सासंद डामोर मे नैतिकता बची हो तो अविलंब इस्तीफा दे-विधायक पटेल | Sansad damor main naitikta bachi hoto avilamb istifa de

सासंद डामोर मे नैतिकता बची हो तो अविलंब इस्तीफा दे-विधायक पटेल

सासंद डामोर मे नैतिकता बची हो तो अविलंब इस्तीफा दे-विधायक पटेल

आलीराजपुर (रफीक क़ुरैशी) - इंदौर में कार्यपालन यंत्री फलोरोसिस नियंत्रण परियोजना के रूप में पदस्थ रहने के दौरान गुमानिसंह डामोर द्वारा समाज के प्रति थोडी सी वफादारी रखी जाती तो अलीराजपुर, झाबुआ जिलों के फलोरोसिस प्रभावित हर गांव व फलिये के लोगो का शुद्ध पानी उपलब्ध होता और ईमानदारी से पानी पहुंचता। लेकिन उस वक्त डामोर अपनी तिजोरी भरने में मशगूल रहे। यदि उनमें थोडी भी नैतिकता बची हो तो उन्हें अविलंब सांसद पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। ये बाते अलीराजपुर विधायक मुकेश पटेल ने मंगलवार को जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कही।

*पीएचई विभाग बना उदासीनता व लापरवाही का गढ* 

विधायक पटेल ने कहा कि लंबे समय से जिले में पीएचई विभाग भ्रष्टाचार, उदासीनता और लापरवाही का गढ बना हुआ है। इस संबंध में मेरे द्वारा अपर सचिव मप्र शासन, मंत्रालय वल्लभ भवन, भोपाल को 3 अक्टूबर 2020 को पत्र भेजकर अवगत करया गया था कि लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग जिला अलीराजपुर के अधिकारियों एवं समस्त कर्मचारियों द्वारा जनप्रतिनिधियों द्वारा अवगत कराई गई समस्याओं को अनदेखा किया जा रहा है। उक्त पत्र में पूर्व में भेजे गए पत्रों का भी उल्लेख किया गया था। विधायक पटेल ने कहा कि मेरे द्वारा विभाग के अवर सचिव को पत्र में बताया था कि मेरे विधानसभा क्षेत्रान्तर्गत भ्रमण के दौरान व मेरे कार्यालय में पीने के पानी की समस्या के चलते नवीन नलकूप खनन, मरम्मत एवं अन्य आवष्यक सामग्री (पाईप, सिलेन्डर आदि) की समस्या संबंधी प्रस्ताव व आवेदन संदर्भित पत्र के माध्यम से भेजे गये थे। किन्तु कार्यपालन यंत्री, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के जवाबदेह अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा भेजे गये प्रस्तावों व आवेदनों पर कोई भी कार्यवाही नहीं की गई। जिसके संबंध में संदर्भित पत्रों के माध्यम ये कई बार लिखित में अवगत कराया गया है। पीएचई विभाग के ऐसे रवैये से क्षेत्र की जनता में काफी आक्रोश उत्पन्न होने से विवाद की स्थिति बनी हुई है। ये रवेया पिछले एक वर्ष से चला आ रहा है। वर्तमान में भी ऐसी ही स्थिति बनी रहीं तो मुझे जनता के साथ आंदोलन के लिए मजबूर होना पड़ेगा। मेरे द्वारा पत्र क्र.ध्1000ध्2020 अलीराजपुर, दिनांक 15.06.2020 के माध्यम से प्रमुख सचिव, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, भोपाल को भी अवगत कराया गया था, किन्तु उसके बाद भी स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री, सहायक यंत्री और उपयंत्रीयों द्वारा क्षैत्र की ग्रामीण जनता की समस्याओं का निराकरण करने के बजाय मौज-मस्ती कर रहें है। कार्यालय में फिल्ड का बहाना बताया जाकर बिना काम के वेतन प्राप्त कर शासन की राशि का दुरूपयोग कर रहें है। और आमजनता परेशान हो रहीं है। क्यों कि अधिकारी और कर्मचारी को तो अपने वेतन से मतलब। जवाबदेह अधिकारी और कर्मचारियों के इस रवैये के कारण प्रषासन की छबी धूमल हो रहीं है। विधायक पटेल ने बताया कि मैने पत्र में अनुरोध किया था कि लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग जिला अलीराजपुर के समस्त अधिकारी और कर्मचारियों पर अनुषासनात्मक कार्यवाहीं की जावें अन्यथा ऐसे रवैये से आम जनता की समस्या का निराकरण होना संभव नहीं है। विधायक पटेल ने सरकार से मांग की है कोर्ट द्वारा सांसद सहित तत्कालीन अन्य अधिकारियों पर दर्ज हुए प्रकरण के संबंध में गंभीरता से कार्यवाही करते हुए दोषियों के खिलाफ शासन स्तर से कडी कारवाई करने के लिए तुरंत कदम उठाकर आदिवासी जनता और समाज को न्याय प्रदान करे।

*आपके जिले व ग्राम में दैनिक आजतक 24 की एजेंसी के लिए सम्पर्क करे +91 91792 42770, 7222980687*

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस ने 48 घंटे में पन्ना होटल संचालक के बेटे की हत्या करने वाले आरोपियों को किया गिरफ्तार girafatar Aaj Tak 24 News

कलेक्टर दीपक सक्सेना का नवाचार जो किताबें मेले में उपलब्ध वही चलेगी स्कूलों में me Aajtak24 News

कुल देवी देवताओं के प्रताप से होती है गांव की समृद्धि smradhi Aajtak24 News