जिले में अवैध वसूली में कीर्तिमान स्थापित कर रहे विभागों के जिम्मेदार jimmedar Aajtak24 News


जिले में अवैध वसूली में कीर्तिमान स्थापित कर रहे विभागों के जिम्मेदार jimmedar Aajtak24 News 

रीवा - इन दिनों रीवा और मऊगंज जिले में अवैध वसूली का कीर्तिमान बनाने जैसे हालात दिखाई दे रहे हैं दोनों जिले में सर्वाधिक आबकारी विभाग खनिज विभाग ड्रग विभाग खाद्य विभाग में जमकर भ्रष्टाचार और अवैध वसूली के मामले सामने आ रहे सामाजिक कार्यकर्ताओं और आरटीआई एक्टिविस्टों का कहना है कि इन विभागों में चेक करो करोडो रूपए अवैध वसूली करके नीचे से ऊपर तक तिजोरियां भरी जा रही है इन अनियमितताओं से सरकार के टैक्स की भारी मात्रा में चोरी की जाती है देखा जाए तो खनिज विभाग निजी वसूली के कारण रीवा और मऊगंज मिट्टी मोरम गिट्टी के अवैध खदानों के कारण चर्चित है जगह-जगह पर शराब की पैकारी हो रही है और मेडिकल नशा जमकर फल फूल रहा है खरीदी केंद्रों में कैसी हालत हैं यह भी किसी से छिपा नहीं है आबकारी विभाग खनिज विभाग ड्रग विभाग और खाद्य तथा सहकारिता विभाग के अधिकारी तो मालामाल है लेकिन जनता और सरकार दोनों का हक लूटा जा रहा है। 

आबकारी विभाग के अधिकारियों ने आंखों में बांध लिया पट्टी।

आबकारी विभाग की हालत इन दिनों और अधिक खराब हो गई है रीवा और मऊगंज जिले में किसी काम का नहीं शराब कारोबारी द्वारा अवैध तरीके से शराब की पैकारी कराई जा रही है कंपोजिट शराब की दुकानों में रेट लिस्ट नहीं लगाई गई है और मनमाने दाम पर दुकानदार जनता को लूट रहे हैं शराब पैकारी के तो ऐसी हालत हैं कि अब जनता जागरुक हो गई है और अवैध रूप से गांव-गांव पहुंचाने वाली शराब को जनता खुद पड़कर पुलिस के हवाले कर रही है रीवा और मऊगंज जिले में इन दिनों शराब माफिया जमकर मनमानी कर रही है तो वहीं आबकारी विभाग के अधिकारी आंखों में पट्टी बांधकर यह सब होता देख रहे है बीते दिन नईगढ़ी में अवैध शराब को जनता ने पकड़ा और पुलिस के हवाले किया लेकिन वहां भी पुलिस वाले ने खेल कर दिया हालांकि मामला मीडिया में आने के बाद एसपी मऊगंज में पुलिस आरक्षक को लाइन अटैच कर दिया है इसी तरह रीवा और मऊगंज जिले में कई जगह है अवैध शराब बनाई जाती है मिलावटी शराब के कारण लोगों की मौत भी हो जाती है अवैध शराब बनाने वालों पर कभी कभार शराब ठेका के इशारे पर आबकारी विभाग नींद से जाग जाता है।

नींद में है ड्रग विभाग 

रीवा और मऊगंज जिले में ड्रग विभाग गहरी नींद में सोया रहता है दोनों जिलों में अवैध मेडिकल स्टोरों की संख्या काफी मात्रा में बढ़ चुकी है जहां गुणवत्ता विहीन नकली दवाएं उपभोक्ताओं तक पहुंचाई जा रही है नशे की टेबलेट और नशीली कफ सिरप इन्हीं मेडिकल स्टोरों के जरिए गांव-गांव पहुंच रहा है और युवा नशे की लत में अपना जीवन बर्बाद कर रहा है यह देखने वाला कोई विभाग का अधिकारी नहीं है कि मेडिकल दवा किस थोक दुकान से उठाई गई और किसी डॉक्टर की पर्ची पर कितनी बिक्री की गई केवल उठाने के रिकॉर्ड मिलेंगे और करोड़ों करोड़ों रुपए के दवा के बिक्री के रिकार्ड संधारित नहीं मिलेंगे।

खाद्य और सहकारिता विभाग के अधिकारियों की बढ़ गई भूख।

रीवा और मऊगंज जिले में  खाद्य विभाग केवल निजी वसूली में व्यस्त है खाद्य सामग्रियां मिलावटी गुणवत्ता विहीन हो जिसे खाकर लोग कई प्रकार की बीमारियों के शिकार हो रहे हैं इससे विभाग का कोई लेना-देना नहीं है। तो वहीं सहकारिता विभाग की इन दिनों चांदी है खरीदी केंद्रों में इस समय गेहूं खरीदी का कार्य चल रहा है खरीदी केंद्रों में क्या हो रहा है यह अब बताने की जरूरत नहीं है की प्रति बोरी 50 किलो में लगभग 20 हर हाल में निकलना है और यह काली कमाई नीचे से ऊपर तक करोड़ों में पहुंचती है 3000 से लेकर 20000 तक वेतन पाने वाले कर्मचारी सहकारिता विभाग में करोड़पति हैं विभाग में भ्रष्टाचार होने का यही सबसे बड़ा प्रमाण है। 


jile mein avaidh vasoolee mein keertimaan sthaapit kar rahe vibhaagon ke jimmedaar reeva - in dinon reeva aur maooganj jile mein avaidh vasoolee ka keertimaan banaane jaise haalaat dikhaee de rahe hain donon jile mein sarvaadhik aabakaaree vibhaag khanij vibhaag drag vibhaag khaady vibhaag mein jamakar bhrashtaachaar aur avaidh vasoolee ke maamale saamane aa rahe saamaajik kaaryakartaon aur aarateeaee ektiviston ka kahana hai ki in vibhaagon mein chek karo karodo roope avaidh vasoolee karake neeche se oopar tak tijoriyaan bharee ja rahee hai in aniyamitataon se sarakaar ke taiks kee bhaaree maatra mein choree kee jaatee hai dekha jae to khanij vibhaag nijee vasoolee ke kaaran reeva aur maooganj mittee moram gittee ke avaidh khadaanon ke kaaran charchit hai jagah-jagah par sharaab kee paikaaree ho rahee hai aur medikal nasha jamakar phal phool raha hai khareedee kendron mein kaisee haalat hain yah bhee kisee se chhipa nahin hai aabakaaree vibhaag khanij vibhaag drag vibhaag aur khaady tatha sahakaarita vibhaag ke adhikaaree to maalaamaal hai lekin janata aur sarakaar donon ka hak loota ja raha hai. aabakaaree vibhaag ke adhikaariyon ne aankhon mein baandh liya pattee. aabakaaree vibhaag kee haalat in dinon aur adhik kharaab ho gaee hai reeva aur maooganj jile mein kisee kaam ka nahin sharaab kaarobaaree dvaara avaidh tareeke se sharaab kee paikaaree karaee ja rahee hai kampojit sharaab kee dukaanon mein ret list nahin lagaee gaee hai aur manamaane daam par dukaanadaar janata ko loot rahe hain sharaab paikaaree ke to aisee haalat hain ki ab janata jaagaruk ho gaee hai aur avaidh roop se gaanv-gaanv pahunchaane vaalee sharaab ko janata khud padakar pulis ke havaale kar rahee hai reeva aur maooganj jile mein in dinon sharaab maaphiya jamakar manamaanee kar rahee hai to vaheen aabakaaree vibhaag ke adhikaaree aankhon mein pattee baandhakar yah sab hota dekh rahe hai beete din naeegadhee mein avaidh sharaab ko janata ne pakada aur pulis ke havaale kiya lekin vahaan bhee pulis vaale ne khel kar diya haalaanki maamala meediya mein aane ke baad esapee maooganj mein pulis aarakshak ko lain ataich kar diya hai isee tarah reeva aur maooganj jile mein kaee jagah hai avaidh sharaab banaee jaatee hai milaavatee sharaab ke kaaran logon kee maut bhee ho jaatee hai avaidh sharaab banaane vaalon par kabhee kabhaar sharaab theka ke ishaare par aabakaaree vibhaag neend se jaag jaata hai. neend mein hai drag vibhaag reeva aur maooganj jile mein drag vibhaag gaharee neend mein soya rahata hai donon jilon mein avaidh medikal storon kee sankhya kaaphee maatra mein badh chukee hai jahaan gunavatta viheen nakalee davaen upabhoktaon tak pahunchaee ja rahee hai nashe kee tebalet aur nasheelee kaph sirap inheen medikal storon ke jarie gaanv-gaanv pahunch raha hai aur yuva nashe kee lat mein apana jeevan barbaad kar raha hai yah dekhane vaala koee vibhaag ka adhikaaree nahin hai ki medikal dava kis thok dukaan se uthaee gaee aur kisee doktar kee parchee par kitanee bikree kee gaee keval uthaane ke rikord milenge aur karodon karodon rupe ke dava ke bikree ke rikaard sandhaarit nahin milenge. khaady aur sahakaarita vibhaag ke adhikaariyon kee badh gaee bhookh. reeva aur maooganj jile mein khaady vibhaag keval nijee vasoolee mein vyast hai khaady saamagriyaan milaavatee gunavatta viheen ho jise khaakar log kaee prakaar kee beemaariyon ke shikaar ho rahe hain isase vibhaag ka koee lena-dena nahin hai. to vaheen sahakaarita vibhaag kee in dinon chaandee hai khareedee kendron mein is samay gehoon khareedee ka kaary chal raha hai khareedee kendron mein kya ho raha hai yah ab bataane kee jaroorat nahin hai kee prati boree 50 kilo mein lagabhag ₹20 har haal mein nikalana hai aur yah kaalee kamaee neeche se oopar tak karodon mein pahunchatee hai 3000 se lekar 20000 tak vetan paane vaale karmachaaree sahakaarita vibhaag mein karodapati hain vibhaag mein bhrashtaachaar hone ka yahee sabase bada pramaan hai.

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News