राष्ट्रीय कवि मुकेश मोलवा द्वारा रचित धेनु ही धर्म गौ माता के जीवन पर एक सम्पूर्ण ग्रन्थ है-योगेशजी महाराज | Rashtriya kavi mukesh molva dvara rachit dhenu hi dharm go mata ke jivan

राष्ट्रीय कवि मुकेश मोलवा द्वारा रचित धेनु ही धर्म गौ माता के जीवन पर एक सम्पूर्ण ग्रन्थ है-योगेशजी महाराज

राष्ट्रीय कवि मुकेश मोलवा द्वारा रचित धेनु ही धर्म गौ माता के जीवन पर एक सम्पूर्ण ग्रन्थ है-योगेशजी महाराज

मनावर (पवन प्रजापत) - राष्ट्रीय कवि के द्वारा रचित ‘’धेनु ही धर्म’’ में सनातनी संस्कारों का सर्वदा पूज्य गौमाता की महिमा को समर्पित है। जिसके द्वितीय संस्करण का लोकार्पण सोमवार को अम्बीका आश्रम में बालीपुर धाम के संतश्री योगेशजी महाराज के सानिध्यी में सम्प न्न्र‍ हुआ।


             ‘’धर्म वेदों, पुराणों, उपनिषदों आदि ग्रन्थों में वर्णित गौ प्रसंगों का धेनू ही धर्म में काव्यात्मक भावार्थ सहित रोचक प्रस्तुतिकरण किया गया है। यह सम्पूर्ण गौ ग्रन्थ है। इससे गौभक्ति को प्रबलता मिलेगी और मां जगदम्बा की कृपा होने पर ही ऐसे ग्रंथों की रचना सम्भव है। वर्षो की साधना के पश्चात तैयार किया गया यह गौ ग्रंथ अद्भुत है’’। उक्त्त‍ संदेश योगेशजी महाराज ने राष्ट्रीय कवि मुकेश मोलवा द्वारा रचित गौ ग्रन्थ धेनु ही धर्म के द्वितीय संस्करण के लोकार्पण अवसर पर व्यंक्त किए ।


   ब्रह्मलीन परमहंस संतश्री गजाननजी महाराज अम्बिका आश्रम बालीपुरधाम के परम शिष्य संतश्री योगेशजी महाराज, संतश्री सुधाकरजी महाराज, अखिल भारतीय सिर्वी समाज के प्रांतीय प्रमुख कैलाश मुकाती वीआईपी के द्वारा धेनु ही धर्म का द्वितीय संस्करण का लोकार्पण समारोह बालीपुर धाम के दिव्य सानिध्य में इंदौर निवासी वीर रस के राष्ट्रीय कवि व युवाओं के प्रेरणास्रोत मुकेश मोलवा के द्वारा रचित, सनातनी संस्कारों में सर्वदा पूज्य गौ माता की महिमा को समर्पित, धेनु ही धर्म का द्वितीय संस्करण बालीपुर धाम की पावन भूमि में सम्पकन्नध हुआ ।


         इस अवसर पर समाज के मीडिया प्रमुख मुकेश गेहलोत डेहरी, बालीपुर सिर्वी समाज के प्रमुख जगदीश चोयल, नारायण काग, दिलीप हाम्मड़, पन्नालाल गेहलोत, पंच सुनील चोयल, लक्ष्मण काग, राजू देवड़ा व विश्व हिंदू परिषद के मंगलेश सोनी, रामेश्वर राठौड़, मोहित अग्रवाल, अंकित सोनी, मोनेश जैन सहित सभी गुरु भक्त आदि उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments