बिजली कर्मचारियों का आंदोलन | Bijli karmchariyo ka andolan

बिजली कर्मचारियों का आंदोलन

बिजली कर्मचारियों का आंदोलन

शाजापुर (मनोज हांडे) - आज दिनांक 27  -07-2021 को शाजापुर जिला मुख्यालय पर विद्युत वितरण कंपनी में कार्यरत विभिन्न श्रमिक संघ जिसने प्रमुख रूप से भारतीय मजदूर संघ से संबंध बिजली कर्मचारी महासंघ फेडरेशन पावर इंजीनियर एवं संयुक्त मोर्चा के माध्यम से अपनी प्रमुख पांच मांगों के लिए मध्य प्रदेश शासन के मुख्यमंत्री माननीय श्री शिवराज सिंह चौहान एवं ऊर्जा मंत्री माननीय श्री संबोधित मध्य प्रदेश श्री सुनील पटेल को प्रस्तुत किया और अपनी मांगे रखी।

(1) विद्युत कंपनी का निजीकरण नहीं किया जाए एकतरफा विद्युत सुधार अधिनियम 2021 का संसद में पारित नहीं किया जाए

(२)

 संविदा कर्मियों का नियमितीकरण किया जाए

(३) आउटसोर्स कर्मचारियों का संविलियन किया जाए 45 वर्ष से अधिक तथा कम शिक्षण योग्यता का हवाला देकर आउट सोर्स कर्मचारियों को नौकरी से नहीं निकाला जाए

(४) करुणा मृत बिजली कर्मचारियों को कोरोना योद्धा घोषित किया जाए और परिवार को 5000000 की आर्थिक सहायता दी जाए तथा आश्रितों को बिना शर्त अनुकंपा नियुक्ति दी जाए

(५) बिजली कर्मचारियों को केंद्र के समान मंगाई भत्ता दिया जाए रोकी गई वेतन वृद्धि अविलंब प्रदान की जाए विद्युत कर्मियों की लंबित वेतन विसंगति दूर की जाए

आंदोलन में पश्चिमी क्षेत्र बिजली कर्मचारी महासंघ के महामंत्री श्री अशोक कुमार राठौर श्री हरीश जी हमारे संगठन मंत्री श्री चंद्रशेखर दावरे सचिव श्री मनोज दवे कार्यालय मंत्री जगदीश मीणा कोषाध्यक्ष श्री दत्तात्रेय जी श्री सुरेश वर्मा कीर्ति कुमार राहुल पाटीदार फेडरेशन के फेडरेशन अपसारअहमद क्षेत्रीय सचिव श्री प्रदुमन व्यास श्री संकेत त्रिपाठी शकील परवेज श्री सोमनाथ जी मरकाम  और अन्य सदस्य ने उक्त मांगों का यथा शीघ्र निराकरण नहीं होने पर चरण बंदआंदोलन करने का निर्णय लिया गया जिसके तहत दिनांक 7-8-2021 को एक दिवसीय बहिष्कार एवं दिनांक 13-08-2021 को अनिश्चितकालीन काम बंद संयुक्त मोर्चा मध्यप्रदेश शासन के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान पिछले एवं इस वर्ष की वेतन वृद्धि घोषित किए जाने पर उपस्थित कर्मचारियों ने आभार व्यक्त किया।

Comments

Popular posts from this blog

पंचायत सचिवों को मिलने जा रही है बड़ी सौगात, चंद दिनों का और इंतजार intjar Aajtak24 News