धार जिले में रेमडेशिविर इंजेक्शन, संक्रमितों के लिए बेड, वेक्सीन की पर्याप्त उपलब्धता की जाए - विधायक ग्रेवाल | Dhar nile main remdeshivir injection sankramito ke liye bed vaccine ki paryapt

धार जिले में रेमडेशिविर इंजेक्शन, संक्रमितों के लिए बेड, वेक्सीन की पर्याप्त उपलब्धता की जाए - विधायक ग्रेवाल

प्रधानमंत्री एवम प्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम पर जिला कलेक्टर को सौपा पत्र

धार जिले में रेमडेशिविर इंजेक्शन, संक्रमितों के लिए बेड, वेक्सीन की  की पर्याप्त उपलब्धता की जाए - विधायक ग्रेवाल

सरदारपुर (ब्यूरो रिपोर्ट) - सरदारपुर विधायक प्रताप ग्रेवाल एवम जिला कांग्रेस अध्यक्ष बालमुकुंदसिंह गौतम द्वारा शुक्रवार को जिला कलेक्टर आलोक कुमारसिंह को देश के प्रधानमंत्री एवं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम पर पत्र सौंपकर मध्यप्रदेश एवं आदिवासी बाहुल्य धार जिले मे कोरोना महामारी से लडने लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन सहित ऑक्सीजन, वैक्सीन एवम बेड की पर्याप्त मात्रा मे उपलब्धता करवाने की मांग की है। पत्र मे बताया गया है कि कोरोना के बिगडते हालात बहुत चिंताजनक है वर्तमान मे प्रदेश एवं आदिवासी बाहुल्य धार जिले की स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है। आर.टी.पी.सी. की रिपोर्ट भी एक सप्ताह मे मिलने से मरीज गंभीर अवस्था मे पहुॅच जाता है। प्रदेश में कोरोना महामारी को फेले एक वर्ष से अधिक समय हो गया है लेकिन केंद्र एवम राज्य सरकार द्वारा बढ़ते कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए पर्याप्त कदम नही उठाए गए! मध्यप्रदेश मे रेमडेसिविर इंजेक्शन धार जिले के पीथमपुर मे ही निर्मीत हो रहा है लेकिन दुःख की बात यह है कि प्रदेश एवं आदिवासी बाहुल्य धार जिले मे ही कोरोना संक्रमित मरीजो को रेमडेसिविर इंजेक्शन नही मिल पा रहा है। 

धार जिले में रेमडेशिविर इंजेक्शन, संक्रमितों के लिए बेड, वेक्सीन की  की पर्याप्त उपलब्धता की जाए - विधायक ग्रेवाल

जिसके कारण प्रदेश एवं धार जिले मे संक्रमित मरीजो की मौतो का आंकडा निरंतर बढता जा रहा है। मध्यप्रदेश के अस्पतालो मे ऑक्सीजन की भी व्यवस्था नही हो पा रही है प्रदेश के कई शासकीय अस्पतालो मे ऑक्सीजन की उपलब्धता नही होने से मरीजो को परेशानी उठाना पड रही है साथ ही वैक्सीन का लगातार दुसरे देशो मे निर्यात होने से देश, प्रदेश एवं आदिवासी बाहुल्य धार जिले मे नागरियो को समय पर वैक्सीन नही लग रही है आदिवासी बाहुल्य धार जिले को काफी कम मात्रा मे वैक्सीन उपलब्ध हो रही है। पत्र के माध्यम से मांग की गई है कि मध्यप्रदेश एवं आदिवासी बाहुल्य धार जिले मे रेमडेसिविर इंजेक्शन की पर्याप्त व्यवस्था कर इसका अन्य देशो मे निर्यात करने पर रोक लगाई जाए, ताकि प्रदेश एवं धार जिले के कोरोना संक्रमित मरीजो को रेमडेसिविर इंजेक्शन आसानी से पर्याप्त मात्रा मे उपलब्ध हो सके जिससे उनकी जान बच सके। साथ ही ऑक्सीजन, कोरोना वैक्सीन एवम बेड की पर्याप्त मात्रा मे उपलब्धता की जाए। अगर 03 दिवस में उपरोक्त समस्त व्यवस्थाए नही की जाती है तो 01 दिन का उपवास किया जाएगा।



Post a Comment

0 Comments