शौर्य साहस और शक्ति का निकला पथ संचलन | Shourya sahas or shakti ka nikla path sanchalan

शौर्य साहस और शक्ति का निकला पथ संचलन

वंदे मातरम के जयघोष गूंजा शहर

शौर्य साहस और शक्ति का निकला पथ संचलन

धामनोद (मुकेश सोडानी) - मंगलवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक द्वारा नगर के विभिन्न मार्गो में पथ संचलन निकाला गया। कतारबद्ध स्वयंसेवक सिर पर काली टोपी, सफेद कमीज पहने, हाथों में छड़ी लिए हुए, बिगुल के साथ, बैंड की ओजस्वी  धुन पर, वंदे मातरम की जय के नारों से मार्ग गुजमान हुआ। पथ संचलन में छोटे से लेकर बड़ा यानी हर उम्र का स्वयंसेवक अपनी पूरी ऊर्जा के साथ भाग लिया।  नगर वासियों सहित, सामाजिक संस्थाओं व व्यापारियों ने संचलन का पुष्प वर्षा से स्वागत किया। संचलन आखरी में खुली जीप में भारत माता  एवं संघ प्रमुख लोगों की तस्वीरें लगी हुई थी। महेश्वर चौराहे पर श्री राम जी की प्रतिमा लगाई गई। पूरे नगर को भगवा में पताकाओ से सजाया गया। पुलिस प्रशासन की कड़ी व्यवस्था भी देखी गई। 

सेकड़ो की संख्या में स्वयंसेवक हुए  एकत्र ,,,

पथ संचलन के पूर्व स्थानीय श्री वेंकटेश बालाजी मंदिर परिसर में ध्वजारोहण कर पथ संचालन की शुरुआत हुई। इसके भी पूर्व बौद्धिक प्रवचन हुआ। बौद्धिक में आए हुए वक्ताओं ने अपने उद्बोधन प्रस्तुत किए।

*दैनिक आजतक 24 अखबार से जुड़ने के लिए सम्पर्क करे +91 91792 42770*

Post a Comment

0 Comments