सीहोर जेल में सुर शंकरा म्यूजिकल ग्रुप ने किया संगीतमय आयोजन aayojan Aajtak24 News

 

सीहोर जेल में सुर शंकरा म्यूजिकल ग्रुप ने किया संगीतमय आयोजन aayojan Aajtak24 News 

सीहोर - सुर शंकरा म्यूजिकल ग्रुप ने सीहोर जिला जेल में एक संगीतमय कार्यक्रम का आयोजन किया, जिसका उद्देश्य बंदियों को अपराध की सोच और अवसाद से दूर रखने का संदेश देना था। इस कार्यक्रम में समूह ने अपनी 129वीं संगीतमयी प्रस्तुति दी। कार्यक्रम का आयोजन अनुशासन और समय की पाबंदी के साथ किया गया, जिसमें मंच पर किसी भी प्रकार के नृत्य प्रदर्शन को गरिमा के विपरीत माना गया। सुर शंकरा म्यूजिकल ग्रुप के कार्यकारी अध्यक्ष एवं मैनेजर इंजी. प्रतीक गर्ग और प्रेरणास्रोत निहारिका गर्ग ने बताया कि इस आयोजन की शुरुआत रीता बोथे और प्रतिभा अग्रवाल की आवाज में 'सत्यम शिवम सुंदरम' गीत से हुई। इसके बाद एक के बाद एक एकल और युगल गीतों की प्रस्तुति दी गई। बेबी अलीज़ा खान ने 'सर जो तेरा चकराये', आयशा खान ने 'कोई कैसे उन्हें ये समझाये', बी. एल. रायकवार ने 'हाल क्या है दिलों का', और प्रतिभा अग्रवाल ने 'ओ राम जी बड़ा दु:ख दीना तेरे लखन ने' गाया। सुर शंकरा म्यूजिकल ग्रुप के संस्थापक एवं अध्यक्ष, भजन लेखक सुरेश गर्ग ने 'जब तेरे चेहरे में वो जादू है' गाया, जिसे सुनकर बंदी भाइयों ने खूब तालियां बजाईं। युगल गीतों में बेबी अलीज़ा खान और आयशा खान ने 'हवा के साथ साथ', प्रतिभा अग्रवाल और बी. एल. रायकवार ने 'वादा करो नहीं छोड़ेंगे हम तेरा साथ' और आयशा खान के साथ सुरेश गर्ग ने 'हुस्न पहाड़ों का' गाकर बंदी भाई-बहनों को खुशियां प्रदान कीं। कार्यक्रम का टाइटल गीत 'हाथों की चंद लकीरों का सब खेल है बस तक़दीरों का' सुरेश गर्ग और बी. एल. रायकवार ने गाया। जिला जेल सीहोर प्रशासन की ओर से सुर शंकरा ग्रुप को प्रशस्ति पत्र भेंट कर सम्मानित किया गया। इस संगीतमय कार्यक्रम में लेपटॉप ऑपरेटिंग की जिम्मेदारी कप्तान बी. एल. रायकवार ने निभाई, एंकरिंग संभागीय अध्यक्ष आयशा खान ने की, और वीडियोग्राफी बेबी अलीज़ा खान ने की। कार्यक्रम के अंत में ग्रुप के संस्थापक सुरेश गर्ग ने जेल प्रशासन का इस सम्मान के लिए आभार व्यक्त किया। इस आयोजन ने बंदियों के बीच सकारात्मक सोच और खुशियों का संचार किया, जिससे वे अपने अपराध और अवसाद से कुछ देर के लिए मुक्त हो सके।



seehor jel mein sur shankara myoojikal grup ne kiya sangeetamay aayojan
seehor - sur shankara myoojikal grup ne seehor jila jel mein ek sangeetamay kaaryakram ka aayojan kiya, jisaka uddeshy bandiyon ko aparaadh kee soch aur avasaad se door rakhane ka sandesh dena tha. is kaaryakram mein samooh ne apanee 129veen sangeetamayee prastuti dee. kaaryakram ka aayojan anushaasan aur samay kee paabandee ke saath kiya gaya, jisamen manch par kisee bhee prakaar ke nrty pradarshan ko garima ke vipareet maana gaya. sur shankara myoojikal grup ke kaaryakaaree adhyaksh evan mainejar injee. prateek garg aur preranaasrot nihaarika garg ne bataaya ki is aayojan kee shuruaat reeta bothe aur pratibha agravaal kee aavaaj mein satyam shivam sundaram geet se huee. isake baad ek ke baad ek ekal aur yugal geeton kee prastuti dee gaee. bebee aleeza khaan ne sar jo tera chakaraaye, aayasha khaan ne koee kaise unhen ye samajhaaye, bee. el. raayakavaar ne haal kya hai dilon ka, aur pratibha agravaal ne o raam jee bada du:kh deena tere lakhan ne gaaya. sur shankara myoojikal grup ke sansthaapak evan adhyaksh, bhajan lekhak suresh garg ne jab tere chehare mein vo jaadoo hai gaaya, jise sunakar bandee bhaiyon ne khoob taaliyaan bajaeen. yugal geeton mein bebee aleeza khaan aur aayasha khaan ne hava ke saath saath, pratibha agravaal aur bee. el. raayakavaar ne vaada karo nahin chhodenge ham tera saath aur aayasha khaan ke saath suresh garg ne husn pahaadon ka gaakar bandee bhaee-bahanon ko khushiyaan pradaan keen. kaaryakram ka taital geet haathon kee chand lakeeron ka sab khel hai bas taqadeeron ka suresh garg aur bee. el. raayakavaar ne gaaya. jila jel seehor prashaasan kee or se sur shankara grup ko prashasti patr bhent kar sammaanit kiya gaya. is sangeetamay kaaryakram mein lepatop opareting kee jimmedaaree kaptaan bee. el. raayakavaar ne nibhaee, enkaring sambhaageey adhyaksh aayasha khaan ne kee, aur veediyograaphee bebee aleeza khaan ne kee. kaaryakram ke ant mein grup ke sansthaapak suresh garg ne jel prashaasan ka is sammaan ke lie aabhaar vyakt kiya. is aayojan ne bandiyon ke beech sakaaraatmak soch aur khushiyon ka sanchaar kiya, jisase ve apane aparaadh aur avasaad se kuchh der ke lie mukt ho sake.

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News