धार के इतिहास में पहली बार सफल रुप से हुई फेफड़ों (लंग) की सर्जरी | Dhar ke itihas main pehli bar safal roop se hui lungs ki surgery

धार के इतिहास में पहली बार सफल रुप से हुई फेफड़ों (लंग) की सर्जरी

प्रसिध्द महाजन हॉस्पिटल द्वारा मरीजो को नई सौगात, टीबी के मरीजो के लिए अच्छी खबर 

धार के इतिहास में पहली बार सफल रुप से हुई फेफड़ों (लंग) की सर्जरी

धार (ब्यूरो रिपोर्ट) - धार जिले के सुप्रसिद्ध महाजन हॉस्पिटल द्वारा एक टी बी के मरीज सन्तोष आनंदसिंह वास्केल  उम्र 43 वर्ष निवासी कालीबावड़ी मनावर की  फेफड़ों (लंग)कि सर्जरी सफल रूप से की गई प्राप्त जानकारी के अनुसार  कि टी.बी के मरीज को टी.बी के कारण फेफड़ों (लंग) पर एक झिल्ली बन जाती है जिसके कारण उन्हें अधिक परेशानी का  सामना करना पड़ता है इस सर्जरी द्वारा यह झिल्ली को हटाया जाता है जिससे मरीज के उपचार में आसानी होती हैं डॉक्टर मयंक महाजन द्वारा इस ऑपरेशन के लिए करीब 5 वर्ष से इंतजार किया जा रहा था।

धार के इतिहास में पहली बार सफल रुप से हुई फेफड़ों (लंग) की सर्जरी

उन्होंने आज अपनी टीम के साथ मिलकर सफल रुप से यह ऑपरेशन संपन्न किया है और धार जिले को  एक नई सौगात दी है वही बेहतर यह है कि इसी सर्जरी का खर्च इंदौर या और कहीं बड़े अस्पताल में एक से डेढ़ लाख के बीच आता है और यही यदि मरीज यहां धार में सर्जरी करवाते हैं तो उन्हें यह खर्च लगभग 50000 रुपये वहन करना होगा इस ख़र्च में दवाइयों का खर्च शामिल नही है डॉक्टर मयंक महाजन ने बताया कि इस सर्जरी के समय मरीज को खून की आवश्यकता होती है करीब 1 से 2 बोतल खून मरीज की कंडीशन के अनुसार आवश्यक होता है प्राप्त जानकारी के अनुसार इंदौर के डॉ. मयूर माहेश्वरी और डॉ. मयंक महाजन द्वारा करीब डेढ़ घंटे में  सफल रुप से सर्जरी की गई उन्होंने बताया कि इस सर्जरी में जनरल एनेस्थीसिया की आवश्यकता होती है इसे डॉ. प्रफुल्ल वर्मा द्वारा किया गया।

Post a Comment

0 Comments