एक जमीन की दो लोगों को रजिस्ट्री करवाने वाले के खिलाफ धोखाधडी का केश दर्ज darj Aajtak24 News


एक जमीन की दो लोगों को रजिस्ट्री करवाने वाले के खिलाफ धोखाधडी का केश दर्ज darj Aajtak24 News 

देवास - बीएनपी थाना अंतर्गत जेतपुरा में दो लोगों ने एक जमीन को दो बार बेच दिया। इस पूरे मामले में पटवारी की भूमिका भी संदिग्ध लग रही है। इसको लेकर पीड़ित ने आवेदन देकर शिकायत की थी। बीएनपी थाना पुलिस में धीरज सिंह धाकड़ और विनोद धाकड़ के खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया। मिली जानकारी के अनुसार भूपेंद्र सिंह पिता जसवंत सिंह गंभीर निवासी सिविल लाइन ने विनोद धाकड़ और धीरज सिंह धाकड़ के खिलाफ धोखाधड़ी करने को लेकर आवेदन दिया था। आवेदन में फरियादी में बताया था की दिनाक 14/05/2013 को ग्राम जैतपुरा तहसील व जिला देवास निवासी धीरज सिंह धाकड पिता बापू सिंह धाकड से कृषि भूमि सर्वे नंबर 364/9 रकबा 0.060 आरे संपूर्ण प्रतिफल अदा कर भूमि पर कब्जा लिया था तभी में उक्त भूमि पर काबिज हूं धीरज सिंह धाकड द्वारा देवास सब रजिस्ट्रार के समक्ष आम मुख्तयार नामा, उक्त जमीन का मेरे पक्ष में कर दिया था जिसके संबंध में सब रजिस्टार देवास द्वारा रसीद भी जारी की गई थी जो मूल रसीद तथा मूल मुख्तयारनामा मेरे पास है उक्त भूमि का रजिस्टर्ड विक्रय पत्र दिनांक 12/05/2014 को मेरे पक्ष में संपादित हुआ इसी प्रकार धीरज सिंह धाकड के भतीजे विनोद सिंह धाकड पिता सुमेर सिंह धाकड निवासी ग्राम जैतपुरा तहसील व जिला देवास से कृषि भूमि सर्वे क्रमाक 364/8 रकबा 0.060 आरे दिनांक 15/05/2013 को संपूर्ण प्रतिफल अदा कर क्रय की जाकर कब्जा प्राप्त किया जाकर सब रजिस्ट्रार देवास के समक्ष रजिस्टर्ड मुख्तयार आम मेरे पक्ष में कर दिया था। उपरोक्त भूमि का रजिस्टर्ड विक्रय पत्र दिनांक 12/05/2014 को मेरे पक्ष में हुआ क्रय दिनांक से उक्त भूमि पर मालिकाना हक से मैं काबिज हूं उक्त भूमि निर्विवाद रूप से विगत वर्षों से मेरे आधिपत्य में है। मेरे द्वारा उक्त भूमि क्रय करते समय उक्त दोनो भूमि पृथक पृथक रूप से राशि 6-6 लाख में क्रय की गई थी जिसकी स्टाम्प ड्यूटी तत्समय ज्यादा होने के कारण समुचित स्टाम्प की जांच हेतु अपील प्रस्तुत की थी जिसके संबंध में प्रकरण प्रचलित होकर कलेक्टर ऑफ स्टाम्प द्वारा उक्त रजिस्ट्रियों को बंधक रखा गया जो प्रकरण निराकृत होकर दिनांक रजिस्ट्री दिनांक 05/12/2022 तथा 16/01/2023 को स्टाम्प शुल्क अदा कर मेरे द्वारा बंधनमुक्त करायी थी। जिसकी मूल प्रति मेरे पास उपलब्ध है। दिनांक 04/05/2024 को मुझे जात हुआ कि धीरज सिंह धाकड पिता बापूसिंह धाकड तथा विनोद धाकड पिता सुमेर सिंह धाकड द्वारा में द्वारा क्रय की गई भूमि सर्वे क्रमांक 364/9 रकबा 0.060 आरे तथा 364/8 रकबा 0.060 आरे को धोखाधडीपूर्वक कूटरचित दस्तावेज तैयार कर अन्य व्यक्ति के पक्ष में रजिस्ट्रार कार्यालय में पंजीकृत कर अंतरित कर दी रजिस्ट्रार कार्यालय से जानकारी प्राप्त करने पर विनोद पिता सुमेर सिंह धाकड द्वारा सर्वे क्रमांक 364/8 रकबा 0.060 भूमि की रजिस्ट्री सुनील सिंह ठाकुर पिता रवि सिंह ठाकुर निवासी जयश्री नगर देवास, त्रिलोक पाटीदार पिता नंद‌किशोर पाटीदार निवासी गंगानगर देवास, इंदजीत शर्मा पिता ओमप्रकाश शर्मा निवासी सनसिटी पार्ट 2 देवास के पक्ष में दिनांक 21/02/2024 को संपादित करा दी जो रजिस्ट्रार कार्यालय देवास में पंजीयन क्रमांक MP108942024A1216893 पर तथा धीरज सिंह पिता बापू सिंह धाकड द्वारा कृषि भूमि सर्वे नंबर 364/9 रकबा 0.060 आरे की रजिस्ट्री सुनील सिंह ह ठाकुर पिता रवि सिंह ठाकुर निवासी जयश्री नगर देवास, त्रिलोक पाटीदार पिता नंदकिशोर पाटीदार निवासी गंगानगर देवास, विजय सोनी पिता सुरेशचंद सोनी निवासी गंगानगर देवास के पक्ष में दिनांक 27/07/2023 को संपादित करा दी थी जो रजिस्ट्रार कार्यालय देवास में पंजीयन क्रमांक MP 108942023A12194688 पर दर्ज हुई है। उक्त विक्रय पत्र ड्राफटिंग में उक्त भूमियों की चतुर्सीमा में जानबूझकर अवस्थित व्यक्तियों का नाम नहीं लिखा गया जिससे कि विक्रय पत्र रिकार्ड को देखने में भ्रम की स्थिति निर्मित हो। इस प्रकार विनोद धाकड पिता सुमेर सिंह धाकड, धीरज सिंह धाकड पिता बापू सिंह धाकड द्वारा अन्य व्यक्तियों से आपसी सांठगांठ कर कूटरचित दस्तावेज के माध्यम से रजिस्ट्रार को भ्रम में रखकर मेरे कब्जे की कृषि भूमि सर्वे नंबर 364/8 रकबा 0.060 आरे तथा 364/9 रकबा 0.060 आरे को बेईमानीपूर्वक रजिस्टर्ड विक्रय पत्र तैयार कर फर्जी रजिस्ट्री संपादित करायी जाकर धोखाधड़ी की। पुलिस ने आवेदन की जांच के बाद आरोपी धीरज सिंह पिता बापू सिंह धाकड़ और विनोद पिता समर सिंह धाकड़ दोनों निवासी जैतपुर के खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया।



ek jameen kee do logon ko rajistree karavaane vaale ke khilaaph dhokhaadhadee ka kesh darj

devaas - beeenapee thaana antargat jetapura mein do logon ne ek jameen ko do baar bech diya. is poore maamale mein patavaaree kee bhoomika bhee sandigdh lag rahee hai. isako lekar peedit ne aavedan dekar shikaayat kee thee. beeenapee thaana pulis mein dheeraj sinh dhaakad aur vinod dhaakad ke khilaaph dhokhaadhadee sahit any dhaaraon mein prakaran darj kiya. milee jaanakaaree ke anusaar bhoopendr sinh pita jasavant sinh gambheer nivaasee sivil lain ne vinod dhaakad aur dheeraj sinh dhaakad ke khilaaph dhokhaadhadee karane ko lekar aavedan diya tha. aavedan mein phariyaadee mein bataaya tha kee dinaak 14/05/2013 ko graam jaitapura tahaseel va jila devaas nivaasee dheeraj sinh dhaakad pita baapoo sinh dhaakad se krshi bhoomi sarve nambar 364/9 rakaba 0.060 aare sampoorn pratiphal ada kar bhoomi par kabja liya tha tabhee mein ukt bhoomi par kaabij hoon dheeraj sinh dhaakad dvaara devaas sab rajistraar ke samaksh aam mukhtayaar naama, ukt jameen ka mere paksh mein kar diya tha jisake sambandh mein sab rajistaar devaas dvaara raseed bhee jaaree kee gaee thee jo mool raseed tatha mool mukhtayaaranaama mere paas hai ukt bhoomi ka rajistard vikray patr dinaank 12/05/2014 ko mere paksh mein sampaadit hua isee prakaar dheeraj sinh dhaakad ke bhateeje vinod sinh dhaakad pita sumer sinh dhaakad nivaasee graam jaitapura tahaseel va jila devaas se krshi bhoomi sarve kramaak 364/8 rakaba 0.060 aare dinaank 15/05/2013 ko sampoorn pratiphal ada kar kray kee jaakar kabja praapt kiya jaakar sab rajistraar devaas ke samaksh rajistard mukhtayaar aam mere paksh mein kar diya tha. uparokt bhoomi ka rajistard vikray patr dinaank 12/05/2014 ko mere paksh mein hua kray dinaank se ukt bhoomi par maalikaana hak se main kaabij hoon ukt bhoomi nirvivaad roop se vigat varshon se mere aadhipaty mein hai. mere dvaara ukt bhoomi kray karate samay ukt dono bhoomi prthak prthak roop se raashi 6-6 laakh mein kray kee gaee thee jisakee staamp dyootee tatsamay jyaada hone ke kaaran samuchit staamp kee jaanch hetu apeel prastut kee thee jisake sambandh mein prakaran prachalit hokar kalektar oph staamp dvaara ukt rajistriyon ko bandhak rakha gaya jo prakaran niraakrt hokar dinaank rajistree dinaank 05/12/2022 tatha 16/01/2023 ko staamp shulk ada kar mere dvaara bandhanamukt karaayee thee. jisakee mool prati mere paas upalabdh hai. dinaank 04/05/2024 ko mujhe jaat hua ki dheeraj sinh dhaakad pita baapoosinh dhaakad tatha vinod dhaakad pita sumer sinh dhaakad dvaara mein dvaara kray kee gaee bhoomi sarve kramaank 364/9 rakaba 0.060 aare tatha 364/8 rakaba 0.060 aare ko dhokhaadhadeepoorvak kootarachit dastaavej taiyaar kar any vyakti ke paksh mein rajistraar kaaryaalay mein panjeekrt kar antarit kar dee rajistraar kaaryaalay se jaanakaaree praapt karane par vinod pita sumer sinh dhaakad dvaara sarve kramaank 364/8 rakaba 0.060 bhoomi kee rajistree suneel sinh thaakur pita ravi sinh thaakur nivaasee jayashree nagar devaas, trilok paateedaar pita nand‌kishor paateedaar nivaasee gangaanagar devaas, indajeet sharma pita omaprakaash sharma nivaasee sanasitee paart 2 devaas ke paksh mein dinaank 21/02/2024 ko sampaadit kara dee jo rajistraar kaaryaalay devaas mein panjeeyan kramaank mp108942024a1216893 par tatha dheeraj sinh pita baapoo sinh dhaakad dvaara krshi bhoomi sarve nambar 364/9 rakaba 0.060 aare kee rajistree suneel sinh ha thaakur pita ravi sinh thaakur nivaasee jayashree nagar devaas, trilok paateedaar pita nandakishor paateedaar nivaasee gangaanagar devaas, vijay sonee pita sureshachand sonee nivaasee gangaanagar devaas ke paksh mein dinaank 27/07/2023 ko sampaadit kara dee thee jo rajistraar kaaryaalay devaas mein panjeeyan kramaank mp 108942023a12194688 par darj huee hai. ukt vikray patr draaphating mein ukt bhoomiyon kee chaturseema mein jaanaboojhakar avasthit vyaktiyon ka naam nahin likha gaya jisase ki vikray patr rikaard ko dekhane mein bhram kee sthiti nirmit ho. is prakaar vinod dhaakad pita sumer sinh dhaakad, dheeraj sinh dhaakad pita baapoo sinh dhaakad dvaara any vyaktiyon se aapasee saanthagaanth kar kootarachit dastaavej ke maadhyam se rajistraar ko bhram mein rakhakar mere kabje kee krshi bhoomi sarve nambar 364/8 rakaba 0.060 aare tatha 364/9 rakaba 0.060 aare ko beeemaaneepoorvak rajistard vikray patr taiyaar kar pharjee rajistree sampaadit karaayee jaakar dhokhaadhadee kee. pulis ne aavedan kee jaanch ke baad aaropee dheeraj sinh pita baapoo sinh dhaakad aur vinod pita samar sinh dhaakad donon nivaasee jaitapur ke khilaaph dhokhaadhadee sahit any dhaaraon mein prakaran darj kiya.


Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News