महंगी हो सकती है बिजली, आधार PAN के बगैर नही मिलेगा कनेक्शन | Mahangi ho sakti hai bijli

महंगी हो सकती है बिजली, आधार PAN के बगैर नही मिलेगा कनेक्शन

महंगी हो सकती है बिजली, आधार PAN के बगैर नही मिलेगा कनेक्शन

यदि आप राजधानी दिल्ली क्षेत्र में रहते हैं तो यह खबर आपके लिए जरूरी है। हो सकता है कि आने वाले समय में दिल्ली में नया बिजली कनेक्शन लेने के लिए Aadhaar (आधार) और PAN (पैन) देना अनिवार्य हो जाए। नए कनेक्शन के लिए ही नहीं, बल्कि मौजूदा ग्राहकों को भी ऐसा करना पड़ सकता है। जो Aadhaar, PAN मुहैया नहीं करवाएंगे, उनकी बिजली काट दी जाएगी। दिल्ली सरकार और बिजली बोर्ड के सामने टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड (टीपीडीडीएल) ने यह प्रस्ताव रखा है। यह व्यवस्था घरेलू श्रेणी में उच्च बिजली की खपत वाले कनेक्शन के लिए होगी। साथ ही ऐसे उपभोक्ताओं के लिए एक अलग दर का प्रस्ताव भी किया गया है। यानी ज्यादा खपत वाले घरेलू कनेक्शन पर बिजली महंगी हो सकती है। टाटा पावर के साथ ही राजधानी की अन्य बिजली वितरण कंपनियों ने भी नियामक विद्युत नियामक आयोग (डीईआरसी) के सामने यह प्रस्ताव रखा है।

इन कंपनियों का कहना है कि उन्हें लगातार घाट हो रहा है, जिससे उबरने के लिए इस प्रस्ताव पर अमल जरूरी है। बता दें दिल्ली में बीएसईएस राजधानी पावर लिमिटेड (बीआरपीएल) और बीएसईएस यमुना पावर लिमिटेड (बीवाईपीएल) भी विद्युत वितरण का काम करती हैं। तीनों बिजली वितरण कंपनियों का कहन है कि 2019-20 में उनका एकल राजस्व करीब 3000 करोड़ रुपए कम रहा। यही नहीं, 31 मार्च 2020 तक उनके राजस्व की कुल कमी बढ़कर 50 हजार करोड़ रुपए के पार चली गई है। इन कंपनियों की मांग पर अब डीईआरसी 26 मार्च को बैठक करेगा। तब विशेषज्ञों से यह भी जाना जाएगा कि इस फैसले का आम उपभोक्ताओं पर क्या असर होगा।

बता दें, दिल्ली में बिजली की दरें अन्य राज्यों से कम है। यहां आम आदमी पार्टी की सरकार सबसिडी देती है। साथ ही गरीबों को मुफ्त बिजली, पानी देना इस सरकार का चुनावी वादा रहा है।

किस बिजली कंपनी को कितना घाटा

बीआरपीएल: 1,565 करोड़ रुपए

बीवाईपीएल: 609 करोड़ रुपए

टीपीडीडीएल: 794 करोड़ रुपए

Post a Comment

0 Comments