सात ग्राम पंचायतों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा | Sat gram panchayato se video conferencing ke madhyam se charcha

सात ग्राम पंचायतों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा

सात ग्राम पंचायतों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा

शाजापुर - कलेक्टर श्री दिनेश जैन द्वारा ग्राम पंचायतों के नागरिकों की समस्याओं एवं कोरोना महामारी से बचाव तथा शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी लेने के लिए प्रति वीडियो कांफ्रेंसिंग की जा रही है। वीडियो कांफ्रेंसिंग में ग्राम पंचायतों का चयन कर चर्चा की जाती है। आज संपन्न हुई वीडियो कांफ्रेंसिंग में जनपद पंचायत शाजापुर की 7 ग्राम पंचायतों जिसमें अभयपुर, पनवाड़ी, बज्जाहेड़ा, मोरटा, कांजा, बेरछा एवं बिकलाखेड़ी के लोगों से कलेक्टर ने चर्चा कर जानकारी ली। ग्राम पंचायत बिकलाखेड़ी से चर्चा में यहां के ग्राम प्रधान ने बताया कि नलजल योजना के कार्य के कारण विगत 3 माह से सड़क टूटी है। ग्राम में हाईस्कूल भवन नहीं है। विद्यालय का संचालन अतिरिक्त कक्ष में किया जा रहा है। हाईस्कूल में कुल 90 बच्चें प्रवेशरत हैं। ग्राम के मार्ग पर ट्रांसफार्मर पानी में लगा हुआ है, जिससे दुर्घटना का अंदेशा है, इसे हटाना आवश्यक है। इसी तरह बज्जाहेड़ा के ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम में नलजल योजना की टंकी का निर्माण किया जाना है, इसके लिए उपयुक्त स्थल विभाग द्वारा चयन नहीं किया गया है। कलेक्टर ने यहां उपस्थित कार्यपालन यंत्री पीएचई श्री विजयसिंह चौहान को निर्देश दिये कि आरईएस, पीडब्ल्यूडी एवं पीएचई के सब इंजीनियर का दल बनाकर ग्राम में पेयजल टंकी का उपयुक्त स्थल चयन करें। ग्रामीणों ने नहर के जगह-जगह टूटे होने की जानकारी दी। साथ ही बताया कि नेशनल हाईवे से उनके ग्राम के लिए कनेक्टिविटी नहीं दी गई है, इस कारण गांव के लोगों को दुर्घटना का सामना करना पड़ रहा है। ग्राम पंचायत अभयपुर के प्रधान ने नेशनल हाईवे से कनेक्टिविटी के लिए सर्विस रोड नहीं बनने की जानकारी दी। ग्राम पंचायत के ग्राम पीरखेड़ी में सीमेंट कांक्रिट का कार्य अतिक्रमण होने के कारण रूका है। कलेक्टर ने तहसीलदार को निर्देश दिये कि अतिक्रमण हटवाएं। ग्रामीणों ने बताया कि इस ग्राम के लिए जलोदा एवं अभयपुर ग्राम एक ही फीडर पर हैं, इसे अलग-अलग किया जाना है। ग्राम के भीतरी मार्ग जो लोकनिर्माण विभाग द्वारा बनाया गया है, उसपर नाली निर्माण नहीं किया गया है। सीसी रोड दो वर्ष पूर्व बना है। ग्राम पंचायत पनवाड़ी के प्रधान ने बताया कि ग्राम में आयुर्वेद औषधालय स्कूल भवन में संचालित हो रहा है, इसके लिए भवन की आवश्यकता है। प्रधान ने आवारा पशुओं की समस्या से भी अवगत कराया। कलेक्टर ने ग्राम में वैक्सीनेशन पूर्ण करने के लिए घर-घर जाकर सर्वे करने के निर्देश दिये तथा ग्राम का शतप्रतिशत वैक्सीनेशन कराने के लिए सर्वे कर जो छूटे हुए हैं, उन्हें वैक्सीन लगवाने के लिए निर्देश दिये। कलेक्टर ने ग्राम के हाट बाजार का उपयोग करने के लिए भी कहा। ग्राम कांजा के प्रधान ने बताया कि ग्राम में स्कूल भवन जर्जर हो रहा है तथा तालाब की पाल में लीकेज है। कलेक्टर ने डीपीसी एवं सीईओ जनपद को कार्रवाई करने के निर्देश दिये। ग्राम मोरटा के ग्राम प्रधान ने बताया कि अनुसूचित जाति मोहल्ले में ट्रांसफार्मर 2 माह से बंद है। कराड़िया ग्राम के स्कूल को राईटआफ कर दिया गया है। नवीन भवन की आवश्यकता है। ग्राम पंचायत बेरछा के ग्रामीणों ने बताया कि मक्सी से बेरछा तक की सड़क पर सिवरेज लाईन का काम अधूरा पड़ा है। कलेक्टर ने यहां मौजूद विभागीय अधिकारियों को ग्राम पंचायत के द्वारा बताई गई शिकायतों एवं समस्याओं का त्वरित निराकरण करने के निर्देश दिये। साथ ही कलेक्टर ने वर्चुअल रूप से उपस्थित सीईओ जनपद पंचायत शाजापुर को निर्देश दिये कि ग्राम पंचायत कार्यालय प्रतिदिन खुले और ग्रामीणों के कार्य करें। लोक स्वास्थ यांत्रिकी विभाग जलजीवन मिशन के तहत किये जा रहे कार्यों के वेरीफिकेशन के लिए अन्य विभागों के सब इंजीनियर के लगाकर वेरीफिकेशन कराएं। इस अवसर पर डिप्टी कलेक्टर सुश्री प्रियंका वर्मा, कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी श्री विजयसिंह चौहान, जिला पंचायत से स्वच्छता परियोजना समन्वयक श्री आनंद तिवारी सहित विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारी मौजूद थे।

Post a Comment

0 Comments