर के कथावाचक प्रदीप मिश्रा ने एक कथा महाराष्ट्र के परतवाड़ा में की थी जिसके पहले दिन 6 मई को प्रदीप मिश्रा ने सीधे सीधे एक धार्मिक आयोजन में प्रधानमंत्री और भाजपा का नाम लेकर उनके लिए वोट मांगे थे जो कि चुनाव आयोग के निर्देशों का उल्लंघन है और संविधान विरोधी है, इसी कथा में आखिरी दिन 12 मई को अमरावती की निर्दलीय सांसद और भाजपा सांसद प्रत्याशी नवनीत राणा ने भी इसी कथा में धर्म के नाम पर वोट मांगे थे और जहरीला भाषण दिया था, जिसके लिए इन दोनों के खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज किए जाने की मांग उन्होंने मुख्य निर्वाचन आयुक्त से की है। पंकज शर्मा ने आगे कहा कि कथावाचक प्रदीप मिश्रा पहले भी देश के संविधान को बदलने, लोकतंत्र को खत्म करने और हिंदू राष्ट्र बनाने संबधी अनर्गल बयान देते रहे हैं, इनका देश के लोकतंत्र और संविधान में कोई विश्वास नहीं है और ये जानबूझकर अपनी धार्मिक कथाओं में भाजपा नेताओं को बुलाकर धर्म के नाम पर वोट मांगकर भोली भाली जनता को गुमराह करने का काम करते हैं और परतवाड़ा की कथा में भी उन्होंने प्रधानमंत्री के नाम पर और भाजपा के लिए वोट मांगकर और भाजपा सांसद प्रत्याशी को बुलाकर धर्म का राजनीतिकरण करने पर प्रदीप मिश्रा और नवनीत राणा पर आचार संहिता उल्लंघन का मुकदमा कायम कर लोकसभा चुनाव समाप्त होने तक प्रदीप मिश्रा की सभी कथाओं पर रोक लगाए जाने और उनसे धर्म का राजनीतिकरण करने पर सार्वजनिक रूप से माफी मांगने का निर्देश भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिए जाने तथा नवनीत राणा का नामांकन पत्र खारिज किए जाने की मांग पंकज शर्मा ने मुख्य निर्वाचन आयुक्त से की है ताकि इन जैसे लोगों में कानून का भय बन सके और आगे से कोई भी देश के कानून को तोड़ने का दुस्साहस ना कर सके।




kaangresajanon ne mukhy nirvaachan aayukt ke naam patr likhakar kee kathaavaachak dvaara aachaar sanhita ullanghan kee shikaayat
seehor - jila kaangres ke poorv mahaasachiv pankaj sharma ne bhaarat ke mukhy nirvaachan aayukt ke naam sambodhit ek patr kalektar kaaryaalay pahunchakar saumpa . patr ke maadhyam se pankaj sharma ne bataaya ki kathaavaachak pradeep mishra dvaara apanee dhaarmik kathaon mein paartee vishesh aur ek neta ka naam lekar vot dene kee apeel karane tatha paartee vishesh ke netaon ko bulaakar dharm ka raajaneetikaran karane ka maamala saamane aaya hai, jisamen pradeep mishra khuleaam kaanoon ka ullanghan karate hue aachaar sanhita kee dhajjiyaan udaate hue najar aa rahe hain. maamale kee adhik jaanakaaree dete hue pankaj sharma ne kaha ki pichhale dinon seehor ke kathaavaachak pradeep mishra ne ek katha mahaaraashtr ke paratavaada mein kee thee jisake pahale din 6 maee ko pradeep mishra ne seedhe seedhe ek dhaarmik aayojan mein pradhaanamantree aur bhaajapa ka naam lekar unake lie vot maange the jo ki chunaav aayog ke nirdeshon ka ullanghan hai aur sanvidhaan virodhee hai, isee katha mein aakhiree din 12 maee ko amaraavatee kee nirdaleey saansad aur bhaajapa saansad pratyaashee navaneet raana ne bhee isee katha mein dharm ke naam par vot maange the aur jahareela bhaashan diya tha, jisake lie in donon ke khilaaph aachaar sanhita ullanghan ka maamala darj kie jaane kee maang unhonne mukhy nirvaachan aayukt se kee hai. pankaj sharma ne aage kaha ki kathaavaachak pradeep mishra pahale bhee desh ke sanvidhaan ko badalane, lokatantr ko khatm karane aur hindoo raashtr banaane sambadhee anargal bayaan dete rahe hain, inaka desh ke lokatantr aur sanvidhaan mein koee vishvaas nahin hai aur ye jaanaboojhakar apanee dhaarmik kathaon mein bhaajapa netaon ko bulaakar dharm ke naam par vot maangakar bholee bhaalee janata ko gumaraah karane ka kaam karate hain aur paratavaada kee katha mein bhee unhonne pradhaanamantree ke naam par aur bhaajapa ke lie vot maangakar aur bhaajapa saansad pratyaashee ko bulaakar dharm ka raajaneetikaran karane par pradeep mishra aur navaneet raana par aachaar sanhita ullanghan ka mukadama kaayam kar lokasabha chunaav samaapt hone tak pradeep mishra kee sabhee kathaon par rok lagae jaane aur unase dharm ka raajaneetikaran karane par saarvajanik roop se maaphee maangane ka nirdesh bhaarat nirvaachan aayog dvaara die jaane tatha navaneet raana ka naamaankan patr khaarij kie jaane kee maang pankaj sharma ne mukhy nirvaachan aayukt se kee hai taaki in jaise logon mein kaanoon ka bhay ban sake aur aage se koee bhee desh ke kaanoon ko todane ka dussaahas na kar sake.

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News