महावीर जयंती हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुई hui Aajtak24 News

 

महावीर जयंती हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुई hui Aajtak24 News

रायगढ़  -  सकल जैन समाज द्वारा महावीर जन्म कल्याणक पर्व परम्परागत श्रद्धा व उल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर प्रातः 8 बजे दरगोपारा स्थित श्वेताम्बर जैन मंदिर से भगवान महावीर स्वामी जी की भव्य शोभायात्रा बाजे- गाजे के साथ निकाली गयी। शोभायात्रा में भगवान महावीर के अहिंसा तथा जियो और जीने दो के संदेश को नारों द्वारा जन - जन तक पहुंचाया गया। बता दे यह शोभायात्रा सत्तीगुड़ी चौक, हंडी चौक, गद्दी चौक , सुभाष चौक, गांधी प्रतिमा होते हुये नाचते - गाते दिगम्बर जैन मंदिर पहुँची। यहाँ प्रभु की बेदी पर मत्था टेकने के पश्चात शोभायात्रा स्टेशन चौक होते हुये वापस श्वेताम्बर जैन पहुंची और विराम लिया। शोभायात्रा के मार्ग में लॉयनेस क्लब, हरीश मेहता परिवार, गुरुसिंह सभा रायगढ़, मेहता पेट्रोल पंप एवं दिगम्बर जैन समाज द्वारा फ्रूटी, गन्ना रस, बटर मिल्क आईसक्रीम व ठंढा पेय वितरित कर जगह- जगह शोभायात्रा का स्वागत किया गया।  अंत में श्वेताम्बर जैन मंदिर में प्रसाद वितरित किया गया। इसके पश्चात श्वेताम्बर मंदिर में स्नात्र पूजा की गयी एवं दोपहर को सकल जैन समाज ने इकट्ठे भोजन प्रसाद ग्रहण किया। रात्रि में प्रभु की स्तुति में भजन- भावना की गयी और एक सौ आठ ज्योति से भगवान जी की आरती की गयी। सभी कार्यक्रमों में श्वेताम्बर , दिगम्बर व तेरापंथी जैन समाज के महिला- पुरुषों व बच्चों ने हर्षोल्लास के साथ भाग लिया। सकल जैन युवक मित्र मंडल ने ऊर्जा के साथ सभी व्यवस्थाओं का सुचारू संयोजन किया। सकल जैन समाज ने पुलिस प्रशासन के कर्मचारियों, सभी सहभागियों व संस्थाओं के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया है।


Mahavir Jayanti concluded with great joy

Raigarh - Mahavir Janma Kalyanak festival was celebrated with traditional devotion and enthusiasm by Sakal Jain Samaj. On this occasion, a grand procession of Lord Mahavir Swami ji was taken out with musical instruments from the Shwetambar Jain temple located in Dargopara at 8 am in the morning. In the procession, Lord Mahavir's message of non-violence and live and let live was spread to the people through slogans. Let us tell you that this procession passed through Sattiguri Chowk, Handi Chowk, Gaddi Chowk, Subhash Chowk, Gandhi Statue and reached Digambar Jain Temple dancing and singing. After paying obeisance at the Lord's altar here, the procession returned via Station Chowk to Shwetambar Jain and took a break. On the route of the procession, the procession was welcomed at various places by Lioness Club, Harish Mehta Family, Gurusingh Sabha Raigarh, Mehta Petrol Pump and Digambar Jain Samaj by distributing fruits, sugarcane juice, butter milk ice cream and cold drinks. Finally Prasad was distributed in Shwetambar Jain Temple. After this, Snatra Puja was performed in the Shwetambar temple and in the afternoon the entire Jain community gathered together and took food prasad. At night, hymns were sung in praise of the Lord and Aarti of the Lord was performed with one hundred and eight lights. Men, women and children of Shwetambar, Digambar and Terapanthi Jain communities participated with enthusiasm in all the programs. Sakal Jain Yuvak Mitra Mandal coordinated all the arrangements smoothly with energy. Sakal Jain Samaj has expressed its gratitude to the employees of the police administration, all the participants and organizations.

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News