कलेक्टर ने तराना के सिविल हॉस्पिटल का निरीक्षण कर स्वास्थ्य सुविधाओं का जायजा लिया | Collector ne tarana ke civil hospital ka nirikshan kr swasthya suvidhao ka jayja liya

कलेक्टर ने तराना के सिविल हॉस्पिटल का निरीक्षण कर स्वास्थ्य सुविधाओं का जायजा लिया

तराना में शीघ्र ही आइसोलेशन वार्ड तैयार होगा, सीएमएचओ को दिये निर्देश

कलेक्टर ने तराना के सिविल हॉस्पिटल का निरीक्षण कर स्वास्थ्य सुविधाओं का जायजा लिया

उज्जैन (रोशन पंकज) - कलेक्टर श्री आशीष सिंह एवं पुलिस अधीक्षक श्री सत्येन्द्र कुमार शुक्ल ने आज तराना नगर का दौरा कर तराना के सिविल हॉस्पिटल में जाकर स्वास्थ्य सुविधाओं का जायजा लिया। कलेक्टर ने यहां पर अतिशीघ्र आइसोलेशन वार्ड तैयार करने के लिये सभी आवश्यक उपकरण प्रदाय करने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिये हैं। कलेक्टर ने साथ ही तराना के ग्रामीण क्षेत्र के लोगों से अपील की है कि वे अनावश्यक रूप से शहरी क्षेत्र में आवागमन न करें और कोरोना के संक्रमण से बचें। कलेक्टर ने इसके बाद लक्ष्मीपुरा के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का निरीक्षण भी किया। भ्रमण में एसडीएम श्रीमती एकता जायसवाल एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.महावीर खंडेलवाल मौजूद थे।

कलेक्टर ने तराना के सिविल हॉस्पिटल का निरीक्षण कर स्वास्थ्य सुविधाओं का जायजा लिया

*90 प्रतिशत से अधिक टीकाकरण करवाने वाली आंगनवाड़ी अथवा आशा कार्यकर्ता को 10 हजार रुपये का इंसेंटिव दिया जायेगा*

(रोशन पंकज)उज्जैन कलेक्टर ने तराना भ्रमण के दौरान टीकाकरण कार्य की समीक्षा भी की तथा निर्देश दिये कि किसी भी ग्राम में यदि आंगनवाड़ी कार्यकर्ता या आशा कार्यकर्ता लक्ष्य के 90 प्रतिशत से अधिक टीकाकरण करवाती है तो उसे रेडक्रॉस से 10 हजार रुपये का इंसेंटिव दिया जायेगा। साथ ही उन्होंने जनपद पंचायत सीईओ को निर्देशित किया है कि 90 प्रतिशत से अधिक टीकाकरण करवाने वाले ग्रामों को खेत सड़क योजना का लाभ दिया जाये।

निरीक्षण के दौरान अनुविभागीय दण्डाधिकारी श्रीमती एकता जायसवाल ने कलेक्टर को जानकारी दी कि कोरोना पॉजीटिव आये हुए परिवार व पॉजीटिव व्यक्ति के बाजार में घूमते पाये जाने पर थाना प्रभारी को तत्काल उनके विरूद्ध महामारी अधिनियम में प्रकरण दर्ज करने के निर्देश दिये गये हैं। साथ ही पॉजीटिव आये हुए परिवारों व व्यक्तियों से सम्पर्क के लिये विकास खण्ड स्तरीय दल का गठन किया गया है। दल के प्रभारी प्रतिदिन पॉजीटिव व्यक्तियों से दूरभाष पर चर्चा करते हैं तथा उन्हें कोई चिकित्सकीय आवश्यकता होती है तो वह पूरी करवायेंगे। उन्होंने बताया कि वर्तमान में तराना अनुभाग में कोरोना से 277 एक्टिव मरीज हैं। इनमें से 165 लोग होम क्वारेंटाईन हैं। इसी तरह अब तक 107 लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं। सभी पॉजीटिव मरीजों को दवाईयों का किट उपलब्ध करवाया जा रहा है और यदि उन्हें मेडिकल की सहायता की आवश्यकता होती है तो तत्काल सुविधा प्रदान की जा रही है।

Post a Comment

0 Comments